करी पत्ता के 7 शानदार फायदे – Amazing Kadhi Patta

12143

कढ़ी पत्ता Kadi Patta जिसे मीठा नीम Meetha Neem भी कहते है सब्जी, दाल आदि में खुशबू और स्वाद के लिए तड़के में डाला जाता है। करीपत्ता Kari Patta सिर्फ खुशबू और स्वाद ही नहीं देता , लाभदायक भी होता है।

इसकी ताजा पत्तियों में एक अलग ही खूशबू होती है। यह खुशबू फ्रिज में या बाहर रखने पर नहीं मिल पाती इसलिए ताजा तोड़ी हुई पत्ती ही उपयोग में लेनी चाहिए। इसकी चटनी भी बनाई जाती है।


इसे मीठा नीम कहा जरूर जाता है और इसकी पत्तियां देखने में नीम की पत्तियों जैसी होती हैं। लेकिन नीम के पेड़ से इसका कोई वास्ता नहीं है। ये दोनों बिलकुल अलग प्रकार की प्रजाति है। नीम के गुण और फायदे जानने के लिए यहाँ क्लिक करें

कढ़ी पत्ता Kari Patta के फूल सफ़ेद रंग के छोटे और ख़ुशबूदार होते हैं। इसमें काले रंग के छोटे फल लगते है। इन्हे खाने में काम नहीं लिया जाता।

करी पत्ता

करी पत्ता के पोषक तत्व – Kadhi patta nutrients

कुछ लोग कढ़ी पत्ता सब्जी से बाहर निकाल कर रख देते है जबकि इसे खा लेना चाहिए। कढ़ी पत्ता बहुत पोष्टिक होता है। करी पत्ता से प्रोटीन , मैग्नेशियम कैल्शियम ,फॉस्फोरस , आयरन , कॉपर आदि मिलते है।

करी पत्ते से कई प्रकार के विटामिन जैसे विटामिन C , विटामिन A , विटामिन B , विटामिन E प्राप्त होते है। यही नहीं यह एमिनो एसिड्स , नायसिन , फ्लावोनोइड्स और कई प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट्स आदि का भी स्रोत है अतः अब से इसे निकाले नहीं बल्कि खा लें।

कृपया ध्यान दें : किसी भी लाल अक्षर वाले शब्द पर क्लीक करके उसके बारे में विस्तार से जान सकते है। 

करी पत्ता के फायदे – Kadhi Patta Ke Fayde

लीवर

लीवर शरीर का बहुत महत्त्वपूर्ण हिस्सा है। कई प्रकार के काम करता है। स्वस्थ रहने के लिए लीवर का निरंतर बिना रुके सही तरीके से काम करना जरुरी होता है। करी पत्ता लीवर को सशक्त बनाता है ।

यह लीवर को बेक्टिरिया तथा वायरल इन्फेक्शन से बचाता है। इसके अलावा यह फ्री रेडिकल्स ,  हेपेटाइटिस , सिरोसिस आदि कई प्रकार की बीमारियों से लीवर को बचाता है। लीवर का महत्त्व और इसके कार्य जानने के लिए यहाँ क्लीक करें

आँखें

kadi patta में पर्याप्त मात्रा में विटामिन A होता है। विटामिन A आँखों को स्वस्थ रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसकी कमी से रतोंधी नामक बीमारी हो सकती है , आँखों की रौशनी कम हो सकती है और भी बहुत सी परेशानियां हो सकती है।

कोलेस्ट्रॉल

करी  पत्ते में LDL कोलेस्ट्रॉल कम करने की प्रकृति होती है। LDL कोलेस्ट्रॉल ह्रदय की बीमारियों का कारण होता है। इस तरह करी पत्ता दिल के लिए लाभदायक होता है।

बालों के लिएहेयर स्पा

करी पत्ता बालों की जड़ को मजबूत बनाता है। करी पत्ता की सूखी पत्तियों का पाउडर तिल के तेल या नारियल के तेल में डालकर उबाल लें। ठंडा होने पर छान लें। इससे रात को सिर की मालिश करें। सुबह शेम्पू कर लें।

नियमित बालों की जड़ों में इस प्रकार मालिश करने से बाल गिरना बंद हो जाते है। इससे बाल मजबूत  , लंबे और चमकदार हो जाते है।

एंटीऑक्सीडेंट

करी पत्ता में कई प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट तथा फेनोल्स पाए जाते है जो कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से बचाते है। करी पत्ता के विशेष तत्व ल्यूकेमिया , प्रोस्टेट कैंसर तथा कोलोरेक्टल कैंसर आदि से बचाव करने में सक्षम पाए गए है। कई प्रकार के विटामिन की मौजूदगी भी ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस तथा फ्री रेडिकल्स के नुकसान से बचाते है।

खून की कमी

करी पत्ता में आयरन तथा फोलिक एसिड दोनों पाए जाते है। फोलिक एसिड आयरन के अवशोषण में मददगार होता है।इस प्रकार करी पत्ता से दुगना फायदा मिलता है। अतः यह खून की कमी दूर करता है।

डायबिटीज

कढ़ी पत्ता रक्त में शुगर की मात्रा को कम करता है। इसमें मौजूद फायबर भी शुगर का लेवल सही रखने में मदद करता है। इसके अतिरिक्त यह पाचन को सुधार कर वसा के अवशोषण को ठीक करता है। इस तरह वजन कम करने में भी यह सहायक होता है। इस प्रकार डायबिटीज से बचने के लिए इसका सेवन लाभप्रद होता है।

इन्हे भी जानें और लाभ उठायें :

बबूल का पेड़ सस्ता और कारगर उपचार 

प्याज के फायदे , पोषक तत्व और घरेलु नुस्खे 

करेला खाने से पहले इसे जरूर पढ़ें 

खरबूजा से मिलने वाले कितने लाभ 

भिंडी के फायदे और सब्जी चिकनी होने से कैसे बचायें 

चाय कितने प्रकार की और इन्हे कैसे बनाते हैं 

गर्मी के मौसम में लू से बचने के उपाय 

इमली फायदा करती है या नुकसान 

स्किन पर झुर्रियों होने से बचने के लिए क्या खाना चाहिए 

शाकाहार और मांसाहार के फायदे नुकसान