खरबूजा से मिलते ये अनगिनत फायदे – Muskmelon Benefits

1364

खरबूजा Kharbuja या Muskmelon गर्मी से निजात दिलाने वाला एक शानदार फल है। इसमें भरपूर पानी , खनिज, विटामिन और फायबर होते हैं जो इसे एक बहुत लाभदायक फल बनाते है।


पके हुए खरबूजे में बहुत मीठी खुशबू आती है इसीलिए इसे मस्क मेलन कहते हैं। मस्क का मतलब खुशबु होता है। दुनिया भर में अलग शेप , साइज , रंग और स्वाद के खरबूजे उगाये जाते हैं। केंटालूप भी एक प्रकार का मस्कमेलन ही है।खरबूजा

खरबूजा Kharbooja यदि सही परिस्थिति में बेल पर पूरी तरह पका हुआ हो तो यह बहुत खुशबूदार होता है और एक अनूठा मीठा स्वाद देता है। खरबूजे की बेल में नर और मादा फूल अलग अलग होते है। कुछ फूलों में नर और मादा दोनों अंग होते है। पोलीनेशन कीट पतंगों द्वारा होता है।

भारत में खरबूजे का उत्पादन उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक होता है। इसके अलाव पंजाब और आंध्र प्रदेश में भी  खरबूजा बहुत होता है। इसके उत्पादन के लिए अधिक तापमान की आवश्यकता होती है।

खरबूजे के बीज खाने योग्य होते है और बहुत लाभदायक होते है। कई जगह इसके बीज सुखाकर खाने में काम लिए जाते है। ये प्रोटीन तथा ओमेगा -3 फैटी एसिड का बहुत अच्छा स्रोत होते हैं। इसीलिए ठंडाई में खरबूजे के बीज डाले जाते हैं।

खरबूजे के पोषक तत्व – Muskkmelon  Nutrients

खरबूजे में प्रचुर मात्रा में विटामिन A तथा विटामिन C होता है। इसके अलावा इसमें कॉपर , आयरन , पोटेशियम , मैग्नेशियम , कैल्शियम तथा विटामिन B समूह के थायमिन , नियासिन , फोलेट , पायरोडॉक्सिन आदि पाए जाते है।

तरबूज की तरह इसमें भी सिटरुलिना नामक तत्व होता है जो मांसपेशियों को ताकत देता है। इसमें फैट तथा कोलेस्ट्रॉल जरा सा भी नहीं होता। खरबूजे के बीज में भी कई प्रकार के खनिज और विटामिन होते है। बीज में विशेषकर ओमेगा -3 फैटी एसिड होते हैं जो हार्ट के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

कृपया ध्यान दें : किसी भी लाल रंग से लिखे शब्द पर क्लीक करके उसके बारे में विस्तार से जान सकते हैं 

खरबूजा के फायदे – Muskmelon Benefits

वजन कम

खरबूजे में केलोरी बहुत कम होती है। साथ ही इसमें पाए जाने वाले फायबर , पानी , खनिज , विटामिन आदि इसे एक उचित आहार बनाते हैं जिसके उपयोग से पोषक तत्व तो भरपूर मिलते हैं लेकिन वजन बिल्कुल नहीं बढ़ता।

अतः वजन कम करने की कोशिश चल रही हो तो इसे बेफिक्र होकर खा सकते हैं। इसे खाने के बाद जल्दी भूख नहीं लगती यह भी वजन करने में मदद करता है। इससे मिलने वाला पोटेशियम भी वजन कम करने में सहायक होता है।

गुर्दे की पथरी

खरबूजा का नियमित उपयोग गुर्दे की पथरी में फायदा करता है। इसमें पानी तथा लाभदायक खनिज की अच्छी मात्रा होने के कारण यह किडनी को स्वस्थ रखता है।

खरबूजा खाने से पेशाब ज्यादा आता है इससे गुर्दे की सफाई होती रहती है। इससे शरीर से विषैले तत्व निकल जाते है और गुर्दे में पथरी आदि की परेशानी नहीं होती। इसी गुण के कारण यह यूरिन इन्फेक्शन आदि से भी बचाता है।

त्वचा

खरबूजे में स्किन को निखारने वाले सभी प्रकार के तत्व होते है जो स्किन को प्राकृतिक सुंदरता देते हैं तथा स्किन में ग्लो लाते हैं। यह त्वचा को उम्र के प्रभाव से बचाता है। यह स्किन के रूखेपन को मिटाता है , दाग धब्बे झाइयाँ आदि दूर करता है तथा  पिम्पल्स से बचाता है।

बाल

प्रोटीन और विटामिन B समूह के कारण यह बाल और नाख़ून मजबूत बनाता है। यह सिर की त्वचा और बाल दोनों को हेल्थी बनाये रखता है। इसका नियमित सेवन करने से बाल गिरने भी कम हो जाते हैं। खरबूजे के गूदे को पीस कर सिर और बालों पर लगाने पर यह एक कंडीशनर की तरह काम करता है।

ह्रदय

खरबूजा में पाए जाने वाला तत्व खून में होने वाले क्लोट को रोकता है। क्लोट बनने के कारण ह्रदय को नुकसान हो सकता है। इससे ब्लड प्रेशर नियमित रहता है जो हार्ट के स्वस्थ रहने के लिए जरुरी होता है। यह आर्टरी को लचीला बनाये रखने में सहायक होता है, इससे हार्ट अटैक का खतरा कम हो जाता है।

ब्लड प्रेशर

खरबूजे में पाया जाने वाला पोटेशियम इलेक्ट्रोलाइट बैलेंस को बनाये रखने में महत्त्व रखता है। इस वजह से ब्लड प्रेशर नियमित बना रहता है। और यह हृदय रोग से  बचाने का लाभ भी देता है।

डायबिटीज

फायबर के कारण डायबिटीज में लाभदायक होता है। यह शुगर के कारण किडनी को होने वाले नुकसान से बचाता है। इसमें जो शक्कर होती है वह आसानी से पचने वाली होती है जो डायबिटीज वाले लोगों के लिए नुकसान देह नहीं होती है। इसका ग्लाइसेमिक इंडेक्स भी कम होता है। फिर उपयोग से पहले चिकित्सक से परामर्श कर लेना चाहिये  ।

आँखें

विटामिन A आँखें स्वस्थ रखता है। यह आँखों के मेक्यूला को नष्ट होने से बचाता है। नजर कमजोर नहीं होती तथा मोतियाबिंद जैसी  समस्या को दूर भी रखता है।

प्रतिरोधक क्षमता

विटामिन C की प्रचुर मात्रा होने के कारण खरबूजे का यूज़ प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि करता  है। यह रक्त में श्वेत कणों की संख्या में वृद्धि करता है। इससे संक्रमण से लड़ने की शक्ति में बढ़ोतरी होती है।

थकान

खरबूजे में  विटामिन B समूह के विटामिन होते है। ये विटामिन शरीर की ऊर्जा को बनाये रखने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाते है। इसलिए खरबूजा खाने से थकान मिटती है। इसका नियमित सेवन ऊर्जा से भर देता है।

कब्ज

फायबर और पानी से भरा होने के कारण खरबूजा कब्ज मिटाने में मददगार होता है। यह शरीर को ठंडक देता है। पेट के अल्सर होने पर इसका उपयोग लाभदायक होता है।

गर्भावस्था

खरबूजा में पाए जाने वाला आयरन माँ तथा बच्चे दोनों के लिए जरुरी होता है। शरीर से सोडियम की मात्रा को कम करके लाभ देता है। इसमें पाए जाने वाले विटामिन बच्चे को जन्म के समय होने वाली परेशानियों से बचाते हैं। गर्भावस्था में खरबूजे का सेवन मॉर्निंग सिकनेस में आराम दिलाता है।

अनिद्रा

खरबूजे से मिलने वाले तत्व दिमाग की नसों के तनाव को कम करके अनिद्रा जैसी समस्या को दूर करने में सहायक होते हैं। खरबूजा खाने से दिमाग को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन मिलती है। इससे दिमाग शांत और तनाव मुक्त होता है। यह दिमाग की शक्ति तथा स्मरण शक्ति में भी वृद्धि करता है।

माहवारी

खरबूजा में पाया जाने वाला विटामिन C माहवारी के समय होने वाली तकलीफ को कम करता है। इसका पोटेशियम शरीर से अतिरिक्त सोडियम को कम करता है। इससे अधिक रक्तस्राव में कमी आती है तथा क्लोट बनने जैसी परेशानी नहीं होती है।

कैंसर

विटामिन C एक ताकतवर एंटीऑक्सीडेंट है जो हानिकारक फ्री रेडिकल्स के दुष्प्रभाव से रक्षा करता है , फ्री रेडिकल कैंसर जैसे गंभीर रोग का कारण बनते हैं।  इसमें पाए जाने वाले फ्लेवोनोइड्स और कैरोटेनॉयड्स कैंसर विरोधी तत्व होते हैं जो कैंसर से बचाते हैं।

एसिडिटी

यह एसिडिटी कम करता है। एसिड रिफ्लक्स की समस्या में इसे खाने से लाभ होता है।

खरबूजे से सम्बंधित सावधानी – Be Careful

—  खरबूजा एक बार में अधिक मात्रा में नहीं खाना चाहिए।

—  खरबूजा अच्छे से धोकर ही काटना चाहिए अन्यथा छिलके की गन्दगी गूदे को ख़राब कर सकती है।

—  जरुरत से ज्यादा पका हुआ पिलपिला खरबूजा नुकसानदेह हो सकता है इसे नहीं खाना चाहिए।

—  गर्म प्रकृति वाले लोगों को खरबूजा ज्यादा नहीं खाना चाहिए। इससे आँखों में परेशानी हो सकती है।

—  खरबूजा भोजन करने के लगभग दो घण्टे बाद खाना अधिक उपयुक्त होता है।

—  यदि ज्यादा मात्रा में खरबूजा खाने से परेशानी हो रही हो तो मीठा शरबत पीने से आराम मिलता है।

इन्हें  भी जानें और लाभ उठायें :

इमली / खीरा ककड़ी / पालक / हरी मिर्चप्याज / करेला / तुरई / भिंडी / चुकंदर गाजर / लौकी / मूली अदरक / आलू  / नींबू / टमाटर / लहसुन  / आंवला केला / अनार / सेब  / अमरुद / सीताफल /  अंगूर गन्ना  पपीता / संतरा नाशपती / बील तरबूज आम / जामुन / मशरूम  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here