दुबलापन दूर करके हेल्थ कैसे बनायें – How to gain weight

284

दुबलापन कई लोगों के लिए परेशानी का कारण बन जाता है। मोटा होने के उपाय या वजन बढ़ाने के तरीके भी उतने ही तलाश किये जाते हैं जितने कि पतले होने या वजन कम करने के लिए । क्योंकि यह भी एक आम समस्या है।

बहुत पतले होने के क्या कारण होते है , इसके क्या नुकसान हैं , मोटे होने के लिए क्या करें , वजन बढ़ाने के लिए क्या करना चाहिए आइये जानें –

दुबले पतले होने के कारण

Reasons of thin body

भोजन

बहुत ज्यादा पतले होने का एक सामान्य और मुख्य कारण गलत तरीके से भोजन करना होता है जिसमें ये शामिल हैं –

  • खाने पीने की गलत आदत
  • समय से भोजन नहीं करना
  • रूखा सूखा भोजन खाना
  • बहुत कम मात्रा में खाना
  • भोजन में पोषक तत्वों की कमी होना
  • भूख नहीं लगना
  • भोजन में रुचि समाप्त हो जाना

पाचन तंत्र में खराबी

कुछ लोगों का पाचन तंत्र उन्हें पतला दुबला बनाये रखता है इसलिए वजन नहीं बढ़ पाता। इसमें सामान्य रूप से इस तरह की परेशानी हो सकती है –

इसके अलावा भी कई कारण हो सकते हैं जिसमें –

मानसिक तनाव , चिंता , दुखी मन होना : इससे खाना खाने की ना तो इच्छा होती है ना भोजन का पाचन सही तरीके से हो पाता है। इसका प्रभाव शरीर पर नजर आता है।

( इसे भी पढ़ें : मानसिक तनाव और चिंता से छुटकारा पाने के तरीके )

शारीरिक गतिविधि अधिक होना , लेकिन उतनी मात्रा में केलोरी नहीं ले पाना।

लम्बे समय तक बुखार बने रहना और भूख कम लगने के कारण खा नहीं पाना।

हारमोन असंतुलन इसका कारण हो सकता है जैसे थायराइड से सम्बंधित समस्या।

पतले बने रहने की चाह में कम खाने पीने की आदत बना लेना।

अनुवांशिक रूप से यानि घर के सदस्य माता पिता , भाई बहन सभी पतले हो तो यह एक कारण बन सकता है।

मेटाबोलिज्म का सही नहीं होना।

डायबिटीज , टीबी , थायराइड खून की कमी या किसी अन्य बीमारी से ग्रस्त होना।

शराब , सिगरेट , गुटका आदि का अत्यधिक सेवन करना ।

वजन कम होने , बहुत पतले होने के नुकसान

weight kam hone ke nuksan

कम वजन भी उतना ही नुकसान दायक होता है जितना अधिक वजन। कम वजन के कारण कुछ लोगों को ये परेशानी हो सकती है –

  • शारीरिक विकास में कमी रह जाना विशेषकर बच्चों में
  • इन्फेक्शन होने की अधिक संभावना , टीबी जैसे संक्रमण होने की सम्भावना बढ़ जाती है
  • जल्दी थक जाना , शारीरिक श्रम नहीं कर पाना
  • हड्डी कमजोर होना
  • त्वचा , बाल या दांतों की समस्या
  • खून की कमी होना , ताकत की कमी
  • प्रतिरोधक क्षमता कम होना इस वजह से बार बार बीमार पड़ना
  • महिलाओं में कम वजन के कारण मासिक सम्बन्धी परेशानी , गर्भावस्था में समस्या , समय से पहले डिलीवरी या कमजोर बच्चे का जन्म , बाँझपन जैसी परेशानी भी हो सकती है।

वजन बढ़ाने या मोटा होने के लिए क्या करें

mota hone ke liye kya kare

खाना और पाचन को सुधारें। रुचिकर और स्वादिष्ट खाना खाएं। समय पर भोजन करें। भोजन में पोष्टिक तत्व हों इसका ध्यान रखें।

संतुलित डाइट लें जिसमे कार्बोहाइड्रेट , प्रोटीन , फैट , विटामिन , खनिज , फाइबर आदि का अच्छा सम्मिश्रण हो।

रोजाना जितनी केलोरी खर्च करते हैं उससे 500 केलोरी अधिक लें।  इससे हर सप्ताह आधा किलो वजन बढ़ सकता है।  जितनी केलोरी अधिक लेंगे उतना वजन अधिक होता जायेगा।

प्रोटीन का उपभोग बढ़ा लें ताकि मांसपेशी मजबूत होकर उससे वजन बढ़ सके। इसके लिए दूध , अंडे , अनाज , दालें भोजन में शामिल करें।

कार्बोहाइड्रेट बढ़ाने के लिए शक्कर , शहद , अनाज , स्टार्च युक्त सब्जी तथा फल , आलू , मक्का , किनोवा , बीन्स , शकरकंद आदि लें ।

फल , सब्जी , सूखे मेवे , दाल , अंकुरित अनाज आदि से पर्याप्त मात्रा में विटामिन और खनिज प्राप्त हो सकते है। इन्हें आहार में जरुर शामिल करें। यदि किसी विशेष विटामिन या खनिज की कमी हो तो डॉक्टर की सलाह से विटामिन कैप्सूल लिए जा सकते है।

पाचन तंत्र से सम्बंधित समस्या के लिए आमाशय , लीवर , पित्ताशय या आँतों से सम्बंधित पूरी जाँच करवा कर उपयुक्त उपचार करवाएं। पेट में कीड़े हों तो डॉक्टर की सलाह से दवा लें।

थायराइड आदि हार्मोन की जाँच करवायें , जरुरत हो तो उपचार अवश्य लें।

किसी विशेष बीमारी की समस्या हो तो उसका पूरा निदान करवाएं।

नशीली चीजों का सेवन बंद कर दें। इनका पाचन तंत्र पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है।

( इसे भी पढ़ें : नशा करने के आदत से मुक्ति पाने के आसान उपाय )

मोटा होने के घरेलु उपाय

vajan badhane ka tarika

रात को सोते समय एक गिलास में एक चम्मच अश्वगंधा चूर्ण और एक चम्मच घी मिलकर कुछ दिन पीने से वजन और मोटापा बढ़ता है ।

द्राक्षावलेह , च्यवनप्राश , बादाम पाक , अश्वगंधा पाक जैसे पाक का सेवन करने से शरीर पुष्ट बनता है। विशेषज्ञ की सलाह लेकर इनका उपयोग जरूर करें।

दूध , दही , घी आदि का पाचन क्षमता के अनुसार अधिक सेवन करने की कोशिश की जा सकती है। दूध में फैट , कार्बोहाईड्रेट और प्रोटीन का अच्छा मिश्रण होता है साथ ही विटामिन और मिनरल भी होते हैं।

( इसे भी पढ़ें : दूध कब कितना और कैसे पियें )

मानसिक तनाव , चिंता से मुक्त रहने के लिए प्राणायाम , योगासन आदि सीखकर उनका अभ्यास करना चाहिए । इससे नींद भी अच्छी आती है। रोजाना कम से कम 7 घंटे जरुर सोयें।

रोज दिन में खाना खाने के बाद एक-दो घंटे सो जाने से मोटापा जल्दी चढ़ता है।

फल व सब्जी अच्छे से खाएं। सूखे मेवे अंजीर , अखरोट , बादाम , काजू , किशमिश आदि रोज खाएं।

एक बार में बहुत ज्यादा ना खाएं। थोडा थोडा करके 6 से 8 बार खाएं ताकि अधिक खा सकें।

ताजा हवा में पैदल घुमने से भी पाचन सही रहता है। भूख अच्छी लगती है और खाया पिया पच भी जाता है।

मोटे होने के लिए क्या खाएं

mote hone ke liye kya khaye

प्रोटीन

चीज , अंडे , दाल , फलियाँ , अनाज – गेहूं , चावल , जौ , बाजरा आदि।  सूखे मेवे – बादाम , काजू , पिस्ता , मूंगफली , सीड्स , फल – केले , सेब , संतरे , आम , अंगूर , सीताफल , सोयाबीन आदि।

कार्बोहाईड्रेट

चावल , किनोवा , जौ , गेहूं , दाल , शकरकंद , आलू , ब्रेड आदि।

फैट

बादाम , अखरोट , घी , तेल , बटर , दूध , नारियल तेल आदि।

एक्सरसाइज

इसमें रोजाना सुबह मॉर्निंग वॉक कर सकते हैं।  जिम ज्वाइन कर सकते है।  जिम ट्रेनर से वजन बढ़ाने सम्बन्धी एक्सरसाइज सीख कर उनका अभ्यास नियमित किया जा सकता है। कुछ एक्सरसाइज जैसे पुश अप , बेंच प्रेस , स्क्वेट्स , डेड लिफ्ट , ओवर हेड प्रेस , डिप्स , चिन अप्स आदि तथा साथ में अच्छी डाइट से वजन बढ़ सकता है ।

इन्हे भी जानें और लाभ उठायें :

मेटाबोलिज्म का मोटापे से क्या सम्बन्ध है

सूर्य जल चिकित्सा का तरीका और फायदे 

क्या अंडा शाकाहारी लोग भी खा सकते हैं 

पपीता खाने के फायदे नुकसान 

गाय के दूध में कौनसी आश्चर्यजनक बात होती है

रोजाना केला खाने से क्या होता है  

दीमक मिटाने के घरेलु उपाय

पत्नी को खुश कैसे रखें बिना पैसे खर्च किये 

खुशहाल जिंदगी के टिप्स

हाऊसिंग लोन लेने से पहले इसे जरूर पढ़ें  

हंसने के फायदे और लाफ्टर एक्सरसाइज

रद्दी पुराने अख़बार के शानदार उपयोग

घर में ये कौनसे औजारों की जरुरत पड़ती रहती है