करवा चौथ के सोलह श्रृंगार क्यों और कैसे – Karva chauth Solah singar

175

करवा चौथ पर सोलह श्रृंगार करके सजना किसी भी महिला के लिए अत्यंत ख़ुशी की बात होती है। विशेषज्ञों के अनुसार हमारे यहाँ प्रचलित सोलह श्रृंगार में शामिल सभी चीजें सुंदरता बढ़ाने के साथ पति पत्नी के रिश्ते तथा महिला के स्वास्थ्य को लाभ पहुँचाने वाली हैं। आइये जाने सोलह श्रृंगार कौनसे हैं , इनके क्या फायदे हैं तथा इन्हे करते समय क्या ध्यान रखना चाहिए।

करवा चौथ के सोलह श्रृंगार

Karva chauth par solah shringar

सिंदूर

मांग मे सिंदूर भरने से सहस्र चक्र सक्रिय रहता है । इससे दिमाग शांत , तेज , एकाग्र बना रहता है । यह सही निर्णय लेने की शक्ति मे बढ़ोतरी करता है । सिंदूर में पारा होता है जो चेहरे पर झुर्रियां होने से रोकता है तथा इससे विध्युतीय उत्तेजना नियंत्रित होती है । ( karva chauth shringar sindoor … )

सिंदूर हमेशा प्राकृतिक तरीके से बना हुआ ही उपयोग में लेना चाहिए । सिन्दूर का पेड़ होता है जिसके सूखे बीज को बारीक पीसने से सिन्दूर प्राप्त होता है। केमिकल से बना सिन्दूर नुकसान देह होता है।

सिंदूर को सर पर बीच मे लंबाई मे लगाना चाहिए साइड मे नहीं। सिंदूर को बालों के अंदर छिपाना नहीं चाहिए । यह दिखाई देना चाहिए ।

बिंदी

बिंदी लगाने से आज्ञा चक्र सक्रिय होता है । इससे आध्यात्मिक ऊर्जा मे वृद्धि होती है तथा ऊर्जावान बने रहने मे मदद मिलती है । ( karva chauth shringar bindi … )

गोल बिंदी ललाट के आकार के अनुसार छोटी या बड़ी लगाई जा सकती है ।

काजल

काजल लगी आँखें महिला के ह्रदय में भरे प्यार और कोमलता को दर्शाती हैं । काजल आँखों को ठंडक देता है तथा सूरज की हानिकारक किरणों से एवं धूल मिट्टी से बचाने में मदद करता है । ( karva chauth shringar Kajal … )

बाजार मे मिलने वाले केमिकल युक्त काजल की बजाय घर पर बने हुए काजल अधिक लाभप्रद होते हैं । काजल से आँखों मे जलन या अन्य परेशानी हो तो इसे नहीं लगाना चाहिए । ( Karva chauth ke solah singar .. )

( इसे भी पढ़ें : काजल सुरमा आँखों में लगाना सही या गलत )

मेहँदी

मेहँदी का गहरा रंग गहरे प्यार को दर्शाता है । मेहँदी की ठंडक से तनाव दूर करने , खुश और ऊर्जावान बने रहने मे मदद मिलती है । ( karva chauth shringar Mehandi … )

शुद्ध और असली मेहँदी भरोसेमंद जगह अथवा अच्छे ब्रांड की लेनी चाहिए । सस्ती केमिकल युक्त मेहंदी से त्वचा को नुकसान हो सकता है । अतः सावधानी रखें ।

( इसे भी पढ़ें : बालों में मेहंदी लगाने के फायदे नुकसान )

गजरा

गजरा बालों में लगा हो तो यह धैर्य और ताजगी देता है । सकारात्मक सोच मे वृद्धि करता है । चमेली या मोगरे के फूलों से बना गजरा अधिक लाभ प्रदान करता है । ( karva chauth shringar Gajra … )

बालों मे लगा गजरा खुशबू फैलाने के साथ ही बालों की सुंदरता भी बढ़ता है । सफ़ेद खुशबूदार ताजा फूलों से बना गजरा बालों मे सजाना चाहिए ।

मांगटीका

मांगटीका महिला के यश और सौभागी का प्रतीक होता है । यह शरीर के तापमान को नियंत्रित रखकर सूझ बुझ को बढ़ाने मे सहायक होता है । ( karva chauth shringar Mangtika … )

माँगटीका मे चाँद टीका , बोरला , सोने चाँदी से बने , स्टोन या कुन्दन युक्त कई सुंदर डिज़ाइन मे आसानी से मिल जाते हैं । चेहरे पर निखार पैदा करने वाला और सही जगह स्थिर रहने वाला मांग टीका लगाना चाहिए । (Karva chauth ke solah shringar .. )

मंगल सूत्र

मंगल सूत्र के काले मोती प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने के सहायक होते है । यह पति पत्नी को एक सूत्र मे बांधता है तथा महिला के दिमाग और मन को शांति प्रदान करने मे सहायक होता है । ( karva chauth shringar Mangal sutra … )

काले और पीले मोतियों से बना हुआ ही मंगल सूत्र पहनना चाहिए । टूटे फूटे मोती वाला या खंडित पेंडल वाला मंगल सूत्र नहीं पहनना चाहिए ।

कर्णफूल

कान में बाली अथवा इयरिंग आदि पहनने से कान पर मौजूद बहुत से एक्यूपंक्चर व एक्यूप्रेशर पॉइंट्स पर असर पड़ता है । इससे मासिक के समय परेशानी कम होती है । इसके अलावा किडनी और मूत्राशय (ब्लैडर) को भी स्वस्थ बनाए रखने मे मदद मिलती है । ( karva chauth shringar earing … )

बहुत ज्यादा वजन वाले इयरिंग नहीं पहनने चाहिए । चेहरे पर सुंदर लगने वाले सोने , चाँदी या स्टोन वाले टॉप्स , बाली या अन्य डिज़ाइन पहने जा सकते हैं ।

कंगन चूड़ी

चूड़ियां पति-पत्नी के भाग्य और संपन्नता की प्रतीक होती हैं। चूड़ियों से निकालने वाली आवाज सकारात्मक ऊर्जा मे वृद्धि करती है । साथ ही इससे ब्लड सर्कुलेशन सही बने रहने मे मदद मिलती है । ये नर्वस सिस्टम बनाए रखने मे भी सहायक होती है । ( karva chauth shringar Kangan chudi … )

काँच , लाख या सोने चाँदी से बने कंगन चूड़ी सुंदर और लुभावने रंग और डिज़ाइन मे मिल जाते हैं । अपनी पसंद के अनुसार पहने जा सकते हैं । काले रंग की चूड़ी या कंगन आदि नहीं पहनने चाहिए ।

लाल जोड़ा

लाल रंग शुभ मंगल और सौभाग्य का प्रतीक माना जाता है । लाल रंग शक्ति और प्रभाव को दर्शाता है । यह निराशा दूर कर स्वाभिमान की भावना पैदा करता है । भावनाओं को नियंत्रित करके स्थिरता प्रदान करता है । ( karva chauth ki dress  … )

लाल के अलावा दूसरे अच्छे रंग भी पहने जा सकते हैं । लेकिन काले , सफ़ेद , गहरे नीले , भूरे या सलेटी रंग की ड्रेस करवा चौथ के दिन पहनना ठीक नहीं रहता है ।

अंगूठी

अंगूठी पहनने से पति पत्नी के बीच सदैव प्रेम बना रहता है । अंगूठी पहनी जाने वाली अनामिका अंगुली का संबंध ह्रदय और दिमाग से जुड़ा होता है । अतः दिल दिमाग स्वस्थ बनाए रखने मे यह सहायक होती है । ( karva chauth ke liye Ring … )

अंगूठी अनामिका अंगुली मे पहनना सबसे अच्छा होता है । लेकिन यह किसी भी अंगुली मे पहनी जा सकती है । राशि रत्न वाली अंगूठी पहनने से पहले विशेषज्ञ से सलाह कर लेनी चाहिए । ( Karva chauth par solah shringar …)

कमरबंद

चांदी का कमरबंद पहनने से महिलाओं को माहवारी तथा गर्भावस्था में होनेवाले सभी तरह के दर्द से राहत मिलती है।  चांदी का कमरबंद पहनने से महिलाओं में मोटापा भी नहीं बढ़ता । ( karva chauth ke liye Kamarband… )

इसे तगड़ी भी कहा जाता है। यह मांसपेशी के खिंचाव और हड्डी मे दर्द को नियंत्रित करती है । चाँदी का बना हुआ कमरबंद सही रहता है ।

बिछिया

महिलाओं के पैरों की उंगलियों की नसें उनके गर्भाशय से जुड़ी होती हैं, बिछिया पहनने से उन्हें गर्भावस्था व गर्भाशय से जुड़ी समस्याओं से राहत मिलती है. बिछिया पहनने से महिलाओं का ब्लड प्रेशर भी नियंत्रित रहता है । ( karva chauth ke liye Bichhiya… )

चाँदी की बिछिया पहननी चाहिए । सोने से बनी बिछिया पैरों मे पहनना ठीक नहीं माना जाता है ।

पायल

चांदी की पायल महिला को जोड़ों व हड्डियों के दर्द से राहत देती है। साथ ही पायल के घुंघरू से उत्पन्न होनेवाली ध्वनि से नकारात्मक ऊर्जा घर से दूर रहती है।  ( karva chauth ke liye Payal … )

चाँदी या स्टोन वर्क वाली पायल पहनी जानी चाहिए । सोने से बनी पायल पैरों मे पहनना ठीक नहीं रहता है । ( Karva choth per solah singar … )

बाजूबंद

बाजूबंद बाजू पर दबाव डालता है इससे महिलाओं के शरीर में ताक़त बनाए रखने व पूरे शरीर में उसका संचार करने में सहायता मिलती है. ( karva chauth ke liye Bajuband … )

इत्र परफ्यूम

इत्र या अन्य परफ्यूम मानसिक तनाव दूर करते है तथा ताजगी बनाए रखते हैं ।  ( karva chauth ke liye Perfume … ) गुलाब की सुगंध वाला इत्र दूसरों को अपनी ओर आकर्षित करता है।  परफ्यूम या इत्र को कलाई पर या अन्य नर्व पॉइंट्स पर लगाना चाहिए। भीनी भीनी मध्यम खुशबू वाले परफ्यूम अच्छे रहते हैं ।

इसे भी पढ़ें : परफ्यूम खरीदते या लगाते समय जरूर ध्यान रखें ये बातें )

इनके अलावा कुछ लोग नथ या आलता को सोलह श्रृंगार मे शामिल करते हैं । अलग जगह अलग रिवाज के अनुसार थोड़ा बहुत अंतर हो सकता है ।

इन्हे भी जानें और लाभ उठायें :

चाय नुकसान करती है या फायदा , कितनी पियें 

वजन क्या मेटाबॉलिज्म के कारण बढ़ता है 

वीगन डाईट क्या होती है इसके फायदे नुकसान क्या हैं 

किनोवा सुपर हेल्दी फ़ूड क्यों कहा जाता है 

स्किन कर बालों पर मुल्तानी मिट्टी लगाने के फायदे 

टैटू बनवाने से पहले ये जानना क्यों बहुत जरुरी 

कहीं आप अजीनोमोटो वाला खाना तो नहीं खा रहे 

रुद्राक्ष के फायदे और असली की पहचान

बच्चा एक ही होना चाहिए या दो सही होते हैं 

थर्मामीटर कौनसा लें बुखार नापने के लिए

बिना गर्भावस्था स्तन से दूध के रिसाव का कारण और उपाय

बच्चे का अंगूठा चूसना कैसे छुड़वाएं

श्रीयंत्र का पूजन , उसे सिद्ध करना और आश्चर्यजनक लाभ

स्वस्तिक किस प्रकार आपको लाभ दिलवा सकता है

पूजा में शंख का महत्त्व

सुन्दर कांड का पाठ नियम , सही तरीका और लाभ