खसखस बादाम के लडडू बच्चो के लिए – Khas Khas Badam Laddu

333

खसखस बादाम के लडडू बच्चो के लिए विशेष हैं।  सर्दी  के मौसम में जिस प्रकार बड़े लोगों के लिए मेथी के लडडू  , गोंद के लडडू  , सोंठ के

लडडू आदि बनाये जाते है उसी प्रकार बच्चों के लिए खसखस बादाम के लडडू बनाये जाने चाहिए ताकि बच्चों को भी शारीरिक और मानसिक

रूप से एक टॉनिक मिल जाये।

 

खसखस में आयरन , कैल्शियम , पोटेशियम , जिंक, आदि खनिज की भरपूर मात्रा होती है। इसे खाने से बच्चों की हड्डियां , दाँत ,मांसपेशिया

मजबूत बनते है तथा दिमागी शक्ति व स्मरण शक्ति में वृद्धि होती है। बादाम और नारियल तो फायदेमंद हैं ही।

बादाम की सम्पूर्ण जानकारी के लिए यहाँ क्लीक करें

खसखस बादाम के लडडू

 

वैसे तो ये बच्चों को किसी भी मौसम में दिए जा सकते है लेकिन सर्दी के मौसम में पूरी तरह हजम हो जाने के कारण अधिक लाभदायक

होते है। ख़सख़स बादाम के लड्डू बनाने की विधि इस प्रकार है :-

 

खसखस बादाम के लडडू की सामग्री

 

गेंहू का आटा          —    1 /2  किलो

घी                           —        2  कप

बादाम                     —   100  ग्राम

खसखस                  —     50  ग्राम

नारियल गोला          —        1  नग ( 200 ग्राम )

कालीमिर्च                 —      2  चम्मच

खरबूजे की मिंगी      —     30  ग्राम

बूरा शक्कर              —   1 /2  किलो

 

बादाम खसखस के लडडू बनाने की विधि

 

—  गेंहू का मोटा आटा छान लें।

—  खसखस को बीन कर बारीक चलनी में डालकर पानी से धो लें ।

—  बादाम  को 5 -6 घण्टे के लिए पानी में भिगो ले। बादाम भीगने के बाद छिलका निकाल दें।

—  ग्राइंडर में पहले खसखस को पीस लें। अब इसी में बादाम डालकर दोनों को साथ में दो तीन बार घुमा कर क्रश कर लें।

पानी नहीं मिलाना है। चाहें तो 2 चम्मच दूध मिला सकते है।

—  नारियल को कददू कस कर ले।

—  कढ़ाई में घी गरम करें।

—  इसमें कालीमिर्च मंदी आंच पर 2 मिनिट तल ले व एक प्लेट में निकाल ले। ठंडी होने पर कालीमिर्च को मोटी मोटी पीस ले।

—  इसी घी में मोटा आटा डालकर मध्यम आंच पर सुनहरा भूरा होने तक सेंक ले।

—  आटा सिक जाने के बाद इसमें पिसी हुई बादाम खसखस डालें  व दस मिनिट तक इसे ओर सेक लें ।

—  बादाम सिक जाने के बाद इसमें खरबूजे की मिंगी डालकर मिला दें और गैस बन्द कर दे।

—  गैस बंद करने के बाद भी थोड़ी देर तक हिलाते रहे ताकि आटा कढाई में नीचे चिपक कर जल नहीं जाये और थोड़ा ठंडा भी हो जाये।

—  थोड़ा ठंडा होने के बाद कसा हुआ नारियल व बूरा चीनी डालकर अच्छी तरह मिलाए।

—  अब हाथ से दबा दबा कर लडडू  बाँध ले यदि घी कम लगे तो थोड़ा घी ओर डाल सकते हैं।

 

खसखस बादाम के लडडू

 

—  बच्चो के लिए दिमागी शक्ति व तन्दुरुस्ती वाले बादाम खसखस के स्वादिष्ट लडडू तैयार है।

—  लडडू बनाकर थाली में रख ले व 2 -3 घण्टे के बाद ठंडे होने पर डिब्बे में भरे। इन्हें आप एक महीने तक उपयोग में ले सकते हैं।

 

खसखस बादाम के लडडू बनाते समय ध्यान रखें  :

 

—  गेंहू का मोटा आटा सुपाच्य होता हैं इसीलिए मोटा आटा ही प्रयोग में लें।

—  आटा सेंकते समय कढ़ाई में तली में भी हिलाते रहे ताकि तली में आटा जले नहीं।

—  कालीमिर्च आँखों के लिए बहुत अच्छी रहती है। इसे खाने से सिरदर्द ठीक होता है। तलकर मिलाने से आसानी से खाई जाती है। तीखापन

कम हो जाता है।

—  खसखस को अच्छी तरह ध्यान से बीनकर कंकर कचरा आदि निकाल लेना चाहिए ।

—  नारियल सेल्स बनाने में सहायक हैं जो बढ़ते बच्चो के विकास के लिए फायदेमंद हैं। नारियल में एंटीऑक्सिडेंट होते हैं।

—  लडडू खाने के बाद दूध पीना फायदेमंद रहता है।

—  यह लाडू बच्चे व बड़े सभी खा सकते है।

 

क्लीक करके इन्हें भी जानें और लाभ उठायें :

 

गाजर का हलवा स्वादिष्ट बनाने की विधि 

बादाम का हलवा आसानी से कैसे बनायें 

गुड़ मूंगफली की चिक्की बनाने की विधि 

पिस्ते बादाम वाला स्पेशल दूध 

नाश्ता करना क्यों जरूरी होता है  

गुड़ अजवाइन पाक बनाने की विधि न्यू मदर लिए  

मेथी के लड्डू बना कर खाएं और फिट रहें  

गोंद के लड्डू बनाने की विधि   

बच्चे के जन्म के बाद प्रसूता के लिए हरीरा बनाने की विधि  

तिल पपड़ी ब्यावर वाली घर पर कैसे बनायें  

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here