चावल सफ़ेद और खिले खिले कैसे बनायें – Rice Cooking Tips

4302

चावल लगभग हर घर में पकाए जाते है । चावल बनाते समय कुछ बातों का ध्यान ना रखा जाये तो चावल कच्चे रह सकते हैं, ज्यादा पक कर गल सकते हैं या उसमे स्वाद और खुशबु नहीं मिल पाती।आइये जानते है वो कौनसी बातें हैं


चावल की खुशबू और स्वाद चावल की जो क्वालिटी हम बाजार से लेकर आते है उस पर बहुत निर्भर करती है। बाजार में कई तरह के चावल मिलते है । जैसे परमल , सेला , बासमती आदि अलग प्रकार की क्वालिटी मिलती है।

अलग अलग डिश बनाने के लिए अलग वेरायटी काम में ली जाती है। इडली डोसा बनाना हो , पुलाव बनाना हो , बिरयानी बनानी हो , खिचड़ी बनानी हो या सादा चावल ही बनाने हो तो अलग प्रकार के चावल लेने से परिणाम अलग मिलते हैं।

rice receipe

बासमती चावल अपनी खुशबू और स्वाद के कारण पूरी दुनिया में जाना जाता है । इसके,अलावा ब्राउन राइस हेल्थ के प्रति सचेत लोगों में लोकप्रिय है। चावल के कई साइज़ भी बाजार में मिलते है ।

अलग अलग साइज़ के हिसाब से इनके नाम दिए गए है। जैसे दुबार , तिबार ,मोगरा , कनकी , नक्कू आदि। इनके बारे में जानने के लिए दुबार यहाँ क्लिक करें .

चावल जितना अधिक पुराना होता है उतना ही अच्छा होता है। पकने के बाद पुराने चावल का स्वाद और खुशबू दोनों बढ़ जाते है। नीचे दिए हुए उपाय काम में लें और सफ़ेद , खिले हुए और स्वादिष्ट चावल बनाकर आनंद उठायें।

चावल कैसे बनायें – Rice Cooking Tips

कृपया ध्यान दे : किसी भी लाल रंग से लिखे शब्द पर क्लीक करके उसके बारे में विस्तार से जान सकते हैं। 

बासमती चावल पकाने का सही तरीका – Basmati Chaval kaise banaye

—  एक बर्तन में दो कप पानी लेकर उबलने के लिए रखें। पानी उबलने लगे तब एक कप चावल डाल दें। एक छोटा चम्मच नमक डाल दें , आधा चम्मच घी डाल दें , दो तीन बूँद नींबू का रस डाल दें।

ढ़क्कन लगाकर मध्यम आंच पर दस मिनट पकाकर गैस बंद कर दें। ढ़क्कन दस मिनट तक ओर लगा रहने दें। सफ़ेद और खिले खिले चावल का आनंद उठाएँ।

प्रेशर कुकर में चावल कैसे बनायें

pressure cooker me rice pakana

यदि प्रेशर कुकर में चावल पका रहे हों तो उपरोक्त विधि के अनुसार सामग्री पानी , चावल , नमक , घी और नींबू का रस प्रेशर कुकर में डाल कर गैस पर चढ़ा दें। कुकर की एक सीटी बजते ही तुरंत गैस बंद कर दें। कुकर ठंडा होने के बाद ढ़क्कन खोलें। खिले खिले चावल तैयार मिलेंगे।

—  कुछ लोग पानी अधिक लेकर चावल उबालते है। फिर एक्स्ट्रा पानी छानकर निकाल देते है जो मांड कहलाता है। लेकिन इस तरीके में पौष्टिक तत्व मांड के साथ निकल जाते है।

—  पुराने चावल की अपेक्षा में नए चावल जल्दी गल जाते है इसलिए ध्यान से पकाएँ।

—  चावल पकाते समय पानी के साथ नींबू का रस मिलाने से चावल अधिक खिले , सफ़ेद व स्वादिष्ट बनेंगे।

—  ब्राउन राइस को फ्रिज में स्टोर करके रखना चाहिये। क्योंकि ये जल्दी ख़राब हो जाते है।

—  यदि चावल भिगो कर बनाना चाहें तो जिस पानी में भिगोये है उसी में पकाएँ। ताकि पौष्टिक तत्व बेकार नहीं जाएँ।

—  चावल पक जाने के दस मिनट बाद तक उसका ढक्कन नहीं खोलें चावल आकार में बड़े बनेंगे।

—  चावल का मांड फेंके नहीं। ये पौष्टिक होता है। इसे आटा गूंथने में काम में लें। या दाल में डाल दें।

—  चावल पकाने के लिए पहले धोते है। इन्हे दो बार से ज्यादा नहीं धोना चाहिए अन्यथा चावल की ऊपरी परत के बहुत पौषक तत्व पानी के साथ निकल जाते है।

—  चावल पकाने से पहले दो चम्मच नमक डाले हुए पानी में भिगो दें चावल टूटेंगे नहीं खिल जायेंगे।

—   पहले सूखे चावल को जरा से घी या तेल में सेक लें , फिर पानी  डालकर उबालें चावल अधिक खिले व स्वादिष्ट बनेंगे।

—  चावल गल चुके हों लेकिन पानी अधिक दिख रहा हो तो चावल के ऊपर ब्रेड रख दें। ब्रेड पानी सोख लेगी। आपको खिले हुए चावल मिल जायेंगे।

–चावल या खिचड़ी अधिक बच जाये तो उसमे अपनी पसंद से मसाले मिलाकर एक प्लास्टिक पर टुकड़ों में बिछाकर धूप में सूखा लें। सूखने के बाद इनको फ्राई करके चाय कॉफी के साथ स्नेक्स की तरह खा सकते है।

चावल ख़राब होने से कैसे बचायें / चावल में क्या मिलायें ताकि कीड़े ना लगें 

—  चावल को स्टोर करने के लिए उसमे साबुत हल्दी एक गांठ डाल दें इल्ली नहीं पड़ेगी।

—  चावल में बोरिक पाउडर मिक्स करके रखें। चावल ख़राब नहीं होंगे। लेकिन बनाने से पहले धोना ना भूलें।

—  यदि चावल अधिक समय तक स्टोर करके रखने हो तो चावल में कैस्टर ऑइल मिला कर रखें। कीड़े नहीं पड़ेंगे।

इन्हें भी जानें और लाभ उठायें :

गन्ने का रस पीने के फायदे और नुकसान 

सफ़ेद मूसली की ताकत सिर्फ पुरुषों के लिए नहीं 

मानसिक तनाव टेंशन से बचने के उपाय 

विटामिन डी के लिए कितनी धुप लेनी चाहिए 

गर्भ निरोध के साधन और उनके फायदे नुकसान 

यूरिन इन्फेक्शन से कैसे बचें 

सुबह का नाश्ता जरुरी क्यों होता है 

गोंद  के लडडू बनाने की विधि 

होंठ फटने के कारण और घरेलू उपाय 

जोड़ों का दर्द ,गठिया कारण और उपचार 

मिलावट की पहचान घर पर कैसे करें 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here