ग्वारपाठे के लडडू बनाने की विधि – Aloe vera ke Laddu

504

ग्वार पाठे के लडडू Aloe vera laddu सर्दियों में बनाये जाते है। यह लाभदायक और पौष्टिक नाश्ता हैं। जोड़ दर्द व गठिया की बीमारी में यह बहुत लाभदायक होते हैं। एलोवेरा का लड्डू महिलाओं के लिए  फायदेमंद है। ये महिलाओं की हर तरह की कमजोरी को दूर करता है। प्रसव के बाद की कमजोरी को दूर करने के लिए इस लड्डू को सुबह शाम दूध के साथ खाने से फायदा होता है।ग्वारपाठे के लडडू

ये लिवर के लिए टॉनिक का काम करता है और पाचन क्षमता को मजबूत बनाता है। यह  खून को साफ करता है और शरीर में खून की कमी को दूर करता है। आइये जानें ग्वारपाठे के लडडू या एलो वेरा के लडडू Aloe vera laddu कैसे बनाते हैं। यहाँ दो तरह की विधि बताई गई है आप कोई भी विधि अपना सकते हैं।

विधि ( 1 )

ग्वारपाठे के लडडू बनाने की सामग्री

 Aloe vera Laddu Ingredients

ग्वारपाठा                                 500  ग्राम

गेंहू का आटा                             250  ग्राम

घी                                        150  ग्राम

बूरा                                       125  ग्राम

खाने वाला गोंद                           100  ग्राम

मेवे                                     पसंद अनुसार

ग्वारपाठा लडडू बनाने की विधि

Aloe vera laddu ki vidhi

—   गोंद में नमी हो तो इसे कुछ देर धूप में रखे ताकि  नमी निकल जाये।

—   गोंद को घी में धीमी आँच पर गुलाबी डीप फ्राई करके प्लेट में निकाल लें व ठंडा होने पर पीस कर छोटे टुकड़े कर लें।

—   मेवे बारीक़ काट लें।

—   ग्वारपाठा धोकर किनारे वाले काँटे निकाल दें व इसका गुदा यानि जेल निकाल लें ।

—   500 ग्राम ग्वारपाठा में लगभग 250 ग्राम गूदा निकलता है ।

—   गेंहू के आटे में चार चम्मच घी का मोयन डालकर हाथ से मिक्स करें व एलोवेरा जेल इसमें मिलाकर टाइट आटा गूँथ लें।

—   एलोवेरा जेल से आटा लगाने के बाद इससे मुठिये बना ले।

—   कढ़ाई में घी गर्म करे व धीमी आंच पर सुनहरे होने तक डीप फ्राई करें।

—   मुठिये तलने के बाद ठंडे होने दे। ठंडे होने पर मुठिये को हमाम दस्ते या मिक्सी में पीसकर मोटी चलनी से छान ले।

—   मुठिये तलने के बाद बचे हुए घी में से थोड़ा घी लेकर मुठिये के चूरमे को वापस सेके।

—   सिकने के बाद गैस बंद करे व इसमें बूरा , तला हुआ गोंद व अपनी पसंद के मेवे मिलाकर हाथ से गोल गोल लडडू बना ले।

—   ग्वार पाठे के पौष्टिक स्वादिष्ट लडडू तैयार है।

विधि ( 2 )

एलोवेरा लडडू बनाने की सामग्री

Gwar patha laddu samagri

ग्वारपाठा जेल                        300  ग्राम

दूध                                      1  लीटर

गेंहू का आटा                         500  ग्राम

बूरा                                   400  ग्राम

गोंद                                   150  ग्राम

मेवे                                    पसंदानुसार

एलोवेरा लडडू बनाने का तरीका

Gwarpatha Laddu Vidhi

—   ग्वारपाठे का गूदा व दूध को किसी नानस्टिक पैन में गैस पर चढ़ाये और लगातार हिलाते रहें ताकि दूध चिपके नहीं ।

—   हिलाते हुए पन्द्रह से बीस मिनिट में दूध गाढ़ा हो जायेगा इसे हिलाते हुए ओर पकाते रहे इसका सारा पानी सूख जायेगा और  इसका मावा बनकर तैयार हो जायेगा।

—   गोंद को घी में डीप फ्राई कर लें।

—   मेवे को बारीक़ काटकर तैयार कर लें।

—   एक कढ़ाई में घी डालकर उसमे गेंहू का आटा डालें धीमी आँच पर हिलाते हुए सुनहरा होने तक सेंके।

—   आटा सिक जाने पर इसमें ग्वारपाठा व दूध से बनाया हुआ मावा भी मिलाकर पाँच मिनिट ओर सेंक लें।

—   अब गैस बंद कर दे इसमें पहले से तैयार गोंद , मेवे व बूरा डालकर मिक्स करके गोल गोल लडडू बना लें।

—   एलोवेरा लडडू पौष्टिक नाश्ते के लिए तैयार है।

ग्वारपाठे के लडडू के बारे में अन्य जानकारियाँ

Gwar patha laddu tips

—    ग्वारपाठा लडडू बनाने के लिए मोटे गूदे वाला ग्वारपाठा लें।

—   सुबह नाश्ते में अपनी पाचन शक्ति के अनुसार 50 ग्राम से 100 ग्राम तक लडडू खा सकते हैं।

—   लड्डू खाने के बाद गुनगुना दूध का सेवन करें।

—   लड्डू के सेवन के दौरान तेल , खटाई का प्रयोग नहीं करें या  कम से कम करें तो आपको अधिक लाभ मिलेगा।

—   एक बार में अधिक मात्रा में ना बनायें। 15 दिन के लडडू ही बनाए।

—   ग्वारपाठा को चख कर देख लें। यदि कसैला स्वाद हो तो इसके गूदे में एक चम्मच नमक या नींबू का रस लगा कर दस मिनिट के लिए रख दे। दस मिनिट बाद नमक लगे गूदे को पानी से अच्छी तरह धो लें इससे ग्वार पाठे का कसैलापन खत्म हो जाता हैं।

 

क्लिक करके इन्हे भी जानें कर लाभ उठायें :

 

तिल गुड़ के लडडू सर्दी वाले 

गोंद के पौष्टिक लडडू 

मेथी के लडडू 

मूंगफली की चिक्की 

बादाम का हलवा 

बेसन के लडडू 

गुलगुले मीठे पुए 

नारियल के लडडू 

गुझिया बनाने की आसान विधि 

मूंग की दाल का हलवा 

गाजर का हलवा 

पूरन पोली 

पीले मीठे चावल 

खसखस बादाम के लड्डू 

हरीरा 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here