असली केसर की पहचान कैसे करें – Kesar How To Know Its Real

5895

असली केसर की पहचान  Asli kesar ki pahchan  होना बहुत जरुरी है। क्योकि एक तो केसर बहुत ज्यादा महँगी  costly होती है। केसर को हम सोने के भाव पर खरीदते है।


इसके अलावा असली केसर में ही वो खुशबू   Aroma  और गुण होते है जो हमें चाहिए । असली केसर या शुद्ध केसर से ही औषधीय गुण प्राप्त हो सकते है और असली शुद्ध केसर ही लाभदायक होती है ।

इसलिए खुद को ठगे जाने से बचाने के लिए असली और नकली केसर का फर्क जानना बहुत जरुरी है। नीचे बताये असली केसर पहचानने के तरीके से आप खुद आसानी से असली और नकली केसर में अंतर कर पाएँगे।

केसर की पहचान

केसर – Kesar / Saffron

केसर को खुशबू , रंग और गुणों के कारण कई प्रकार से खाने पीने की चीजों और दवाओं में काम में लिया जाता है। दुनिया में केसर का सबसे अधिक उत्पादन स्पेन में होता है। दुसरे स्थान पर ईरान आता है।  विश्व का 80 % केसर ये दोनों देश मिल कर पैदा करते है।

भारत में केसर जम्मू के किश्तवाड़ में और कश्मीर के पंपोर गांव में पैदा होती है। इसके फूल बैगनी रंग  के होते है।एक किलो केसर के लिए लगभग 1,50,000 डेढ़ लाख फूल चाहिए होते है। इसीलिए केसर इतनी महँगी होती है।

शुद्ध केसर की पहचान करने के तरीके – How to know saffron is real

shuddh kesar ki pahchan ke tareeke

~ केसर को चखें यदि इसका स्वाद  मीठा लगे तो केसर नकली है। क्योकि असली केसर का स्वाद कड़वा होता है।

~ असली केसर में अनोखी  भीनी -भीनी  खुशबू  होती है। जो मन को भाती  है। ये कुछ असली शहद जैसी होती है।

~ असली केसर के रेशे को पानी में दस पंद्रह मिनट रखकर निकालें। यदि रेशे का रंग वैसा ही रहे तो ये असली है और यदि रेशे का रंग फीका हो जाये तो नकली होती है।

~ पानी में बेकिंग सोडा ( खाने का सोडा ) डालें। इसमें केसर डालें। यदि पानी का रंग पीला हो जाता है तो केसर असली है। यदि पानी का रंग लाल होता है तो नकली है।

~ केसर को पानी में डालें। यदि पानी में तुरंत रंग आ जाये  तो केसर नकली है। असली केसर धीरे धीरे रंग छोड़ता है ।

केसर हल्के गर्म पानी में पूरी तरह से घुल जाता है। यदि रेशे को पानी बहुत देर तक रखने पर भी ना घुले तो केसर को नकली समझना चाहिए।

~  पानी में असली केसर डालने पर गहरा पीला रंग देता है। नकली केसर पानी में लाल रंग देता है।

~ केसर के रेशे को पानी में भिगोकर सफ़ेद कपड़े पर हल्का सा रगड़ें तो कपड़े पर यदि पीला केसरिया रंग दिखाई दे तो केसर असली होता

है। नकली केसर को इस प्रकार रगड़ने से लाल रंग का दाग दिखेगा , बाद में ये कपड़े का दाग पीला पड़ सकता है।

इन्हें भी जानें और लाभ उठायें :

गुलकंद घर पर बनाने की विधि 

देसी नाप तोल सेर छटाँक बीघा का मतलब 

व्रत और पूजन की सम्पूर्ण विधियाँ 

खाना बनाने के लिए लिए तेल कौनसा यूज़ करें 

सुंदरता निखारने के मॉडर्न और घरेलु तरीके 

मिलावट की पहचान घर पर कैसे करें 

टाइल की सफाई का ध्यान कैसे रखें 

मक्खी से छुटकारा पाने के आसान तरीके 

फ्रिज की बदबू , सफाई और उपयोग 

गुलदस्ते में फूल ताजा कैसे रखें 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here