मूँग दाल का हलवा स्वादिष्ट बनाने की विधि – Moong Dal Tasty Halva

559

मूँग दाल का हलवा Moong Dal Ka Halva एक शाही मिठाई है। इसे सही विधि से बनाने पर इसके स्वाद का कोई मुकाबला नहीं होता।

शादी ब्याह या विशेष बड़े त्यौहार पर मूंग दाल का हलवा बनाया जाता है। यह प्रोटीन युक्त लाभदायक हलवा है जिसे सभी पसंद करते है।

मूँग दाल का हलवा बनाने का तरीका इस प्रकार है :

 

मूँग दाल का हलवा

 

कृपया ध्यान दे : किसी भी लाल रंग से लिखे शब्द पर क्लीक करके उसके बारे में विस्तार से जान सकते हैं। 

मूँग दाल का हलवा बनाने की सामग्री

 

मूँग दाल छिलके वाली     –          250  ग्राम

मावा                               –          100  ग्राम

चीनी                               –          300  ग्राम

देशी घी                          –           300  ग्राम

गेंहू का आटा                  –             2 चम्मच

बादाम                           –               15 -20

केसर                            – 1 /4 छोटी चम्मच

इलायची                        –         5  पीसी हुई

काजू                            –                15 -20

पिस्ता                           –                       10

पानी                            –                  2  कप

 

मूँग दाल का हलवा बनाने की विधि – Moong Dal  Halva Vidhi

 

—  मूँग की छिलके वाली दाल को  4-5   घण्टे के लिए पानी में भिगो दीजिये।

—  दाल भीगने के बाद दाल के छिलके अलग कर लीजिये।

—  छिलके अलग की हुई दाल को ग्राइंडर में दरदरा  (सूजी जैसा ) पीस ले।दाल पीसते  समय पानी बहुत कम जितना पीसने के लिए जरूरत

हो उतना ही डालना  चाहिए।

—  यदि लगे की दाल में पानी थोड़ा ज्यादा है तो एक मलमल के कपड़े में दाल को बांधकर थोड़ी देर लटका देवे।

—  मावे को कददूकस कर लें।

—  बादाम गरम पानी दो घण्टे भिगो दें। भीगी बादाम को छीलकर लम्बी लम्बी काट लें।

—  काजू के दो टुकड़े कर लें।

—  पिस्ता की बारीक़ कतरन कर लेवे।

—  हरी इलायची को छीलकर पीस लें।

—  केसर को गुनगुने पानी में भिगो दें।

—  मावा कददूकस से कस कर  रख लें।

—  हलवा बनाने के लिए नॉन स्टिक या भारी तले की कढ़ाई ले ।

—  कढ़ाई में 200 ग्राम घी डालकर गर्म करें।

—  घी गर्म होने के बाद गैस की आंच मध्यम करें व दो चम्मच गेंहू का आटा डालकर सेकें।

—  आटा भूनने के बाद दाल का पेस्ट भी डाल दें व गैस  बन्द कर दें।

—  अब घी व दाल को अच्छी तरह मिलाए तथा गैस वापस चालू करें व लगातार हिलाते हुए मध्यम आंच पर सेकें।

—  पंद्रह मिनिट तक इसी तरह सेकें।

—  अब बचा हुआ घी तेज गर्म करे व चम्मच की सहायता से थोड़ा थोड़ा घी डालें व हिलाए इसी तरह थोड़ी थोड़ी देर में घी डालते जाए और

हिलाते जाये।

—  जब तक दाल का रंग सुनहरा भूरा न हो जाये तब तक लगातार हिलाते हुए सेकें ।

—  सिकने पर मूँग दाल से घी अलग हो जाएगा।

—  अब इसमें कददूकस किया हुआ मावा डालकर दस मिनिट और सेकें।

—  अब शक्कर में पानी डालकर गैस पर चढ़ाये व हिलाते रहें एक उबाल आने पर गैस बंद कर दें।

—  सिकी हुई मुंग दाल में उबला हुआ चीनी का पानी छान कर डाल दें व अच्छी तरह हिलाए।

—  केसर को दो चम्मच दूध के साथ खरल में घोंट कर हलवे में मिला दें ।

—  पानी सूखने तक लगातार हिलाते रहें , पानी खत्म होने पर गैस बन्द कर दे।

—  पिसी इलायची , बादाम कतरन, काजू व पिस्ता डालकर मिला लें।

—  मूँगदाल का खिला खिला स्वादिष्ट हलवा तैयार हैं मेवो से सजाकर आनंद लें।

 

मूँग दाल का हलवा बनाते समय ध्यान रखने योग्य बातें :

 

—  मूँग दाल के हलवे के लिए धुली हुई मूँग दाल ( मूँग मोगर) भी ली जा सकती हैं परन्तु मूँग छिलका दाल से ज्यादा स्वादिष्ट  हलवा तैयार

होता है।

—  दाल को बहुत ज्यादा देर तक नही भिगोनी चाहिए।

—  मावा ताजा होना चाहिए। यदि ताजा मावा उपलब्ध नहीं हो तो एक कप ताजा मलाई भी डाल सकते हैं।

—  गेँहू का आटा डालने से हलवा आसानी से सिक जाता है व खिला खिला भी बनता हैं।

—  दाल के हलवे को सिकने में अन्य हलवो से ज्यादा समय लगता हैं हलवा सिकने पर घी अलग हो जाता है व तले में भी नहीं चिपकता हैं।

—  हलवा सेकते समय गरम घी थोड़ी थोड़ी देर में डालने से हलवे की सिकाई जल्दी और अच्छी होती हैं।

—  आप चाहें तो खाने वाला पीला रंग दो चुटकी डाल सकते हैं।

—  सबसे महत्वपूर्ण बात दाल को लगातार हिलाना और अच्छी तरह सेकना हैं।

—  फ्रिज में रख कर सात दिन तक यह हलवा काम में लिया जा सकता है।

 

क्लिक करके इन्हें भी जानें और लाभ उठायें :

 

पूरण पोली बनाने की विधि तुअर दाल और चने की दाल से 

गाजर गोभी शलगम का मिक्स अचार 

पीले मीठे चावल बनाने की विधि 

संतरे का स्क्वेश बनाने की विधि 

कच्ची हल्दी का अचार कैसे बनाते है 

टमाटर की सॉस घर पर बनाये बाजार जैसी 

चाट मसाला घर पर बनायें शुद्ध और स्वादिष्ट 

बादाम पिस्ते वाला दूध ऐसे बनायें 

हरीरा बनाने की विधि जच्चा के लिए 

लहसुन की अलग स्वादिष्ट चटनियाँ  

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here