प्रदोष व्रत विधि और कहानी

प्रदोष का व्रत और कथा – Pradosh Vrat and story

प्रदोष का व्रत Pradosh vrat शुक्ल पक्ष और कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि यानि तेरस के दिन किया जाता है। प्रदोष का अर्थ होता है...
गणगौर के गीत पूजन के बाद

गणगौर के गीत पूजन के बाद के – Gangor ke geet poojan ke bad

गणगौर के गीत पूजन के बाद के समय बड़े उत्साह उमंग और भक्तिभाव से गाये जाते है। इनमे ओड़ो कोड़ो गीत odo kodo , बधावे का...
फुलेरा दूज कब क्यों कैसे

फुलेरा दोज कब कैसे और क्यों – Phulera doj

फुलेरा दोज Fulera doj भगवान श्री कृष्ण की भक्ति तथा होली के आगमन की तैयारी से सम्बंधित त्यौहार है। इसके अलावा Phulera dooj को...
करवा चौथ की कहानी वीरवती

करवा चौथ की कहानी वीरवती की व सात भाई एक बहन की – Karva...

करवा चौथ की कहानी Karwa choth ki kahani करवा चौथ के व्रत के समय सुनी जाती है। करवा चौथ की कहानियाँ में वीरवती की कहानी मुख्य रूप...
नेग नियम बयें

मकर संक्रांति पर सासू माँ को सीढ़ी चढ़ाना – Sasu ji ko siddhi

मकर सक्रांति पर सासू माँ को सीढ़ी चढाने का रिवाज है। सकरात पर कुछ जगह विशेष प्रकार के नेग ,बयें महिलाओं द्वारा किये जाते हैं।...
Khatu-shyam-Barbarik-story

खाटू श्याम बर्बरीक महाभारत कथा – Khatu shyam Barbarik story

खाटू श्याम बाबा Khatu Shyam के दर्शन के लिए दूर दूर से लोग आते हैं। इसका सम्बन्ध महान योद्धा और दानी  बर्बरीक Barbarik से है। श्री श्याम...
आरती कैसे करें

आरती कैसे करनी चाहिए – Aarti karne ka tareeka

आरती Aarti का भगवान की पूजा में बहुत महत्त्व होता है। पूजा की समाप्ति पर इन्हे गाने से पूजा में अज्ञानवश या असावधानी से यदि...
Ramdev ji ka mela

रामदेवरा मेला – Ramdevra mela

रामदेवरा मेला Ramdevra ka mela हर वर्ष भाद्रपद शुक्ल पक्ष की दूज से एकादशी तक भरता है। दूर दूर से लोग रामदेवजी के विशाल...
पीपल की पूजा और दवा

पीपल के पेड़ की पूजा से मिलने वाले ये लाभ बढ़ाते है सुख समृद्धि  ...

पीपल का पेड़ Peepal tree सदियों से पूजनीय माना जाता है। शास्त्रों में पीपल की जड़ में ब्रह्मा , तने में विष्णु और शाखाओं में...
शिव चालीसा

शिव चालीसा महाशिवरात्रि के लिए – Shiv Chalisa

शिव चालीसा Shiv Chalisa शिव जी की भक्ति का अच्छा माध्यम है। यहाँ शिव चालीसा पढ़ें और लाभ उठायें। शिव चालीसा - Shiv Chalisa  ॥दोहा॥ जय गणेश...
सत्यनारायण कथा दूसरा अध्याय

सत्य नारायण व्रत कथा दूसरा अध्याय Satya Narayan vrat katha -2

सत्य नारायण व्रत कथा में पांच अध्याय हैं। दुसरे अध्याय की कथा यहाँ बताई गई है। सत्य नारायण कथा के दुसरे अध्याय की कथा...
अनंत चतुर्दशी व्रत की कहानी

निर्जला एकादशी व्रत पारण पूजा विधि और इसका महत्त्व -Nirjala Ekadashi

निर्जला एकादशी या निर्जला ग्यारस  Nirjala Ekadashi का महत्त्व साल भर में आने वाली 24 एकादशी में सबसे अधिक होता है। निर्जला का मतलब है...
नरक चतुर्दशी की कहानी

नरक चतुर्दशी की कहानी – Narak Chaudas Ki Kahani

नरक चौदस की कहानी कहने और सुनने से व्रत का सम्पूर्ण लाभ मिलता है। यहाँ पढ़ें और जानें या कहानी नरक चौदस की कहानी Narak Chaudas Ki Kahani प्राचीन...
बाँकी माता रायसर जयपुर दर्शन

बांकी माता रायसर मंदिर दर्शन – Banki Mata Raisar Darshan

बांकी माता Banki Mata का मंदिर जयपुर ( राजस्थान ) जिले मे राइसर गाँव मे स्थित है । यह जमवारामगढ़ तहसील मे आता है ।...
सोमवती अमावस्या व्रत कथा

सोमवती अमावस्या व्रत कथा – Somvati Amavsya Vrat Katha

सोमवती अमावस्या व्रत कथा , व्रत और पूजन के बाद सुनी या कही जाती है । सोमवार को पड़ने वाली अमावस्या सोमवती अमावस्या कहलाती...
पथवारी की कहानी

पथवारी की कहानी शीतला माता के पूजन के समय – Pathwari Ki Kahani

पथवारी की कहानी Pathvari ki kahani शीतला सप्तमी और अष्टमी के दिन शीतला माता की पूजन के बाद पथवारी का पूजन करते समय सुनी जाती...
शनिवार की कहानी

शनिवार का व्रत विधि और कहानी – Saturday Fast and Story

शनिवार का व्रत Saturday Fast शनि की दशा दूर करने के लिए किया जाता है। इस दिन शनिदेव की पूजा की जाती है। शनिवार के...
लक्ष्मी जी की कहानी

लक्ष्मी जी की कहानी दीपावली पर -Laxmi Ji Ki Kahani

लक्ष्मी जी की कहानी या कथा Laxmi ji story व्रत के समय कहने सुनने से माँ लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है। यहाँ पढ़ें , सुने...
अनंत चतुर्दशी व्रत विधि

अनंत चतुर्दशी व्रत 2022 की विधि – Anant chaturdashi vrat 2022

अनंत चतुर्दशी व्रत Anant chaturdashi vrat भाद्रपद शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी ( भादवा सुदी चौदस ) के दिन किया जाता है . आम भाषा में इसे अनंत...
दुर्गा चालीसा

दुर्गा चालीसा – Durga Chalisa

दुर्गा चालीसा Durga Chalisa भक्तिभाव के साथ गाना माँ की भक्ति का एक उचित माध्यम है।  पढ़ें दुर्गा चालीसा - दुर्गा चालीसा  Durga Chalisa नमो नमो  दुर्गे...
करवा चौथ का उद्यापन विधि

करवा चौथ का उद्यापन कैसे करें सम्पूर्ण विधि – Karva Chauth Udyapan Vidhi

करवा चौथ का उद्यापन  Kava Chauth Ka Udyapan खास तरीके से होता है। करवा चौथ का उद्यापन या उजमन करने वाली महिला उद्यापन से पहले एक साल तक हर महीने पूर्णिमा...
Le-ke-gaura-ji-ko-sath

ले के गौरा जी को साथ शिव भजन – Le ke gaura ji ko...

ले के गौरा जी को साथ... शिवजी का एक लोकप्रिय भजन है। शिवजी को भोले भंडारी कहा जाता है क्योंकि महादेव  तुरंत प्रसन्न होने वाले देव...
मेरे आँगन में खेलो फ़ाग

मेरे आँगन में खेलो फ़ाग गजानन भजन – Mere angan me khelo fag

मेरे आँगन में खेलो फाग गजानन....फाग का लोकप्रिय भजन है। यह सभी देवी देवताओं के लिए एक साथ गाये जाने वाला फाग का भजन...
vaishakh purnima vrat

वैशाख पूर्णिमा व्रत , पूजा , महत्व और कथा – Vaishakh Poornima Vrat puja...

वैशाख महीने की पुर्णिमा Vaishakh Poornima  एक वर्ष मे आने वाली सभी पूर्णिमाओं मे अत्यधिक महत्व वाली कुछ पूर्णिमा मे से एक मानी जाती...
साईं बाबा की आरती

साईं बाबा की आरती – Sai Baba ki aarti

साईं बाबा की आरती Shri Sai Baba Ki Aarti  साईं बाबा की आरती आरती  उतारे   हम तुम्हारी  सांई  बाबा  । चरणों  के  तेरे  हम  पुजारी  बाबा । विद्या  बल...
बुधवार व्रत कहानी

बुधवार के व्रत की विधि और कहानी – Wednesday Fast and Story

बुधवार का व्रत Wednesday Fast  बुध गृह की शांति के लिए तथा सर्व-सुखों की इच्छा रखने वाले स्त्री पुरुषों द्वारा किया जाने वाला श्रेष्ठ व्रत है। इस...
मंगला गौरी व्रत की कहानी

मंगला गौरी व्रत की कथा – Mangla Gauri Vrat ki kahani

मंगला गौरी व्रत की कथा  Mangla Gauri Vrat Katha इस व्रत को करते समय कही और सुनी जाती है। इससे व्रत का सम्पूर्ण फल प्राप्त...
आमलकी एकादशी व्रत कथा

आमलकी एकादशी व्रत कथा Aamalaki Ekadashi Vrat Katha

आमलकी एकादशी Amalaki ekadashi फाल्गुन मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को कहते हैं। इसे आंवला एकादशी Amla Ekadashi या रंगभरनी एकादशी Rang bharni...
शंख बजाने ओर पूजा के लाभ

शंख बजाने के फायदे , पूजा वाला असली शंख और उसके प्रभाव – Shankh...

शंख conch से वैसे तो सभी परिचित हैं लेकिन शंख के फायदे , गुण , महत्त्व और वास्तु प्रभाव आदि के बारे में बहुत...
बछ बारस गोवत्स द्वादशी व्रत

बछ बारस गोवत्स द्वादशी व्रत पूजा विधि – Bachh Baras Govats dwadashi vrat

बछ बारस Bachh Baras को गौवत्स द्वादशी Govats dwadashi , बच्छ दुआ bach dua , बछवास , ओक दुआस , बलि द्वादशी आदि नामों से भी...

Latest Blogs

Most Popular