घमोरी अलाई कैसे ठीक करें – Prickly Heat Ghamori Ke Gharelu upay

12581

घमोरी या अलाईयां – prickly Heat गर्मी या उमस भरे बारिश के मौसम में होती है। इस मौसम में छोटी-छोटी ढ़ेर सारी लाल फुंसियां चेहरे, गर्दन ,कंधे , छाती या पीठ पर हो जाती है इन्हें घमोरियां  ghamoriya कहते है।

घमोरियों में सुई चुभने जैसा अहसास होता है और खुजली भी चलती है। इन्हे Heat Rash या स्वेट रेश भी कहते हैं। बच्चों को घमोरियां अधिक होती हैं क्योंकि उनकी पसीने की ग्रंथिया विकसित हो रही होती हैं। अंग्रेजी ये prickly heat कहलाती है।

घमोरी होने के कारण – Prickly Heat Reasons

गर्मी और नमी वाला मौसम अलाइयों का मुख्य कारण होता है। त्वचा को ठंडा करने शरीर पर पसीना आता है। ज्यादा गर्मी में सामान्य से अधिक पसीना आता है और पसीने की गंथियों पर दबाव पड़ता है। पसीना ग्रंथि के छेद बंद हो जाते है और पसीना बाहर नहीं निकल पाता और उसमे संक्रमण हो जाता है।

घमोरी

शरीर की साफ सफाई उचित तरीके से नहीं होने के कारण इन्फेक्शन की वजह से भी अलाइयाँ ghamoriya  हो जाती है। टाइट कपड़े पहनने के कारण भी स्किन का पसीना अंदर दब जाता है और सूख भी नहीं पाता इससे अलाइयाँ हो सकती हैं। इन बातों का ध्यान रखने से घमोरी से बचा जा सकता है।

फिर भी घमोरिया हो जाए तो आसान से घरेलु नुस्खे अपनाने से समस्या का समाधान किया जा सकता है।

देखिये क्या है ये  Alai ghamori ke gharelu upay :

घमोरी के घरेलु उपचार –  Heat Rashes home remedy

Ghamory Alaiya ke gharelu nuskhe

—  पसीने वाले और गीले कपड़े गर्मी में तुरंत बदल लेने चाहिए।

— लगभग 5 लीटर पानी में नीम की पत्तियां डालकर दस मिनट उबाल लें। इस पानी को नहाने के पानी में मिलाकर नहायें। घमोरियां ( ghamory ) ठीक हो जाएगी।

( इसे भी पढ़ें : नीम का उपयोग कब और कौनसी समस्या के लिए कैसे करें )

—  एक कप पानी में एक चम्मच बेकिंग सोडा घोल लें। इसमें एक साफ कपड़ा भिगोकर निचो लें। इस कपडे को दस मिनट घमोरियों पर रखे। इस तरह दिन में तीन चार बार एक सप्ताह तक करने से घमोरियां ( Alaiya ) ठीक हो जाएँगी।

—  एक कप जई का महीन आटा नहाने के एक बाल्टी पानी में घोल लें। इस पानी से घमोरियों को धीरे धीरे धोने से घमोरियों ( ghamori ) में आराम मिलता है।

—  नीम की छाल को चन्दन की तरह पानी के साथ घिसकर घमोरियों ( Alaiya ) पर लगाने से ये ठीक होती है।

—  मुल्तानी मिट्टी का पानी या गुलाबजल में बना पेस्ट लगाकर नहाने से घमोरियों ( ghamory ) की जलन व खुजली में आराम आता है।

—  गुलाबजल में चन्दन पाउडर और कपूर मिलाकर लगाने से घमोरियां ( alai ) ठीक हो जाती है।

—  हल्दी , बेसन का उबटन लगाकर नहाने से घमोरी  ghamori  में आराम मिलता है।

( इसे भी पढ़ें : हल्दी के ये फायदे सब लोग नहीं जानते )

—  चन्दन पाउडर व धनिया पाउडर गुलाबजल में डालकर पेस्ट बना लें इसे घमोरिओं पर लगा लें। सूखने पर पानी से धो लें। सुबह शाम एक सप्ताह लगायें। घमोरियां  Alaiya ठीक हो जाएँगी।

— एक गिलास पानी में एक नींबू का रस निचोकर दिन में तीन बार लेने से घमोरियां ठीक होती है। नींबू का रस मुल्तानी मिटटी मे मिलाकर घमोरियों alaiya पर लगाने से भी आराम मिलता है।

—  गर्मी में पानी , शर्बत , ठंडाई , और फलों का जूस इत्यादि का सेवन ज्यादा करने से घमोरी ghamori नहीं होती है।

( इसे भी पढ़ें : ठंडाई बनाने का ये सही तरीका आपको पता है ? )

—  करेले का रस चौथाई कप लें इसमें इतना ही पानी मिलाकर पिएँ। चार पांच दिन सुबह शाम पीने से घमौरियाँ   ghamoriya  ठीक हो जाती है।

—  करेले के रस में लहसुन का रस और सरसों का तेल मिलाकर कुछ दिन रोज हल्की मालिश करने से खुजली और अलाइयां ghamori मिट जाती है

क्लिक करके इन्हे भी जरूर पढ़ें :

कौनसे स्पेशलिस्ट डॉक्टर को दिखाएँ / फाइबर क्यों जरुरी भोजन में / अरबी क्यों इतनी लाभदायक / शादी के ये वचन प्रतिज्ञा याद हैं ? / भ्रामरी प्राणायाम / शकरकंद कितना फायदेमंद / गर्मी से कैसे बचें  / गुलकन्द कैसे बनायें संतरा खाने के फायदे और नुकसान / छाछ के गुण और घरेलू नुस्खे / प्रोटीन की कमी / स्वस्थ रहने के तरीकेगर्भावस्था में उल्टी / मसूडो में खून