हल्दी की सब्जी स्पेशल वाली – Haldi Ki Sabji Special

420

हल्दी की सब्जी Haldi Ki Sabji बनाने के लिए कच्ची हल्दी ( Kachchi Haldi ) की जरुरत होती है। इसे कच्ची हल्दी की सब्जी

( kachchi haldi ki sabji ) भी कहते है। सर्दी के इस मौसम कच्ची हल्दी सब्जी मंडी में आसानी से मिल जाती है। हल्दी बहुत फायदेमंद

होती है। यह एक प्राकृतिक एंटीबायोटिक है। इससे दिमाग और शरीर को ताकत मिलती है। इसमें पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट  कई गंभीर

बीमारियों से रक्षा करते है।

 

कच्ची हल्दी की सब्जी खाने से हल्दी के सभी फायदे मिल सकते है। हल्दी की तासीर गर्म होती है। अतः सर्दी के मौसम में हल्दी की सब्जी

थोड़ी मात्रा में जरूर खानी चाहिए। यह गर्माहट देगी तथा प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाकर सर्दी जुकाम से बचाएगी।

हल्दी की सब्जी

 

कुछ विशेष परिस्थितियों में हल्दी नहीं खानी चाहिए।

हल्दी के फायदे और नुकसान के बारे में विस्तार से जानने के लिए यहाँ क्लीक करें

 

हल्दी की स्वादिष्ट सब्जी बनाने की विधि इस प्रकार है :

हल्दी की सब्जी बनाने की सामग्री

 

कच्ची हल्दी                          250  ग्राम

मटर के दाने                        1 / 2  कप

गोभी                                   1 / 2  कप

अदरक                                      2  इंच ( लगभग )

हरी मिर्च                                    2  नग

टमाटर                                      2  नग

लहसुन                       10 -12  कलियां

दही                                          2  कप

घी                                           1   कप

जीरा                                1 /2  चम्मच

सौंफ                                1 /2  चम्मच

लाल मिर्च पाउडर                  1  चम्मच

धनिया पाउडर                      2  चम्मच

गर्म मसाला                       1 /2  चम्मच

नमक                                  स्वादनुसार

काजू                                        15 -20

हरा धनिया                     सजाने के लिए

 

कृपया ध्यान दे : किसी भी लाल रंग से लिखे शब्द पर क्लीक करके उसके बारे में विस्तार से जान सकते हैं। 

हल्दी की सब्जी बनाने की विधि :

 

—  कच्ची हल्दी ,अदरक , हरी मिर्च , टमाटर को अच्छी तरह धो ले।

—  हल्दी का पानी सूखने पर इसे पीलर से छील कर कददू कस करके एक बाउल में रख ले।

—  गोभी को बारीक़ काट ले।

— अदरक को पीलर से छीलकर  बारीक़ कददू कस कर ले।

—  लहसुन को छीलकर बारीक़ पेस्ट बना ले।

—  हरी मिर्च के बीज निकाल कर काट ले।

—  टमाटर को बड़ा -बड़ा ( एक टमाटर के चार टुकड़े ) काटे।

—  कढ़ाई में घी गरम करके बारीक़ कटी हुई गोभी को नरम होने तक पका कर निकाल ले।

—  इसी बचे हुए घी में जीरा सौंफ डाले।

—  जीरा तड़कने के बाद कसी हुई हल्दी डाल दे।

—  हल्दी को बीच बीच में हिलाते हुए पकाये। हल्दी को गोल्डन ब्राउन होने तक पकाना है।

—  अब इसमें हरी मिर्च , कसी हुई अदरक व लहसुन का पेस्ट डाले।

—  एक बाउल में दही ( फेंटा हुआ ) , लाल मिर्च पाउडर , धनिया पाउडर व नमक मिक्स करें। इस दही के मिश्रण को कढ़ाई वाली हल्दी में

मिला दें।

—  अच्छे से हिलाते हुए पकाएँ।  इसे तब तक पकाएँ जब तक कि सारे मसाले अच्छी तरह पक ना जाएँ और घी अलग ना हो जाये।

—  अब इसमें फ्राई की हुई गोभी व मटर के दाने डाल कर थोड़ा और पकाए।

—  इसमें थोड़ा ( लगभग आधा कप ) गर्म पानी डाल कर 10 मिनिट पकाए।

—  गरम मसाला डालकर गैस बन्द कर दे।

—  इसमें बड़े कटे टमाटर डाल कर ढक्कन बन्द कर दे।

—  काजू व कटे हरे धनिये से सजा कर सर्व करे।

 

हल्दी की सब्जी बनाते समय ध्यान रखने योग्य बातें :

 

—  हल्दी को बहुत अच्छे से धोकर साफ करें अन्यथा सब्जी में किरकिरी आने की संभावना होती है।

—  सब्जी कच्ची हल्दी से बनाई जाती है जो सर्दियों में बाजार में आसानी से उपलब्ध हो जाती हैं।

—  हल्दी को मध्यम आंच पर थोड़ी थोड़ी देर से हिलाते हुए पकाये।

—  हल्दी को ब्राउन कलर की होने तक पकाने से हल्दी का कसैलापन बिल्कुल दूर हो जाता है।

—  हल्दी की सब्जी बनाते समय कपड़ो का ध्यान रखे अन्यथा कपड़ो पर दाग लग सकता हैं।

—  हल्दी कसते समय दस्तानों का उपयोग करे। यदि फिर भी हाथ पीले रंग के हो जाएँ तो हाथो को नींबू  से साफ करे।

—  इस सब्जी में घी अधिक मात्रा में होता है , इसलिए सब्जी खाने के तुरन्त बाद पानी नहीं पीना चाहिए । यदि पीना हो तो गुनगुना पानी पियें।

—  अपनी पाचन क्षमता को ध्यान में रखते हुए ही सब्जी खानी चाहिए।

—  हो सके तो चपाती बिना घी की ही ले।

 

नीचे क्लिक करके इन्हें जाने और लाभ उठायें :

 

तड़का , छौंका , बघार कैसे लगाते हैं और क्यों जरुरी होता है 

अच्छी बुरी आदत का गृह नक्षत्रों पर प्रभाव 

बाजरे की राबड़ी बनाने की विधि 

मसाला काजू मजेदार कैसे बनायें 

अमरुद की चटनी चटपटी शानदार 

 

ताहिनी सॉस बनायें सर्दी का आंनद लें 

कुरकुरी तिल पपड़ी ब्यावर वाली 

बादाम का हलवा दिमागी शक्ति के लिए 

नींबू की चटनी पाचक और चटपटी 

 

लहसुन की विभिन्न प्रकार की चटनियाँ 

मूंगफली चिक्की गुड़ वाली बनाने की विधि 

गाजर का हलवा अधिक स्वादिष्ट कैसे बनायें 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here