एक्सरसाइज के बारे में भ्रम और संशय दूर करें – Exercise Doubt and Myth

526

एक्सरसाइज करना लाभदायक है यह तो सभी जानते हैं। लेकिन कुछ लोगों के मन में इस बारे में कई प्रकार के सवाल रहते हैं। जैसे कितनी एक्सरसाइज करें , चलें या दौड़ें , कसरत खाली पेट करें या कुछ खाकर करें , क्या छोड़ने के बाद मोटापा ज्यादा बढ़ जायेगा आदि।

शरीर पर जमा फैट कम करने के लिए कुछ लोग जिम ज्वाइन करते हैं , कुछ मोर्निंग वाक अथवा बगीचे में जाकर हल्की फुल्की कसरत अथवा योगासन करना पसंद करते हैं। खुद को फिट और मस्क्युलर देखने के लिए कुछ लोग भारी भरकम एक्सरसाइज तथा अतिरिक्त प्रोटीन सप्लीमेंट को अपनाते हैं।

क्या करें क्या नहीं , एक्सरसाइज से सम्बंधित यह लेख पढ़कर आपको अवश्य कुछ सवालों के जवाब मिल सकते हैं अतः पढ़ें –

एक्सरसाइज सवाल जवाब

सवाल : क्या एक्सरसाइज करने से फैट मसल्स में और छोड़ने के बाद मसल्स फैट में बदल जाती है ?

जवाब : ऐसा नहीं होता है। मसल्स और फैट अलग प्रकार की कोशिकाओं से बने होते हैं जिनकी कार्य प्रणाली भी एकदम अलग होती है। एक्सरसाइज से मसल्स फैलकर बड़ी और ताकतवर हो जाती है। शरीर फैट द्वारा ऊर्जा प्राप्त करके मसल्स को देता है। एक्सरसाइज करना बंद करने पर मसल्स वापस सिकुड़ जाती हैं ताकि उर्जा की बचत हो सके।

एक्सरसाइज करने वाले लोगों की थोड़ा अधिक खाने की आदत हो जाती है जो एक्सरसाइज छोड़ने के बाद भी बनी रहती है जिसके कारण फैट बढ़ जाता है। इसलिए गलत फहमी हो सकती है। व्यायाम छोड़ने के बाद भी संतुलित आहार लेने और सही जीवन शैली अपनाने से फैट नहीं बढ़ता।

सवाल : क्या चलने की बजाय उतनी ही दूरी तक दौड़ने से अधिक कैलोरी जलती है ?

जवाब : ऐसा नहीं है। एक किमी दौड़ने और एक किमी चलने से दोनों में करीब करीब समान कैलोरी जलती है। चलने का मतलब बातें करते हुए टहलना नहीं है। एकाग्रता के साथ निश्चित गति के साथ चलना है। दौड़ने से दूरी जल्दी तय की जा सकती है। अतः कहा जा सकता है कि 15 मिनट चलने की अपेक्षा 15 मिनट दौड़ने पर अधिक कैलोरी जलती है।

सवाल : क्या ज्यादा एक्सरसाइज करने से ज्यादा अच्छी फिटनेस मिलती है ?

जवाब : ऐसा नहीं है। सामान्य लोगों के लिए नियमित आधा घंटे का व्यायाम पर्याप्त होता है। सप्ताह में पांच दिन किसी भी तरह की एक्सरसाइज करके फिटनेस मेंटेन रखी जा सकती है। अधिक एक्सरसाइज के साथ ऑफिस का काम भी करना पड़े तो यह थकान और तकलीफ पैदा कर सकता है।

सवाल : क्या दर्द होता है तो ही एक्सरसाइज का फायदा मिलता है ?

जवाब : ऐसा नही है। एक्सरसाइज करते समय दर्द हो तो तुरंत रुक जाना चाहिए। अधिक दर्द महसूस होना किसी अंदरूनी चोट , मोच अथवा अन्य कारण से हो सकता है। अपनी क्षमता से अधिक एक्सरसाइज करना नुकसानदेह हो सकता है। क्षमता धीरे धीरे बढती है।

बायें हाथ अथवा चेस्ट में बाईं तरफ दर्द महसूस हो तो ह्रदय रोग की सम्भावना हो सकती है। जब भी व्यायाम करने पर दर्द महसूस हो तो कुछ देर आराम करने के बाद फिर कोशिश करनी चाहिए। अगर फिर भी दर्द महसूस हो तो डॉक्टर से सलाह अवश्य कर लेनी चाहिए।

सवाल : क्या मसल्स बनाने के लिए प्रोटीन सप्लीमेंट लेना जरुरी होता है ?

जवाब : ऐसा नहीं है। शरीर को एक निश्चित मात्रा में ही प्रोटीन की जरुरत होती है। अधिक मात्रा में प्रोटीन नुक्सानदेह भी हो सकता है। प्रोटीन के लिए शेक अथवा पाउडर जैसे सप्लीमेंट लेने की बजाय प्राकृतिक प्रोटीन युक्त पौष्टिक आहार लेना ज्यादा फायदेमंद होता है।

सवाल : क्या वजन बढ़ाना हो या कम करना हो तभी एक्सरसाइज करनी चाहिए ?

जवाब : ऐसा नहीं है। शारीरिक गतिविधि न होने पर शरीर कमजोर पड़ जाता है। अतः यह सबके लिए जरुरी है। रोजाना सुबह एक्सरसाइज करने से शरीर स्वस्थ रहता है तथा रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इससे शरीर के अंग सही तरीके से कार्य करते हैं और उर्जा भी बनी रहती है।

सवाल : क्या खाली पेट व्यायाम करना ज्यादा असरदार होता है ?

जवाब : ऐसा नहीं है। खाली पेट एक्सरसाइज करने से थकान महसूस हो सकती है। एक घंटा पहले कुछ खा लेना ठीक रहता है क्योकि शरीर को केलोरी बर्न करने के लिए उर्जा की जरुरत होती है।

सुबह व्यायाम कर रहे हैं तो उससे एक घंटा पहले थोड़ा खा सकते हैं। शाम को जिम जाते हों तो 3 – 4 घंटे पहले हल्का नाश्ता करने से व्यायाम के दौरान थकान नहीं होगी। योगासन के नियम अवश्य भिन्न हैं।

सवाल : क्या व्यायाम करने पर पसीना आना जरुरी होता है ?

जवाब : ऐसा नहीं है। पसीना सिर्फ शरीर के तापमान को नियंत्रण में रखने का जरिया है। पसीने से शरीर का तापमान कम होता है और कुछ नहीं। गर्म वातावरण में एक्सरसाइज से अधिक पसीना निकलता है और ठन्डे में कम लेकिन असर लगभग एक जैसा ही होता है। पसीना अधिक निकलने पर शरीर में पानी की मात्रा कम ना हो इसका ध्यान रखना चाहिए।

इन्हे भी जानें और लाभ उठायें :

एक्सरसाइज शुरू करने से पहले इसे जरूर पढ़ लें 

क्या मेटाबोलिज्म वजन बढ़ने का कारण होता है

वजन कब और कैसे नापें ताकि सही से पता चले

भोजन में फाइबर का होना क्यों जरुरी 

वजन कम करने के लिए क्या करें 

सोयाबीन का उपयोग कैसे करें सम्पूर्ण लाभ के लिए 

शाकाहार और मांसाहार के फायदे नुकसान

कोलेस्ट्रॉल व लिपिड प्रोफाइल को समझें और हार्ट अटेक से बचें

मोच आने पर क्या करें और कैसे बचें 

स्लिप डिस्क क्या है इसका क्या उपचार है

गलत तरीके से सोना क्यों खतरनाक , कैसे सोएँ