तुलसी माता की कहानी

तुलसी माता की कहानी – Tulsi Mata Ki Kahani

तुलसी माता की कहानी Tulsi mata ki kahani  कहना और सुनना विशेष लाभप्रद होता है। तुलसी घर में या आस पास मौजूद होने मात्र के बहुत लाभ होते...
ऋषि पंचमी की कहानी

ऋषि पंचमी की कहानी – Rishi Panchami ki kahani

ऋषि पंचमी की कहानी व्रत के समय कही और सुनी जाती है। ऋषि पंचमी के दिन सप्तऋषि की पूजा की जाती और व्रत किया जाता है। ऋषि...
श्राद्ध कनागत कैसे करें

श्राद्ध कनागत पितृपक्ष कब क्यों और कैसे – Shradh , Pitrapaksh , Kanagat

श्राद्ध Shradh करना श्रद्धा का प्रतीक होता है। यह अपने पूर्वजों तथा परिवारजन को याद करने व सम्मान देने का जरिया है। श्राद्ध माता , पिता ,...
गणेश चतुर्थी पूजन सरल विधि

गणेश चतुर्थी 2022 पूजन सरल विधि – Ganesh Chaturthi 2022 Pooja

गणेश चतुर्थी Ganesh Chaturthi गणेश जी का जन्म दिन है। गणेश जी का जन्म भाद्रपद शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को हुआ था। इसीलिए हर वर्ष...
सुंदरकांड पाठ के नियम व तरीका

सुंदर कांड के पाठ से लाभ , तरीका और नियम – Sundar Kand

सुंदर कांड तुलसीदास जी रचित श्रीरामचरितमानस का वह हिस्सा है जिसमे हनुमान जी की महिमा बताई गई है। शुभ अवसर पर सुंदरकांड sundarkand का पाठ...
रविवार व्रत विधि व कहानी

रविवार का व्रत विधि और कहानी -Sunday Fast And Story

रविवार का व्रत Sunday Fast सभी मनोकामना पूरी करने वाला श्रेष्ठ व्रत माना जाता है। इस दिन सुबह जल्दी स्नान करके शुद्ध और साफ़ कपड़े...
सोमवार के व्रत की कहानी

सोमवार का व्रत विधि और कहानी – Monday Fast and Story

सोमवार का व्रत साधारणतया दिन के तीसरे पहर तक होता है। व्रत में फलाहार या पारायण का कोई खास नियम नहीं होता है परन्तु...
रूप चतुर्दशी कैसे मनाते हैं

रूप चौदस , नरक चतुर्दशी , काली चौदस क्यों और कैसे मनाते हैं

रूप चौदस Roop Chodas को नरक चतुर्दशी Narak Chaturdashi या काली चौदस Kali Chodas भी कहते है। यह कार्तिक महीने में कृष्ण पक्ष की चतुदर्शी...
सोमवती अमावस्या व्रत कथा

सोमवती अमावस्या व्रत कथा – Somvati Amavsya Vrat Katha

सोमवती अमावस्या व्रत कथा , व्रत और पूजन के बाद सुनी या कही जाती है । सोमवार को पड़ने वाली अमावस्या सोमवती अमावस्या कहलाती...
बसंत पंचमी और पीले चावल

बसंत पंचमी महत्त्व और पीले मीठे चावल की विधि – Basant Panchami

बसंत पंचमी Vasant Panchmi बसंत ऋतु का एक खास दिन है। माघ शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को यह दिन आता है। बसंत ऋतु को ऋतुराज...
फुलेरा दूज कब क्यों कैसे

अरे ओरे छोरा नन्द जी का भजन – Are ore chora nandji ka bhajan

अरे ओरे छोरा नन्द जी का..... फाग का एक लोकप्रिय भजन है। फाग के भजन गीत Fag ke bhajan यानि होली के मस्ती भरे गीत जिनमें मधुरता...
गणगौर की कहानी

गणगौर की कहानी पूजा के समय – Gangaur Ki Kahani

गणगौर की कहानी Gangaur ki Kahani गणगौर की पूजा करने के बाद हाथ में आखे ( गेंहू के दाने ) लेकर सुनी जाती है। अपने...
गोमती चक्र सुख समृद्धि के लिए

गोमती चक्र से सुख समृद्धि और स्वास्थ्य लाभ – Gomti Chakra

गोमती चक्र समुद्र और नदी में पाए जाने वाले एक घोंघे ( Sea snail ) द्वारा निर्मित होते हैं। गोमती नदी ( द्वारका )...
देव उठनी एकादशी पूजन, कथा

देव उठनी एकादशी पूजन विधि व कथा – Dev Uthani gyaras puja

देव उठनी एकादशी Dev uthni ekadashi कार्तिक माह शुक्ल पक्ष की एकादशी होती है। इसे प्रबोधिनी एकादशी prabodhini ekadashi , देवोत्थान एकदशी Devotthan ekadashi या...
विनायक जी की कहानी

विनायक जी की कहानी – Vinayk ji ki katha kahani

विनायक जी की कहानी Vinayak ji ki kahani सभी प्रकार के व्रत में सुनी जाती है। विनायक गणेश जी हैं। बिंदायक जी की कहानी Bindayak...
नरक चतुर्दशी की कहानी

नरक चतुर्दशी की कहानी – Narak Chaudas Ki Kahani

नरक चौदस की कहानी कहने और सुनने से व्रत का सम्पूर्ण लाभ मिलता है। यहाँ पढ़ें और जानें या कहानी नरक चौदस की कहानी Narak Chaudas Ki Kahani प्राचीन...
मंगला गौरी व्रत और पूजन

मंगला गौरी व्रत और पूजा की सम्पूर्ण विधि – Mangla Gauri Vrat Pooja

मंगला गौरी व्रत Mangla Gauri Vrat सावन महीने के मंगलवार को किया जाता है। इस व्रत की शुरुआत सावन महीने के शुक्ल पक्ष के पहले...
सोलह सोमवार व्रत कथा

सोलह सोमवार व्रत की कथा – Solah somvar vrat ki kahani

सोलह सोमवार व्रत की कथा  Solah Somvaar Vrat Ki Katha सोमवार के व्रत के समय कही सुनी जाती है। जो इस प्रकार है - सोलह...

Latest Blogs

Most Popular