कांजी वड़ा मारवाड़ का स्पेशल ऐसे बनायें – Kanji Vada Marvad Special

कांजी वड़ा Kanji Wada कांजी और बड़े से बनाया जाता है। यह राजस्थान मारवाड़ की एक प्रसिद्ध डिश है। कांजी राई से बने खट्टे पानी को कहते है। यह पेट के लिए लाभदायक होता है। इससे कब्ज , अपच गैस आदि ठीक होते है। (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

पूरन पोली बनाने की विधि तुअर दाल व चने की दाल से – Pooran Poli Ki Vidhi

पूरन पोली  – Pooran Poli   पूरन पोली एक लोकप्रिय व प्रोटीन युक्त भोजन है। इसमें भरे जाने वाला मीठा भरावन पूरन कहलाता है। पूरे भारत में यह लोकप्रिय है। विशेष कर बच्चों को पूरन पोली बहुत पसंद आती है।  गुजरात , (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

खसखस बादाम के लडडू बच्चो के लिए – Khas Khas Badam Laddu

खसखस बादाम के लडडू बच्चो के लिए   सर्दी  के मौसम में जिस प्रकार बड़े लोगों के लिए मेथी के लडडू  , गोंद के लडडू  , सोंठ के लडडू आदि बनाये जाते है उसी प्रकार बच्चों के लिए खसखस बादाम के लडडू बनाये (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

सुबह का नाश्ता क्यों जरुरी होता है – Why Breakfast Is A Must

सुबह का नाश्ता Morning Breakfast दिन के शुरुआत का पहला आहार होता है। यह बहुत जरुरी है और उठने के बाद घंटे के अंदर कर लेना चाहिए। कुछ लोग इसे बिल्कुल महत्व नहीं देते। विशेष कर महिलाएं सुबह उठने के बाद बिना (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

अजवाइन पाक बनाने की विधि प्रसूता के लिए – Ajwain Pak

अजवाइन पाक – Ajwain Pak   अजवाइन का उपयोग सर्दी के मौसम में शरीर के लिए बहुत गुणकारी होती है। सर्दियों में शरीर को गर्माहट देने वाले किसी भी एक पोष्टिक पाक का उपयोग जरूर करना चाहिए। जैसे गोंद के लडडू (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

गोंद के लडडू बनाने की विधि – Gond ke laddu

गोंद के लडडू – Gond Ke Laddu   गोंद के लडडू का उपयोग करते हुए हर साल बड़े बुजुर्गों को देखते है। उनकी सेहत पर भी हमें गर्व होता है। यह उनके खान पान के कारण ही है। चेहरे की चमक हो या (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

मेथी के लडडू बना कर खाएं साल भर फिट रहें – Methi Ke Laddu

मेथी के लडडू – Methi Ke Laddu   मेथी के लडडू सर्दी में खाये जाने वाले पोष्टिक नाश्ते में से एक है। यह मेथी दाना से बनाया जाता है। मेथी बहुत लाभदायक होती है। विशेष कर जोड़ों ( Joints ) (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

बाजरे की राबड़ी बनाने की विधि – Bajre Ki Rabdi

 बाजरे की राबड़ी – Bajre Ki Rabdi   बाजरे की राबड़ी एक लोकप्रिय और पोष्टिक आहार है। बाजरा ( Pearl Millet ) बहुत ही पौष्टिक होता हैं इसमें  प्रोटीन ,आयरन, फास्फोरस , मैग्नेशियम , पोटेशियम और फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

दूध बादाम पिस्ते वाला स्पेशल – Milk With Badam Pista Special

दूध बादाम पिस्ते वाला – Milk With Badam Pista   दूध बादाम पिस्ते वाला पीने से शारीरिक और मानसिक दोनों प्रकार से लाभ होता है। दूध वैसे भी सम्पूर्ण आहार होता है। इसे बादाम और पिस्ता के साथ बनाकर पीने (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

तिल पपड़ी बनाने की विधि – Til Papdi Ki Vidhi

 तिल पपड़ी – Til Papdi   तिल पपड़ी बनाकर खाना तिल के उपयोग का एक अच्छा तरीका है। तिल की प्रकृति गर्म होती है। सर्दी के मौसम में किसी भी रूप में तिल का सेवन करना स्वास्थ्य  के लिए लाभदायक होता (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

हरीरा बनाने की विधि प्रसूता के लिए – Harira For New Mother

 हरीरा – Harira   हरीरा हमारी प्राचीन परंपरा का एक हिस्सा है। बच्चे के जन्म के बाद नवजात शिशु की माता ( प्रसूता ) को दस दिन तक Harira  खाने को दिया जाता है। इससे डिलीवरी के बाद प्रसूता के शरीर (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

बादाम का हलवा बनाने की आसान विधि – Badam Ka Halwa Vidhi

 बादाम का हलवा – Badam Ka Halwa   बादाम का हलवा बहुत लाभदायक होता है। बादाम में भरपूर मात्रा में प्रोटीन , कार्बोहाइड्रेट , खनिज , विटामिन तथा फाइबर आदि होते है। शरीर के लगभग प्रत्येक अंग को बादाम से (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

मूंगफली की चिक्की बनाने की विधि – Chikki Ki Vidhi

 मूंगफली की चिक्की – Mungfali Ki Chikki   मूंगफली की चिक्की सभी को पसंद आती है। यह प्रोटीन , आयरन , विटामिन व मिनरल से भरपूर होने के कारण बहुत पौष्टिक होती है। गुड़ के साथ बनाये जाने के कारण (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

गाजर का हलवा अधिक स्वादिष्ट बनाने की विधि – Gajar Ka Halwa

 गाजर का हलवा – Gajar Ka Halwa   सर्दियों में गाजर का आनन्द अपनी-अपनी पसंद से सभी लेते है। किसी को इसकी सब्जी , किसी को सूप , किसी को जूस , किसी को सलाद पसंद आता है। लेकिन गाजर का हलवा सभी (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

सरल पौष्टिक आयुर्वेदिक नाश्ते – easy healthy ayurvedik breakfast

सरल पौष्टिक नाश्ते  Saral paushtik nashte बनाकर उपयोग में लेकर अपनी ऊर्जा तथा प्रतिरोधक क्षमता बधाई जा सकती है। आइये जानते है इन्हे बनाने की विधि।   पौष्टिक मिक्स आटा बर्फी ( महिलाओं के लिए ) – Nashta For Ladies   महिलाएँ (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

ठंडाई बनाने का सही तरीका – Thandai Original Method

ठंडाई Thandai प्राचीन और सही तरीके से बनाकर पीने से यह बहुत लाभदायक सिद्ध होती है । आजकल शॉर्ट कट का जमाना है। लेकिन शॉर्ट कट अपनाने के चक्कर में गुण दब जाते है। ठण्डाई गर्मी में अमृत तुल्य है बशर्तें सही (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )