मुँह में छाले मिटाने के असरदार घरेलु नुस्खे – Mouth Ulcer Ke Gharelu Nuskhe

4099

मुँह में छाले Mouth Ulcer हो जाना एक सामान्य सी बात होती है। लगभग सभी लोग कभी न कभी मुँह में छाले की परेशानी से गुजर चुके होते है। छाले होने पर खाना पीना मुश्किल हो जाता है। मुँह में दर्द होता रहता है।

बोलने मे भी परेशानी हो सकती है। मुँह में किसी भी नर्म स्थान पर छाले हो सकते है। जीभ पर , होठों पर अंदर की तरफ , अंदर गालों में , मसूड़ो में , या तालुए पर।

यह एक प्रकार का खुला घाव है। देखने पर दर्द वाले स्थान पर गोल या ओवल शेप का छोटा सफ़ेद या पीला चकत्ता सा नजर आता है। उसके आस पास की स्किन लाल दिखाई देती है। उस जगह सूजन सी आ जाती है। खाने पीने का सामान वहाँ अड़ने पर दर्द होता है। छाले एक या एक से अधिक हो सकते है। 

मुँह में छाले

मुँह में छाले होने का कारण – Reason of Mouth Ulcer

Muh me chhale ki vajah

मुँह में छाले होने के कई कारण हो सकते है। जिनमे से कुछ कारण इस प्रकार है।

—  पेट ख़राब होने से छाले हो जाते है अतः कब्ज नहीं हो इसका ध्यान रखे।

—  कुछ विशेष विटामिन जैसे विटामिन B 12 की कमी , आयरन की कमी या ज़िंक की कमी।

—  वायरल इन्फेक्शन।

—  मानसिक तनाव के कारण।

—  किसी दवा के कारण।

—  आनुवंशिकता। परिवार के अन्य सदस्य को भी होते हों।

—  गुटका या सिगरेट आदि नशे का सेवन। पढ़ें नशे से मुक्त होने के उपाय ।

—  एलर्जी।

—  महिलाओं में हार्मोन का बदलाव ( माहवारी Period से पहले या मेनोपोज़ के बाद )

—  इम्यून सिस्टम की गड़बड़ी।

—  किसी नुकीले दाँत का किनारा चुभ रहा हो ।

—  नकली दाँत गलत तरीके से लग गए हों ।

—  टूथ पेस्ट में मौजूद कुछ तत्व भी छाले पैदा कर सकते है।

मुँह में छाले का घरेलु उपचार – Gharelu Upchar For Mouth Ulcer

Muh me chale ke Gharelu Nuskhe

मुँह में छाले जल्दी ठीक होते है , यदि कम मिर्च मसाले वाला खाना खाएं और पेट साफ रखें। जिस प्रकार के खाने से अक्सर आपको छाले हो जाते है वह नहीं लेना चाहिए।

ऐसा खाना जिसके कारण मुँह सूखता हो ना लें। मुँह की सफाई का ध्यान रखें। एसिडिक फ़ूड अधिक ना लें।

तनाव के कारण छाले हो रहे हों तो तनाव कम करने के उपाय करें। टेस्ट कराने पर विटामिंन या मिनरल की कमी निकले तो इनका पूरा कोर्स लें। सॉफ्ट ब्रिसल्स वाला टूथब्रश काम में लें।

इसके अलावा मुँह में छाले मिटाने के घरेलु नुस्खे जो नीचे दिये गए है , उनका उपयोग करें। जरूर आराम मिलेगा।

—  रात के भोजन के बाद कुछ दिन एक छोटी हरड़ मुँह में रखकर चूसें। इससे पाचन तंत्र की खराबी से या पेट में कीड़े की वजह से होने वाले छाले मिट जाते है।

मुँह में छाले

—  छोटी हरड़ को बारीक पीस लें। इसे दिन में तीन चार बार छाले पर लगाएं। इससे छाले ठीक हो जाते है।

—  तुलसी की दो तीन पत्तियां सुबह शाम चबाकर ऊपर से दो घूँट पानी पी लें।

मुँह में छाले

—  चार चम्मच ग्लिसरीन में एक चुटकी भुना हुआ सुहागा का पाउडर मिला लें। यह ग्लिसरीन दिन में तीन चार बार मुँह में छाले पर लगाएं। इससे बहुत जल्द छाले ठीक हो जाते है।

—  बच्चों को होने वाले छाले के लिए आधा चम्मच पिसी मिश्री में दो चुटकी पिसा हुआ कपूर मिला लें। यह मिश्री पाउडर लगाने से बच्चों के मुँह में छाले ठीक होते है।

—  टमाटर के ताजा में रस में पानी मिलाकर इससे कुल्ला करें। आराम मिलेगा।

—   एक गिलास गर्म पानी में आधा नींबू  का रस मिलाकर कुल्ला करने से छाले ठीक होते है।

मुँह में छाले

—  कुछ दिन नियमित रात को एक गिलास गुनगुने दूध में एक चम्मच घी मिलाकर पीने से छाले होना बंद हो जाते है।

—  जामुन के दस बारह पत्ते बारीक पीस लें। इन्हें एक गिलास पानी में मिला लें। इसे छानकर इस पानी से कुल्ला करें। इससे छाले जल्द ही ठीक हो जाते है। जामुन का सिरका पानी मिलाकर कुल्ला करने से भी छाले ठीक होते है।

—  अनार के पत्ते पानी में उबाल लें। छानकर इस पानी से कुल्ला करें। इससे छाले मिट जाते है।

—  एक इलायची के दाने बारीक पीस लें। इसे आधा चम्मच शहद में मिला लें। इसे दिन में तीन चार बार छालों पर लगाएं। इससे छाले ठीक हो जाते है।

—  बेकिंग सोडा छाले पर लगाने से छालों में आराम मिलता है।

—  एक गिलास पानी में चौथाई चम्मच हल्दी मिलाकर कुल्ला करने से छाले मिटते है।

ज्यादातर छाले एक सप्ताह से तीन सप्ताह में ठीक हो जाते है। कुछ विशेष परिस्थिति में डॉक्टर से अवश्य संपर्क करना चाहिए जो इस प्रकार है :–

—  यदि तीन सप्ताह के बाद भी छाले ठीक ना हो।

—   यदि छाला बहुत बड़ा हो।

—  छाले बहुत अधिक मात्रा में हो।

—  छालों में दर्द बहुत अधिक हो।

—  छाले होने के साथ तेज बुखार भी हो।

इन्हे भी जानें और लाभ उठायें  

डिप्रेशन अवसाद के कारण और उपाय 

मुँह की बदबू कैसे मिटायें 

पीसीओडी और अनियमित मासिक धर्म 

गले में खराश के घरेलु नुस्खे  

माहवारी मासिक धर्म का महत्त्व 

अनिद्रा दूर करने के घरेलु उपचार 

हिचकी रोकने के उपाय 

पित्ती का घरेलु इलाज

स्वाइन फ्लू के घरेलु नुस्खे 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here