चेहरे पर मस्से के घरेलु उपचार – Face Masse Mitane Ke Gharelu Nuskhe

1467

मस्से या Warts एक प्रकार का चर्म रोग है। यह एचपीवी नामक वायरस के कारण होता है। शरीर के किसी हिस्से में छोटा , खुरदरा और कठोर मांस उभर आता है। यह मस्सा या wart कहलाता है।

मस्से का आकार Size राई के दाने से लेकर बेर के आकार तक हो सकता है। मस्से Wart कई प्रकार के होते हैं।यह सामान्य तौर पर चेहरे , हाथ या पैर में होते है लेकिन शरीर के दूसरे हिस्से में भी हो सकते है।

मस्से

जहाँ त्वचा कटी फटी होती है उस जगह से एचपीवी वायरस त्वचा के अंदर घुस जाता है। यह कभी भी मस्सा पैदा कर सकता है। कभी कभी वायरस होते हुए भी Masse पैदा नहीं होते लेकिन ऐसा व्यक्ति इस वायरस को दूसरे व्यक्ति में फैला सकता है।

कुछ मस्से थोड़े समय बाद अपने आप मिट जाते हैं और कुछ वर्षों तक बने रह सकते है। मस्से को काटने से या तोड़ने से ये फ़ैल सकते है। किसी दूसरे व्यक्ति के मस्से से वायरस आपकी त्वचा पर आकर वार्ट्स बना सकता है। यानि छूने से यह रोग फैल सकता है।मस्से

वैसे Masse से नुकसान कुछ नहीं होता लेकिन यदि चेहरे पर मस्से होते है तो अच्छे नहीं लगते। कभी कभी ऐसी जगह Masse हो जाते है जिससे आपको परेशानी हो सकती है।

वैसे मस्से में दर्द नहीं होता लेकिन दबाव पड़ने वाली जगह हो जाये तो दर्द कर सकता है। गुप्तांग पर या नाक के अंदर मस्सा हो जाये तो तकलीफ देह हो सकता  है। इनके लिए डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

मस्से

मस्से के घरेलु इलाज – Warts Ke Gharelu Nuskhe

—  खट्टे सेब का रस रोजाना तीन चार बार Masse पर लगाएं। महीने भर इसके लगाने से Masse ठीक हो जाते है।

—  अरंडी के तेल ( Castor Oil ) में बेकिंग सोडा मिलाकर रोजाना रात को सोते समय Warts पर लगाये । कुछ दिनों में फर्क नजर आने लगेगा।

—  लहसुन को काट कर इसे Masse पर नियमित कुछ दिन सुबह शाम घिसने से मस्सा सूख जाता है। लहसुन को मोटा कूटकर मस्से पर बांधने से भी ये ठीक होते है।

—  रात को सोते समय प्याज को बारीक पीस कर वार्ट्स पर लगाने से कुछ दिन में ये सूखने लगते है।

—  ताजा ग्वारपाठा ( Aloe Vera ) को काट कर उसका रस कुछ दिन नियमित लगाने से Masse ठीक हो जाते है।

—  नींबू का रस रुई के फाहे में लगाकर आधा घंटा रोजाना वार्ट्स पर रखें फिर धो लें। इससे वार्ट्स गल जाते है।

—  आलू काट कर Masse पर घिसने से Masse ठीक होते है।

—  रात को सोते समय मस्सों पर शहद लगाकर सोएं। दिन में एक बार फिर लगाएं। इस प्रकार नियमित शहद लगाने से  Musse ठीक हो जाते है।

—  अनानास ( Pinapple ) के रस में भिगोई रुई मस्से पर आधा घंटे लगा कर रखें फिर धो लें। रोज कुछ दिन ऐसा करने से Musse ठीक होते है।

—  बरगद के पत्ते का रस वार्ट्स पर लगाने से वार्ट्स ठीक हो जाते है।

—  केले का छिलका अंदर की तरफ से मस्से पर रखकर पट्टी बांध दें या टेप लगा दें। दिन में दो बार बदल कर बांधे। ऐसा मस्से जब तक ठीक न हो करें।

 पपीते का दूध नियमित Warts पर लगाने से ये सूखकर ठीक हो जाते है।

—  मुलेठी को बारीक पीस कर तिल के तेल में मिलाकर Masse पर नियमित लगाने से Masse छोटे होकर ठीक हो जाते है ।

—  आंवले का रस Masse पर नियमित दस मिनट घिसने से Masse सूख कर गिर जाते है।

—  बाजार में मिलने वाली सेलिसिलिक एसिड वाली टेप लगाकर वार्ट्स ठीक किये जा सकते है।

मस्से होने पर सावधानी – Be Careful

—  मस्से को काटने , तोड़ने जलाने आदि की कोशिश नहीं करनी चाहिए।

—  ध्यान रखें दूसरा व्यक्ति आपके इस्तेमाल किये हुए रेजर , तौलिया  आदि का यूज़ ना करे। अन्यथा उसे भी वार्ट्स हो सकते है।

—  अधिक उम्र में मस्से होने लगे तो डॉक्टर से अवश्य संपर्क करना चाहिए।

यदि वार्ट्स से रक्त आने लगे , मवाद आदि दिखाई दे , Masse का रंग बदल जाये , आपको मस्से के साथ डायबिटीज भी हो तो डॉक्टर से सलाह मशविरा जरूर कर लेना चाहिए।

इन्हे भी जानें और लाभ उठायें :

ब्लैक हेड / मुँहासे / दाद खाज मुँह से बदबू / मुँह में छालेडिप्रेशन / पीसीओडी और अनियमित मासिक धर्म /गले में खराश / कब्जमासिक धर्म का महत्त्व / हिचकी / पित्ती / स्वाइन फ्लू