फल गुने बनाने की विधि गणगौर पूजा के लिए – Gangaur fal recipe

144

फल गुने Fal Gune गणगौर की पूजा में काम आने वाला एक व्यंजन है। इसे आटे से बनाया जाता है। गणगौर की पूजा करते समय माता को इस फल का भोग लगाया जाता है।

गणगौर माता व ईशरजी की पूजा में अलग अलग तरह के भोग बनाये जाते है जैसे फल ,  गुने , घेवर , ढोकले , पूरी , हलवा , खीर आदि। हर परिवार की अपनी अलग परम्परा होती है कुछ परिवारों में फल का भोग लगाया जाता है।

फल गुने

फल Phal भी अलग अलग तरीके से बनाये जाते हैं। इन्हें तल कर भी बनाया जा सकता है और पानी में उबाल कर भी बना सकते है। कुछ लोग इन्हें कच्चा ही गणगौर की पूजा में चढ़ाते है।

अपने पारंपरिक रिवाज के अनुसार तले हुए फल , कच्चे फल या उबले हुए फल बनाने चाहिये। सभी प्रकार की विधियां यहाँ बताई जा रही हैं।

फल Fal गुने बनाने की विधि इस प्रकार है :

फल बनाने की सामग्री- Fal ki samagri

गेंहू का आटा                              1  कप

घी                                       3  चम्मच

गुड़                                    1 /2  कप

पानी                                   1 /2  कप

इलायची पाउडर                   1 /4  चम्मच

तेल                                 तलने के लिए

पिसी चीनी                             1  चम्मच

फल बनाने की विधि – Fal recipe

—  आधा कप गुड़ को बारीक़ काट लें।

—  आधा कप गुनगुने पानी में कटा हुआ गुड़ डालें व पूरा गुड़ घुलने तक हिलाते रहें।

—  पानी में गुड़ घुल जाने के बाद छान लें। इसे अलग रख लें।

—  एक बर्तन में गेंहू का आटा छान लें।

—  इस आटे में घी का मोयन और इलायची पाउडर डालकर हाथ से अच्छी तरह मिला लें।

—  अब इसमें गुड़ वाला पानी डालकर सख्त आटा गूँथ लें ।

—  आटे से छोटी सी लोई लेकर ,हथेली पर रखकर दूसरे हाथ की अँगुलियों (अंगूठे के पास वाली और बीच वाली ) व अंगूठे की सहायता से दबाते हुए तिकोना ( पिरामिड जैसा ) आकार बना लें ।

—  इसी तरह एक एक करके सारे आटे के फल बना लें।

—  एक कढ़ाई में फल तलने के लिए तेल गरम करें।

—  तेल गर्म हो जाये तो फल तेल में डालकर  मध्यम  आंच पर तल लें।

—  इन्हें हल्के हाथ से हिलाते हुए तलें ताकि सभी एक समान तलने में आवें तथा आपस में चिपके नहीं।

—  इन्हें सुनहरे होने तक तल लें ।

—  सुनहरे होने के बाद कढ़ाई से निकाल लें व थोड़ी सी पिसी चीनी छिड़क दें।

—  फल बन कर तैयार हैं।

फल Fal बनाते समय ध्यान रखें – Tips

—  गुड़ को गुनगुने पानी में घोलने से जल्दी घुल जाता हैं लेकिन आटा लगाते समय गुड़ वाला पानी ठंडा होना चाहिए।

—  फल को मध्यम व धीमी आंच पर तलना चाहिए। तेज आंच पर फल कच्चे रह जाएंगे अतः इन्हें मध्यम आंच पर तले।

—  फल को तेल में डालने के तुरन्त बाद हिलाने से बिखर या फट सकते है अतः थोड़ा पकने के बाद ही हल्के हाथ से हिलाना चाहिए।

—  पिसी चीनी फल को तल कर निकालने के तुरन्त बाद ही छिड़क देनी चाहिए।

कच्चे फल गुने – Kachche Fal

—  कच्चे फल बनाने के लिए एक कप गेंहू के आटे में पानी मिलाकर कठोर आटा गूँथ लें।

—  कच्चे फल के आटे में नमक या मीठा नहीं डालते हैं।

— कच्चे फल बनाने के लिए आटे से छोटी सी लोई लेकर उसे हथेली पर रखकर  अंगुलियों व अंगूठे की सहायता से दबाते हुए तिकोना (पिरामिड जैसा ) आकार बना लें।  इसी तरह एक एक करके सारे आटे से फल बना लें।

—  कच्चे फल इसी अवस्था में गणगौर को चढ़ाये जाते है।

उबाल कर बनने वाले फल गुने – Boiled Fal

—  उबाल कर बनाये जाने वाले फल बनाने के लिए ऊपर बताये अनुसार कच्चे फल बना लें।

—  एक बर्तन में पानी उबलने के लिए रखें। जब पानी उबलने लगें तो इसमें कच्चे फल डाल दें।

—  थोड़ी देर में फल ऊपर आ जाएंगे , ऊपर आने के बाद इन्हें दो मिनिट और पकने दें।

—  पके हुए फल पानी से निकाल कर रख लें। फल तैयार हैं।

—  कच्चे फल स्टीम करके भी पकाये जा सकते हैं।

—  उबले या स्टीम किये हुए फल घी बूरे के साथ  खाये जा सकते हैं।

इन्हें भी जाने और लाभ उठायें :

गणगौर की पूजा सोलह दिन / नमकीन गुणे बनाने की विधि / मीठे गुणे पूजा के लिए  गणगौर के गीत / गणगौर का उद्यापन / केर सांगरी की सब्जी / साबूदाना खिचड़ी / आलू का चिल्ला / सिंघाड़े के आटे का हलवा / बादाम का हलवा / ठंडाई /

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here