फ्रिज कितने लीटर , फ्रॉस्ट फ्री , सिंगल डोर , डबल डोर कौनसा लें – Fridge Buying Tips

63

फ्रिज का घर में होना अब एक आवश्यकता बन चुकी है। बाजार में कई कंपनी के , कई साइज़ के और कई तकनीक के फ्रिज उपलब्ध है। आइये जाने फ्रिज कितने तरह के आते हैं और कौनसा फ्रिज खरीदना चाहिए।

फ्रिज खरीदने के लिए सबसे पहले परिवार में कितने सदस्य हैं और आपका बजट कितना है इस पर विचार कर लेना चाहिए। परिवार के सदस्यों के अनुसार सिंगल डोर , डबल डोर या और बड़ा फ्रिज खरीदा जा सकता है।

फ्रिज में मुख्य दो हिस्से होते हैं। एक फ्रिज का वह हिस्सा जिसमे 3 से 5 डिग्री तापमान रहता है यानि पानी जमने के तापमान से थोड़ा ज्यादा। इस हिस्से में दूध , दही , बचा हुआ खाना , फल सब्जी आदि रखे जाते हैं।

दूसरा हिस्सा बर्फ ज़माने के लिए होता है। यहाँ तापमान अत्यधिक ठंडा रहता है। इसे फ्रीजर कहते हैं। बर्फ की ट्रे , आइसक्रीम , प्रिजर्व मटर , कॉर्न आदि इस हिस्से में रखे जाते हैं।

इसे भी पढ़ें : फ्रिज में कौनसे सामान नहीं रखने चाहिए 

फ्रिज कितने लीटर का मतलब

फ्रिज के अंदर सामान रखने की जगह कितनी है , इसे लीटर में बताया जाता है। फ्रिज के अंदर की जगह यानि लम्बाई , चौड़ाई और ऊंचाई को सेंटीमीटर में नापा जाता है। इन्हें गुणा करने से फ्रिज के अंदर की जगह का वोल्यूम पता चल जाता है। इसे लीटर में बदल लिया जाता है।

एक लीटर = 10 सेमी लम्बाई x 10 सेमी चौड़ाई x 10 सेमी ऊंचाई

सिंगल डोर और डबल डोर फ्रिज

सिंगल डोर और डबल डोर फ्रिज मुख्य रूप से घर में काम आने वाले फ्रिज हैं।

सिंगल डोर फ्रिज

इस फ्रिज में एक ही दरवाजा होता है। फ्रिज के अंदर के सभी हिस्से यानि फ्रीजर , फ्रिज और फल सब्जी का कंटेनर सभी को काम में लेने के लिए एक ही दरवाजा होता है। ये अपेक्षाकृत सस्ते होते हैं।

इनका आकार छोटा होता है इसलिए छोटे घर या छोटे ऑफिस , क्लिनिक या दुकान आदि के लिए ये सुविधा जनक रहते हैं। ये 50 लिटर से 300 लिटर तक की कैपेसिटी के आते हैं।

डबल डोर फ्रिज

डबल डोर में दो दरवाजे होते हैं। एक दरवाजा फ्रीजर के लिए और दूसरा दरवाजा बाकि फ्रिज के लिए। दो दरवाजे होने कर कारण फ्रिज की ठंडक कम नहीं होती। क्योकि ज्यादातर एक ही दरवाजा खोलने की जरुरत पड़ती है। दूसरा बंद रहता है। इससे बिजली की बचत भी होती है।

डबल डोर फ्रिज में ऊपर छोटा डोर फ्रीजर के लिए और नीचे बड़ा डोर फ्रिज और फल सब्जी कंटेनर के लिए होता है। ये फ्रिज लगभग 265 लीटर से 650 लीटर तक की क्षमता में मिल जाते हैं।

इनके अलावा ज्यादा जरुरत या व्यवसायिक उपयोग के लिए फ्रिज के अन्य डिजाईन भी आते हैं जो इस प्रकार हैं –

साइड बाई साइड फ्रिज

ये बड़े आकार के फ्रिज होते हैं। इनमें आलमारी की तरह दो पल्ले वाले दरवाजे होते हैं। बड़े परिवार के लिए ये ठीक रहते हैं। इनके फ्रीजर का आकार अपेक्षाकृत काफी बड़ा होता है। सामान रखने वाली शेल्फ की संख्या भी अधिक होती हैं। दो दरवाजे होने के कारण बिजली की बचत हो सकती है।

साइड बाय साइड फ्रिज 810 लिटर तक की कैपेसिटी वाले हो सकते हैं। इसमें कुछ मॉडल में दरवाजा खोले बिना ठंडा पानी या बर्फ निकाले जा सकते हैं।

बोटम माउंटेड फ्रिज

बोटम माउंटेड फ्रिज में फ्रीजर नीचे की तरफ होता है और फ्रिज ऊपर की तरफ होता है। इसमें फल सब्जी निकलने के लिए ज्यादा झुकना नहीं पड़ता। नीचे बड़ा फ्रीजर होने के कारण जमी हुई चीजें ज्यादा रखने की सुविधा मिल जाती है। बर्फ भी ज्यादा जमा सकते हैं।

कितने लीटर का फ्रिज लें

परिवार में सदस्य कितने हैं उसके अनुसार फ्रिज लेना चाहिए। इसके अलावा खुदकी जरुरत कितनी है , कितना सामान आप फ्रिज में रखना चाहते हैं उसके अनुसार फ्रिज के अंदर की जगह देखकर फ्रिज लेना चाहिए।

फ्रिज जितना बड़ा होगा बिजली की खपत भी उतनी ही अधिक होगी। फ्रिज में पर्याप्त सामान ( ना कम , ना ज्यादा ) भरा होने पर फ्रिज ज्यादा अच्छी तरह चलते हैं। ज्यादा खाली फ्रिज में भी बिजली ज्यादा जलती है। अतः फ्रिज के सही साइज़ का होना जरुरी होता है। सामान्य तौर पर कितने लीटर का फ्रिज लेना चाहिए यह इस प्रकार है –

अकेले के लिए

एक अकेले इन्सान के लिए यदि घर में जगह कम है तो  50 – 80  लीटर का फ्रिज लिया जा सकता है। पर यदि घर में जगह हो तो 200 लीटर तक की क्षमता वाला फ्रिज खरीदा जा सकता है। इसमें सिंगल और डबल डोर दोनों ऑप्शन मिल जाते हैं।

छोटे परिवार के लिए

3 या 4 लोगों के छोटे परिवार के लिए 200 लिटर से 350 लिटर कैपेसिटी वाला डबल डोर फ्रॉस्ट फ्री रेफ्रीजरेटर खरीदा जा सकता है। मॉडल में अपनी जरुरत के अनुसार वेजिटेबल बॉक्स और फ्रीजर का साइज़ चेक करके फ्रिज खरीदना चाहिए।

बड़े परिवार के लिए

बड़े परिवार जिसमे 6 या ज्यादा सदस्य हो तो बड़ा फ्रिज ही देखना चाहिए। 300 से 650 लिटर की क्षमता वाला फ्रिज खरीदा जा सकता है। बड़े फ्रिज में डबल डोर , साइड बाई साइड , बोटम माउंटेड आदी सभी विकल्प मिलते हैं। जो भी पसंद और बजट में फिट हो जाये उसे ले सकते हैं।

फ्रिज में क्या देखें

फ्रिज में शेल्फ कैसी हैं

फ्रिज में जिस जगह सामान रखा जाता है वह शेल्फ मजबूत होनी चाहिए। इसके लिए टेम्पर्ड ग्लास वाली शेल्फ सबसे अच्छी होती है। अतः जिसमे ऐसी शेल्फ हो उसे प्राथमिकता देनी चाहिए।

फ्रिज में शेल्फ एडजस्ट करने की सुविधा मिलती है। शेल्फ ऊपर नीचे करके सामान रखने की जगह की ऊंचाई कम ज्यादा कर सकते हैं। यह आपके लिए सुविधाजनक होना चाहिए।

बिना दरवाजा खोले फ्रिज से पानी व बर्फ

फ्रिज से पानी और बर्फ लेने के लिए अक्सर फ्रिज खोला जाता है। इससे बिजली का उपभोग बढ़ जाता है अतः पानी बाहर ही मिल जाये तो ऐसे फ्रिज को पहले देखना चाहिए। कुछ बड़े फ्रिज बिना दरवाजा खोले पानी और बर्फ लेने की सुविधा के साथ आते हैं। आपके पैमाने पर ये खरे उतरते हैं तो इन्हें देखा जा सकता है।

फ्रिज में बर्फ जल्दी जमाना

कुछ फ्रिज बर्फ जल्दी जमाने की सुविधा के साथ आते हैं। यदि आपको अक्सर जल्दी बर्फ जमाने की अक्सर जरुरत पड़ती है तो ऐसी सुविधा वाला फ्रिज देख सकते हैं। इनमे मौजूद एक स्विच के उपयोग से बर्फ जल्दी जमती है। काम हो जाने के बाद स्विच बंद करने से नार्मल टाइम के हिसाब से बर्फ जमती है।

फ्रिज में ताजा फल सब्जी

फल और सब्जी के खाने अलग हो तो अच्छा रहता है। फ्रिज में नमी को कंट्रोल करने वाला फीचर होने से सब्जियां ताजा रहती हैं। सब्जी के लिए फ्रिज में दी गई बास्केट में आपकी जरुरत के अनुसार जगह है या नही यह चेक कर लेना चाहिए।

फ्रिज में आवाज

फ्रिज चलने पर ज्यादा आवाज नहीं आनी चाहिए क्योंकि फ्रिज लगातार चलते हैं। ज्यादा आवाज परेशान कर सकती है। अतः फ्रिज चलवा कर देख लेना चाहिए।

फ्रिज में चाइल्ड लॉक

बच्चे फ्रिज बार बार खोलते रहते हैं। इससे आपको असुविधा होती हो या इस कारण से बिजली ज्यादा जलती हो तो जिस फ्रिज में चाइल्ड लॉक की सुविधा उपलब्ध हो उसे खरीदा जा सकता है।

कन्वर्जन ( फ्रिज में अदला बदली )

कुछ मॉडल में फ्रिज वाले हिस्से को फ्रीजर में तथा फ्रीजर को फ्रिज में बदलने की सुविधा मिलती है। यदि ऐसी जरुरत पड़ती हो तो ही ऐसा फ्रिज लेना चाहिए।

इन्वर्टर कम्प्रेसर वाला फ्रिज

इन्वर्टर टेक्नोलोजी एक नई तकनीक है। सामान्य फ्रिज में कम्प्रेशर बार बार चालू और बंद होता रहता है। वहीं इन्वर्टर कंप्रेसर वाले फ्रिज का कम्प्रेसर लगातार चलता रहता है। सिर्फ जरुरत के अनुसार उसकी गति में परिवर्तन होता है। इन्वर्टर वाले फ्रिज में बिजली कम जलती है अतः बिल में कमी आती है। ये फ्रिज अपेक्षाकृत महंगे आते है।

बिजली जाने पर भी ठंडक

एक अन्य नई तकनीक के अनुसार यदि बिजली चली जाती है तो भी कुछ फ्रिज में ऐसी सुविधा आती है कि सामान 5 -7 घंटे तक ख़राब नहीं होते हैं। इन स्पेशल सुविधा वाले फ्रिज की कीमत अन्य की अपेक्षा थोड़ी ज्यादा हो सकती है। आपके यहाँ बिजली की समस्या अक्सर रहती हो तो ऐसे फ्रिज पर विचार किया जा सकता है।

स्टार रेटिंग्स

BEE ( Bureau of energy Efficiency ) फ्रिज के बिजली के उपभोग के आधार पर स्टार रेटिंग देती है। 5 स्टार रेटिंग वाले फ्रिज सबसे ज्यादा किफ़ायत से बिजली का उपयोग करते हैं। शुरू में इनके लिए अधिक कीमत देनी पड़ती है लेकिन बाद में ये बिजली की बचत करके उसकी पूर्ती कर देते हैं।

गारंटी , वारंटी तथा सर्विस

किसी भी नये उत्पाद मे निर्माण सम्बन्धी समस्या आ सकती है। अतः कौनसी कंपनी गारंटी वारंटी की सुविधा ज्यादा समय के लिए देती है , कितनी जल्दी आपकी प्रॉब्लम सोल्व करती है तथा आपके शहर में कौनसी कंपनी का सर्विस सेंटर है। इन सब बातों पर भी जरुर गौर कर लेना चाहिए।

इन्हे भी जानें और लाभ उठायें :

दुबलापन दूर करके हेल्थ बनाने के आसान उपाय 

वायरस क्या होते हैं और बीमारी कैसे फैलते हैं आसान हिंदी में

सात चक्र और उन्हें जाग्रत करने का लाभ व तरीका 

दीवार पर पेंट पुट्टी प्राइमर कब क्यों कैसे

बर्थ सर्टिफिकेट कैसे और कहाँ बनवाएँ , ये क्यों बहुत जरुरी 

रुद्राक्ष के लाभ और असली रुद्राक्ष की पहचान 

खांड और मिश्री कैसे बनते हैं जो इतने लाभदायक होते हैं 

टिड्डी कहाँ से आती है और खतरनाक क्यों है 

मूंगफली क्यों है सूखे मेवे से भी ज्यादा पौष्टिक 

पिस्ता शादीशुदा पुरुष को क्यों जरूर खाना चाहिए