जलने पर घरेलु उपचार – Gharelu nuskhe for burns

12645

जलने पर घरेलु उपचार ही सबसे पहले याद आते हैं। जलने की घटनाएँ Burn आम जीवन सबके साथ होती हैं। गर्म तेल से जलना , गर्म पानी से जलना , गर्म बर्तन से जलना , गर्म प्रेस चिपकना आदि घटना होती रहती हैं।


कम उम्र में असावधानी के कारण अक्सर जल जाने की घटना हो जाती है। महिलाओं को रसोई में काम करते वक्त छोटी मोटी जलने की चोट लगती रहती है। दीवाली पर पटाखे से जल जाने पर  हॉस्पिटल या डॉक्टर के क्लिनिक पर पहुँचने वाले लोगों की संख्या बढ़ जाती है।

जलने से त्वचा को हुए कितना नुकसान हुआ है उस पर इलाज निर्भर करता है। यदि सिर्फ ऊपरी स्किन पर थोड़ा सा जला है तो दो तीन दिन जलन होकर ठीक हो जाता है। थोड़ा ज्यादा जला है तो फफोले हो जाते है जो दर्द करते है। ठीक होने में एक -दो सप्ताह भी लग सकते है और जलने का निशान भी हो सकता है।

मामूली जलने पर घरेलु उपचार ( Jalne par gharelu nuskhe)  करने पर जलन , दर्द , फफोले बनने और निशान बनने से बचाव किया जा सकता है।

जलने पर घरेलु उपचार

जलने पर घरेलु उपचार – Gharelu Nuskhe For Burns

Jalane par gharelu nuskhe

—  जलने पर सबसे पहला और अच्छा उपाय पानी है। तुरंत जले हुए अंग को या तो ठण्डे पानी में डूबा दें या लगातार उस हिस्से पर ठण्डा पानी डालें। बर्फ नहीं लगानी चाहिये। पानी का तापमान 10 -25 डिग्री C  होना चाहिये। पानी में भीगा कपड़ा भी बदल बदल कर जले हिस्से पर रख सकते है।

water burn

—  आग से जलने पर ( aag se jalne par ) असली हींग को पानी में घोल लें। पानी सफ़ेद रंग का हो जायेगा। जले हुए स्थान पर घंटे-दो घंटे के अंतराल से ये पानी लगाते रहे। जलन ( Jalan ) मिटेगी फफोले नहीं पड़ेंगे।

—  केले को मसल कर नरम करके जले हुए पर लगाने से जलन दूर होती है। फफोले ( Fafole ) नहीं होते।

—  जले हुए स्थान पर कच्चे बथुए का रस बार बार लगाने से आराम मिलता है।

—  लौंग को शहद के साथ पीसकर लगाने से घाव नहीं बनता और जलन शान्त हो जाती है। जलने हुए सफ़ेद निशान  Jalne ke nishan पर शहद लगाकर लगातार पट्टी रखने से निशान ठीक हो जाता है।

—  बेर की कोमल पत्तीयां दही के साथ पीसकर लगाने से जलने का निशान ( Jalne ka nishan ) नहीं रहता।

—  नमक का पानी में गाढ़ा घोल बनाकर लगाने से छाले ( chhale ) नहीं पड़ेंगे।

—  फिटकरी को बारीक पीसकर देसी घी में मिलाकर लगाने से जले हुए में आराम मिलता है।

—  प्याज को पीसकर जले हुए स्थान पर लगाने से जलन ( Jalan ) में आराम आता है।

—  पीपल की छाल को बारीक पीसकर लगाने से जलने से हुआ घाव ( Jalne ka ghav ) ठीक हो जाता है।

—  तुलसी का रस नारियल के तेल में मिलाकर जले हुए स्थान पर लगाने से जलन , छाले , घाव सभी में आराम  मिलता है।

—  जले पर तुरंत सफ़ेद टूथपेस्ट लगाने से जलन ( jalan ) ठीक होगी छाले नहीं पड़ेंगे।

—  ग्लिसरीन लगाने से जलन में आराम मिलता है और फफोले नहीं होते।

जलने पर घरेलु उपचार करने से यदि लाभ न हो तो डॉक्टर से सम्पर्क करना चाहिए। बहुत अधिक जल जाने पर चिकित्सक की देखरेख में ही इलाज करवाना चाहिए।

इन्हें भी जाने और लाभ उठायें :

मानसिक तनाव टेंशन से बचने के उपाय 

विटामिन डी के लिए कितनी धूप लेनी चाहिए 

मसूड़ों से खून आने के कारण और घरेलु उपाय 

यूरिन इन्फेक्शन होने के कारण और घरेलु नुस्खे 

सुबह का नाश्ता क्यों जरुरी होता है 

होंठ फटने के कारण और घरेलु उपाय 

गर्भ निरोध के साधन और उनके फायदे नुकसान 

कैल्शियम की कमी दूर कैसे करें 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here