पथवारी की कहानी

पथवारी की कहानी शीतला माता के पूजन के समय – Pathwari Ki Kahani

पथवारी की कहानी Pathvari ki kahani शीतला सप्तमी और अष्टमी के दिन शीतला माता की पूजन के बाद पथवारी का पूजन करते समय सुनी जाती...
देव उठनी एकादशी पूजन, कथा

देव उठनी एकादशी पूजन विधि व कथा – Dev Uthani gyaras puja

देव उठनी एकादशी Dev uthni ekadashi कार्तिक माह शुक्ल पक्ष की एकादशी होती है। इसे प्रबोधिनी एकादशी prabodhini ekadashi , देवोत्थान एकदशी Devotthan ekadashi या...
Le-ke-gaura-ji-ko-sath

ले के गौरा जी को साथ शिव भजन – Le ke gaura ji ko...

ले के गौरा जी को साथ... शिवजी का एक लोकप्रिय भजन है। शिवजी को भोले भंडारी कहा जाता है क्योंकि महादेव  तुरंत प्रसन्न होने वाले देव...
गणेश वंदना

गणेश वंदना – Ganesh Vandana

गणेश वंदना Ganesh Vandana शुभ कार्य से पहले की जाती है। गणेश वंदना के माध्यम से गणेश जी का ध्यान , स्मरण , जप और...

हरतालिका तीज का व्रत पूजन और कहानी – Hartalika Teej

हरतालिका तीज का व्रत Hartalika teej vrat भाद्रपद महीने की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि के दिन किया जाता है। इस दिन ही पार्वतीजी ने महान...
मकर सक्रांति

मकर संक्रांति मनाने का तरीका , कारण और महत्त्व – Makar Sankranti

मकर संक्रांति makar sankrati एक त्यौहार भी है और एक खगोलीय घटना भी। ज्योतिष विज्ञान के अनुसार इस दिन सूर्य मकर राशि में प्रवेश करता है...
सोमवार के व्रत की कहानी

सोमवार का व्रत विधि और कहानी – Monday Fast and Story

सोमवार का व्रत साधारणतया दिन के तीसरे पहर तक होता है। व्रत में फलाहार या पारायण का कोई खास नियम नहीं होता है परन्तु...
अनंत चतुर्दशी व्रत की कहानी

अनंत चतुर्दशी व्रत की कहानी – Anant chaudas ki katha

अनंत चतुर्दशी व्रत की कहानी अनंत चौदस व्रत की पूजा के समय कही और सुनी जाती है . यह व्रत भाद्रपद शुक्लपक्ष की चतुर्दशी...
शंख बजाने ओर पूजा के लाभ

शंख बजाने के फायदे , पूजा वाला असली शंख और उसके प्रभाव – Shankh...

शंख conch से वैसे तो सभी परिचित हैं लेकिन शंख के फायदे , गुण , महत्त्व और वास्तु प्रभाव आदि के बारे में बहुत...
गोवर्धन अन्नकूट की कहानी

गोवर्धन अन्नकूट की कहानी – Govardhan Annkut ki kahani

गोवर्धन पर्वत की कहानी या अन्नकूट की कहानी भगवान श्री कृष्ण की लीलाओं का एक हिस्सा है। इसमें किसे कितना महत्त्व दिया जाना चाहिए...
मंगला गौरी व्रत और पूजन

मंगला गौरी व्रत और पूजा की सम्पूर्ण विधि – Mangla Gauri Vrat Pooja

मंगला गौरी व्रत Mangla Gauri Vrat सावन महीने के मंगलवार को किया जाता है। इस व्रत की शुरुआत सावन महीने के शुक्ल पक्ष के पहले...
कभी फुर्सत हो तो दुर्गा भजन

कभी फुर्सत हो तो दुर्गा माँ का भजन – Durga ma ka bhajan

दुर्गा माँ भगवती को दुनिया की पराशक्ति माना जाता है जो माँ पार्वती का ही स्वरुप है। कई तरह से पूजा भक्ति करके लोग...
सत्यनारायण कथा दूसरा अध्याय

सत्य नारायण व्रत कथा दूसरा अध्याय Satya Narayan vrat katha -2

सत्य नारायण व्रत कथा में पांच अध्याय हैं। दुसरे अध्याय की कथा यहाँ बताई गई है। सत्य नारायण कथा के दुसरे अध्याय की कथा...
आमलकी एकादशी व्रत कथा

आमलकी एकादशी व्रत कथा Aamalaki Ekadashi Vrat Katha

आमलकी एकादशी Amalaki ekadashi फाल्गुन मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को कहते हैं। इसे आंवला एकादशी Amla Ekadashi या रंगभरनी एकादशी Rang bharni...
इल्ली घुणिया की कहानी

इल्ली घुणिया की कथा – illy ghuniya ki kahani

इल्ली घुणिया की कथा कार्तिक महीने में कही और सुनी जाती है। व्रत में कहानी कहने और सुनने से व्रत का सम्पूर्ण फल प्राप्त होता...
होली पूजने की सम्पूर्ण विधि

होली पूजन करने की विधि – Holika Dahan Pooja Vidhi

होली Holi का त्यौहार हमारे प्रमुख त्योहारों में से एक है। इस दिन होली का पूजन Holi Poojan तथा होलिका दहन Holika dahan ( होली जलाना )...
गुरु जी की आरती

गुरु जी की आरती गुरु पूर्णिमा पर – Guruji Ki Arti

गुरुजी की आरती GURU JI KI AARTI <<<>>> <<<>>> गुरु जी की आरती आरती  गुरुदेव  की  कीजै , अपनों  जन्म सफल कर लीजै । कंचन थाल कपूर की बाती , जगमग जोति...
जया एकादशी व्रत कथा लाभ

जया एकादशी व्रत कथा और लाभ – Jaya Ekadashi Vrat Katha

जया एकादशी Jaya Ekadashi माघ शुक्ल पक्ष की एकादशी को कहते हैं। जया एकादशी बहुत पूण्यदायक मानी जाती है। इसे भीष्म एकादशी Bhishm Ekadashi के नाम...
पापमोचनी एकादशी व्रत कथा

पापमोचनी एकादशी व्रत कथा Papmochani Ekadashi ki Katha

पापमोचनी एकादशी चैत्र महीने के कृष्ण पक्ष में आती है। पुराणों की कथा के अनुसार युधिष्ठिर ने श्री कृष्ण से चैत्र मास की कृष्ण पक्ष...
कन्या पूजन नवरात्री में

कन्या पूजन नवरात्री में अष्टमी या नवमी के दिन – Kanya Poojan

कन्या पूजन Kanya Poojan का नवरात्रि में बहुत महत्त्व है। दुर्गा अष्टमी या नवमी के दिन कन्याओं - छोटी लड़कियाँ का माँ दुर्गा के रूप में...
शीतला माता की पूजा व बासोड़ा

शीतला माता की आरती – Sheetla Mata Ki Arti

 शीतला माता की आरती Sheetla mata ki aarti के बोल यहाँ दिए गए है , पढ़ें और आनंद उठायें। शीतला माता की आरती Shitla Mata Ki...
सुंदरकांड पाठ के नियम व तरीका

सुंदर कांड के पाठ से लाभ , तरीका और नियम – Sundar Kand

सुंदर कांड तुलसीदास जी रचित श्रीरामचरितमानस का वह हिस्सा है जिसमे हनुमान जी की महिमा बताई गई है। शुभ अवसर पर सुंदरकांड sundarkand का पाठ...
व्रत उपवास के फायदे

व्रत उपवास करने के फायदे और तरीके – Vrat Upvas Benefits

व्रत उपवास Vrat Upvas हमारी संस्कृति के एक अभिन्न अंग है। इनका सिर्फ धार्मिक महत्त्व ही नहीं है बल्कि शारीरिक रूप से भी बहुत अधिक...
तुलसी के गीत भजन आरती

तुलसी माता के गीत भजन आरती – Tulsi Ke Geet Bhajan Aarti

तुलसी माता के गीत , भजन , तुलसी माता की आरती आदि तुलसी विवाह के समय गाये जाते है। तुलसी विवाह की विधि विस्तार पूर्वक जानने...
फुलेरा दूज कब क्यों कैसे

अरे ओरे छोरा नन्द जी का भजन – Are ore chora nandji ka bhajan

अरे ओरे छोरा नन्द जी का..... फाग का एक लोकप्रिय भजन है। फाग के भजन गीत Fag ke bhajan यानि होली के मस्ती भरे गीत जिनमें मधुरता...
सोमवती अमावस्या व्रत कथा

सोमवती अमावस्या व्रत कथा – Somvati Amavsya Vrat Katha

सोमवती अमावस्या व्रत कथा , व्रत और पूजन के बाद सुनी या कही जाती है । सोमवार को पड़ने वाली अमावस्या सोमवती अमावस्या कहलाती...
विनायक जी की कहानी

विनायक जी की कहानी – Vinayk ji ki katha kahani

विनायक जी की कहानी Vinayak ji ki kahani सभी प्रकार के व्रत में सुनी जाती है। विनायक गणेश जी हैं। बिंदायक जी की कहानी Bindayak...
बसंत पंचमी और पीले चावल

बसंत पंचमी महत्त्व और पीले मीठे चावल की विधि – Basant Panchami

बसंत पंचमी Vasant Panchmi बसंत ऋतु का एक खास दिन है। माघ शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को यह दिन आता है। बसंत ऋतु को ऋतुराज...
नीमड़ी माता की कहानी

नीमड़ी माता की कहानी बड़ी तीज पर – Nimadi Mata Ki Kahani Badi Kajli...

नीमड़ी माता की कहानी Nimadi mata ki kahani कजली तीज की पूजा के समय सुनी जाती है। कजली तीज को सातुड़ी तीज और बड़ी तीज...
dharmraj ki kahani makar sankranti vali

धर्मराज जी का व्रत और कहानी मकर संक्रांति के लिए – Dharmraj ji vrat...

धर्मराज जी का व्रत मकर संक्रांति के दिन से शुरु किया जाता है । धर्मराज जी के व्रत की कथा वर्ष-भर सुनी जाती है...

Latest Blogs

Most Popular