Home Sanskar & Sanskriti

Sanskar & Sanskriti

चातुर्मास 2018 में क्या करें

चातुर्मास में आत्मबल बढ़ाकर प्राप्त करें परम आनंद – Chaturmas For Blissful Life

चातुर्मास Chaturmas यानि चार महीने का वो समय जब विष्णु भगवान योगनिद्रा में रहते है। शास्त्रों के अनुसार इस वक्त भगवान विष्णु क्षीर सागर...
व्रत उपवास के फायदे

व्रत उपवास करने के फायदे और तरीके – Vrat Upvas Benefits

व्रत उपवास Vrat Upvas हमारी संस्कृति के एक अभिन्न अंग है। इनका सिर्फ धार्मिक महत्त्व ही नहीं है बल्कि शारीरिक रूप से भी बहुत अधिक...
अधिक मास मे क्या करें क्या नहीं

अधिक मास कब और क्यों तथा इस माह क्या करें क्या ना करें –...

अधिक मास Adhik mas जिसे मल मास Mal mas या पुरुषोत्तम मास Purushottam mas भी कहा जाता है , तीन साल मे एक बार आता है ।...
विवाह के वचन प्रतिज्ञा

विवाह के समय पति पत्नी द्वारा प्रतिज्ञा और वचन – Marriage Promises

विवाह के समय वर और वधु कुटुंब , समाज , गुरु और देवताओं को साक्षी मानकर कुछ वचन और प्रतिज्ञा लेते हैं जिन्हे उम्र भर...

पूर्णिमा व्रत , स्नान , फायदे , त्यौहार और जयंती – Pornima Vrat

पूर्णिमा Poornima या पूर्णमासी Purnmasi का अर्थ है सम्पूर्ण चन्द्रमा यानि जब चाँद अपने पूरे आकार में दिखाई देता है। यह दिन बहुत महत्वपूर्ण माना जाता...
कार्तिक स्नान के फायदे

कार्तिक स्नान का महत्त्व लाभ और तरीका – Kartik Snan

कार्तिक स्नान Kartik snan कार्तिक महीने की एक मुख्य धार्मिक परंपरा है। इस समय महीने भर तक रोजाना पवित्र नदी , तालाब या समुद्र आदि में स्नान...

Latest Blogs

Most Popular