ए सी AC कौनसा लें , कितने टन का लें , विंडो लें या स्प्लिट – Air Conditioner

84

ए सी ( Air Conditioner ) सभी भी जरुरत बन चूका है। तेज गर्मी में इसी से राहत मिलती है। परन्तु बिजली का बिल बढ़ने का ख्याल एक समस्या है। इस पोस्ट को पढ़ने के बाद सही निर्णय से AC के कारण आपका बिजली का बिल ज्यादा नहीं आएगा।

एयर कंडीशनर खरीदते समय बाजार में बहुत से ऑप्शन सामने होते हैं। कौनसी कम्पनी का एसी लें , कितने टन का एसी लें , विंडो एसी लें या स्प्लिट एसी , इसके अलावा क्या इन्वर्टर एसी लेना ठीक है ? ये सब उलझन भरा लगता है । यदि यहाँ बताई गई सामान्य सी जानकारी आपको हो तो सही निर्णय लेना आसान हो जाता है।

आइये जानें एयर कंडीशनर खरीदने सम्बन्धी पूरी जानकारी हिंदी में आसान भाषा के साथ।

कौनसा ए सी कम बिजली जलाता है

Which AC consume less electricity

जिस Air Conditioner का EER ( एनेर्जी एफ़ीसेंसि रेशो ) ज्यादा होता है वह AC बिजली की कम मात्रा के उपयोग में अधिक ठंडक देता है। EER के आधार पर ब्यूरो ऑफ़ एनेर्जी एफ़ीसेंसि ( BEE ) स्टार रेटिंग देता है। यह 1 star , 2 star … से 5 star होती हैं।

यदि किसी ए सी को 5 स्टार रेटिंग दी गई है तो इसका मतलब है यह है कि वह प्रति वाट सबसे अधिक ठंडक देगा। फिर चाहे वो विंडो ए सी हो या स्प्लिट ए सी। यानि अधिक स्टार रेटिंग वाला ए सी कम बिजली जलाता है।

लेकिन इसका मतलब यह नहीं की आपको 5 स्टार रेटिंग वाला एसी ही खरीदना चाहिए। हो सकता है कि आपकी परिस्थिति में यह सही ना हो।

विंडो ए सी लें या स्प्लिट ए सी अंतर क्या है

Difference between Window AC and Split AC

बहुत से लोग यह नहीं जानते कि Window AC और Split AC में से कौनसा Air conditioner लें या इनमें क्या फर्क होता है। यह नहीं कहा जा सकता है इनमे से कौनसा ज्यादा अच्छा होता है। विंडो और स्प्लिट एसी में फर्क बहुत से हैं। अपनी परिस्थिति के अनुसार नीचे दी गई बातों को ध्यान में रखकर यह डिसीजन आसानी से ले सकते है।

विंडो एसी की एक ही यूनिट होती है जो खिड़की में फिट हो जाती है जबकि स्प्लिट एसी के दो हिस्से होते हैं। स्प्लिट एसी की एक यूनिट कमरे में तथा एक बाहर फिट की जाती हैं। ये दोनों यूनिट पाइप के माध्यम से जुडी होती हैं।

विंडो एसी और स्प्लिट एसी दोनों ही अच्छी ठंडक दे सकते हैं। इन दोनों की अपनी अपनी खूबी और कमी होती है। विंडो एसी और स्प्लिट एसी में अंतर तथा खास बातें इस प्रकार हैं –

  • यदि कमरा छोटे साइज़ का है और खिड़की की व्यवस्था है तो विंडो एसी लगाया जा सकता है। विंडो एसी खिड़की में फिट किये जाते हैं। यदि कमरे में खिड़की नहीं है या कमरे का साइज़ बड़ा हो तो स्प्लिट एसी लगवाया जा सकता है।  स्प्लिट ए सी की ठंडा करने की क्षमता अधिक होती है।
  • स्प्लिट ए सी की कीमत विंडो ए सी की कीमत से ज्यादा होती है।
  • विंडो ए सी की फिटिंग , सर्विस तथा मेंटेनेंस स्प्लिट ए सी की अपेक्षा आसान और सस्ती होती है।
  • यदि आप चाहते है की खिड़की ब्लॉक ना हो तो स्प्लिट ए सी लगाया जा सकता है।
  • स्प्लिट ए सी कई रंग और डिजाईन में उपलब्ध होता है। विंडो ए सी सामान्यतया सादा रंग में ही उपलब्ध होता है।
  • स्प्लिट एसी एक जगह से दूसरी जगह फिट करना बहुत मुश्किल होता है जबकि विंडो एसी को एक जगह से दूसरी जगह आसानी से फिट किया जा सकता है।
  • स्प्लिट एसी का कम्प्रेशर बाहर वाली यूनिट में होता है जो कि कमरे से दूर होती है इसलिए एसी चलने पर आवाज नहीं आती जबकि विंडो एसी की एक ही यूनिट होती है जो कमरे में होने के कारण इसमें आवाज अधिक आती है।

कितने टन का ए सी लें

AC Kitne Tone ka lena chahiye

बाजार में आधा टन , 1 टन , 1.5  टन , 2 टन , 3  टन इस प्रकार से एसी मिलते हैं। जितने अधिक टन का एसी होगा उतनी अधिक ठंडक देगा लेकिन उतनी ही कीमत भी अधिक होगी। कमरे के साइज़ तथा अन्य बातों का ध्यान रखकर देखना चाहिए कि कितने टन का एसी लगवायें। गलत निर्णय से बिजली का बिल भी अधिक आ सकता है और उचित ठंडक से भी वंचित रह सकते हैं।

सही निर्णय के लिए इन बातों का ध्यान रखना चाहिए –

— कमरे का साइज़ क्या है। ज्यादा बड़े कमरे के लिए ज्यादा टन का एसी चाहिए।

— कमरे में कितने लोग होते हैं। हर व्यक्ति गर्मी छोड़ता है जिसे ठंडा होना चाहिए। कमरे में ज्यादा लोग होते हैं तो ज्यादा टन का एसी लेना चाहिए।

— कमरे में सामान कितना है। कमरे में मौजूद सारे सामान ठंडे होंगे तभी कमरे में ठंडक होगी।

— कमरे में लाइटें कितनी लगी हुई हैं। लाइट गर्मी पैदा करती है। विशेषकर पुराने तार वाले बल्ब।

— कमरे में खिड़कियाँ कितनी हैं। खिडकियों से गर्मी अन्दर आने की सम्भावना होती है। खिड़की यदि अच्छे से पैक हो जाती है तब एसी पर लोड कम पड़ता है।

— कमरे में कितनी दीवारों पर धूप आती है। जिस दीवार पर बाहर धूप आती है वह दीवार अंदर भी गर्मी पहुंचा सकती है।

ये सब बातें एसी खरीदते समय विक्रेता को बता देनी चाहिए ताकि वह आपको सही क्षमता वाला Air Conditioner सुझा सके।

कुछ लोग कम क्षमता का एसी इसलिए ले लेते हैं कि वो सोचते हैं इससे बिजली का बिल कम आएगा। लेकिन असल में होता उल्टा है यानि बिल अधिक आता है। क्योंकि ऐसे में एसी का कम्रेसर लगातार चलता रहता है। इससे बिजली का बिल बढ जाता है। कुछ लोग सिर्फ रूम साइज़ के हिसाबे से Air conditioner खरीद लेते हैं जो गलत है।

जरुरत से ज्यादा क्षमता वाला एसी लेना भी सही नहीं होता क्योंकि वो महंगा होगा साथ ही बिजली भी अधिक जलाएगा।

ए सी की स्टार रेटिंग से क्या होता है

What is star rating of an Air Conditioner

अधिक स्टार रेटिंग वाला एसी अपेक्षाकृत कम बिजली में अधिक ठंडक देता है। लेकिन उसकी कीमत भी उतनी ही ज्यादा होती है। यदि 12 घंटे या इससे अधिक एसी चलाना हो तो 5 स्टार वाला एसी लेना चाहिए अन्यथा 3 या 4 रेटिंग वाला एसी भी ले सकते हैं।

इन्वर्टर एसी क्या होता है

Innverter AC me kya alag hota he

इन्वर्टर एसी एक नई तकनीक वाला एसी है। इसके कॉम्पोनेन्ट DC करंट पर चलने वाले होते हैं। हमारे घरों में आने वाले AC करंट को इसमें इन्वर्टर द्वारा DC में परिवर्तित किया जाता है। यह PCB के माध्यम से होता है।

इन्वर्टर एसी का कम्प्रेशर अलग तरह का होता है। यह लगातार चलकर एक जैसा तापमान बनाये रखता है। नार्मल एसी का कम्प्रेशर तापमान के अनुसार बार बार चालू बंद होता रहता है। इन्वर्टर एसी के कम्प्रेशर की गारंटी नार्मल की अपेक्षा अधिक समय की मिलती है।

Inverter AC की कीमत Normal AC से लगभग 50% अधिक होती है। यदि Air conditioner रोजाना 8 -10 घंटे या अधिक चलाने की आवश्यकता हो तो इन्वर्टर ए सी से बिजली की अच्छी बचत हो सकती है। लेकिन यदि दो तीन घंटे ही ए सी चले तो बिजली की बचत का लाभ नहीं मिल पाता।

कौनसी कम्पनी का ए सी खरीदें

Air Conditioner of which company

बाजार में बहुत सी कंपनी के विभिन्न रंग और डिजाईन के एसी उपलब्ध हैं। आप अपनी पसंद के रंग और डिजाईन देख सकते हैं। मुख्य बड़ी कम्पनियाँ सर्विस अच्छी देती हैं अतः नामी कम्पनी का एसी खरीदना ही सही रहता हैं।

एसी की सर्विस हर साल करवानी पड़ती है। अतः जिस कम्पनी का एसी खरीद रहे हैं उस कंपनी का सर्विस सेंटर आपके शहर में होना अच्छा रहता है।

एसी के कंडेंसर की कोइल एल्युमिनियम या कॉपर की बनी हो सकती है। कॉपर कोइल की लाइफ अच्छी होती है तथा मेंटेनेंस कम होती है। अतः कोशिश करें कि जो ए सी आप खरीद रहे हैं उसमे कंडेंसर कोइल कोपर की हो। यह आप पूछताछ करके पता कर सकते हैं।

आशा है आपको सभी सवालों के जवाब मिल गए होंगे। फिर भी संशय हो तो अवश्य बताएं।

इन्हे भी जानें और लाभ उठायें :

चाय नुकसान करती है या फायदा , कितनी पियें 

वजन क्या मेटाबॉलिज्म के कारण बढ़ता है 

घर में कौनसी सब्जी उगाना आसान होता है 

कुत्ते को ये चीजें भूल कर भी ना खिलाएं 

किनोवा सुपर हेल्दी फ़ूड क्यों कहा जाता है 

जन्म प्रमाण पत्र क्यों जरूर समय से बनवा लेना चाहिए 

स्किन कर बालों पर मुल्तानी मिट्टी लगाने के फायदे 

टैटू बनवाने से पहले ये जानना क्यों बहुत जरुरी 

शरीर में खून कैसे और कहाँ बनता है 

कहीं आप अजीनोमोटो वाला खाना तो नहीं खा रहे 

रुद्राक्ष के फायदे और असली की पहचान