मेथी पाक चक्की / बर्फी – Methi pak chakki

233

मेथी पाक चक्की Methi pak chakki इस रेसिपी से बनायें। कड़वी नहीं लगेगी लेकिन फायदा पूरा मिलेगा। मेथी शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होती है। मेथी के फायदे विस्तार से जानने के लिए यहाँ क्लिक करें

मेथी का सर्दी में उपयोग करने से मसल्स मजबूत होती है , जाइंट पेन मे आराम मिलता है , हीमोग्लोबिन बढ़ता है , केल्शियम की पूर्ति होती है । मेथी की चक्की या मेथी के लड्डू सर्दी के मौसम खाये जाने वाले पोष्टिक नाश्ते है ।

मेथी की चक्की का उपयोग कर रहे हों तो तेल व खटाई का उपयोग कम ही करना चाहिए। हरी सब्जियां व सात्विक भोजन करना चाहिए । इससे सर्दी का यह पौष्टिक नाश्ता पूरे साल शरीर को फायदा देता है।

मेथी की चक्की के लिए सामान

Ingradiant For Methi Chakki

मेथी                      1 कटोरी

आटा                     4 कटोरी

गोंद                     150 ग्राम

नारियल                   1 गोला

कालीमिर्च                25 ग्राम

पोस्त                     50 ग्राम

धनिया मिंजी             1 कटोरी

खरबूजा मिंजी            50 ग्राम

बादाम                  100 ग्राम

पीपलामूल                10 ग्राम

पीपल                  8-10 पीस

गोखरू                1/2 कटोरी

गुड़                       2 कटोरी

बूरा                      3 कटोरी

छाछ                  2.5 कटोरी

घी                       2 कटोरी

मेथी की चक्की बनाने का तरीका

Methi Chakki Recipe

इसके लिए पहले काम में आने वाले सामान कुछ इस प्रकार तैयार कर लें –

दाना मेथी को धोकर कपड़े पर फैला कर सुखा ले । सूखने पर मेथी को दरदरा सूजी जैसा पीस ले । इस मेथी में छाछ डालकर 5-6 घंटे के लिए भिगो दें । 5-6 घंटे मे मेथी सारी छाछ सोख लेगी। इसे हाथ से खुल्ला खुल्ला कर लें ताकि गुठलिया नहीं रहे। इस तरह मेथी को चक्की बनाने के लिए के लिए तैयार कर लें।

बादाम के टुकड़े कर लें ।

नारियल को कद्दू कस कर लें  ।

गोखरू, पीपलामूल और पीपल को बारीक पीस लें ।

पोस्त ( खसखस ) को बीनकर साफ कर ले ।

गोंद को मिक्सी में पीस ले ।

साबुत धनिये से मींजी बनाये ओर उसे पीस लें । ये सब तैयार होने के बाद –

कढ़ाई मे आधा कटोरी घी गरम करें। इसमें काली मिर्च धीमी आंच पर ही हिलाते हुये तल लें।

काली मिर्च घी मे डालने पर घी के ऊपर तैरने लग जाए तो समझें कि कालीमिर्च तलकर तैयार है।  इसे घी से निकाल लें और ठंडी होने पर दरदरी पीस लें ।

बचा हुआ डेढ़ कटोरी घी भी कढ़ाई मे डाल दें। इसमें आटा डाल दें और लगातार हिलाते हुये सुनहरा भूरा होने तक सेंक लें ।

अब इसमे पिसा हुआ गोंद थोड़ा थोड़ा करके फैलाकर डालते जाएँ ओर हिलाते जाएँ। पूरा गोंद डालने के बाद 3-4 मिनिट गोंद सिकने दें।

अब तैयार की हुई मेथी इसमें डाल दें। 6 -7 मिनिट तक सेंके ताकि मेथी की सारी नमी निकल जाए।

अब गैस बंद कर दें और पहले से तैयार किए हुये बादाम , नारियल , गोखरू, पीपलामूल , पीपल ,  खसखस , धनिया मींजी , खरबूज के बीज , कालीमिर्च आदि सब डालकर मिक्स कर लें ।

दूसरी कढ़ाई मे गुड़ और 1 कटोरी पानी लेकर गैस पर चढ़ायें। गुड मिक्स होने पर इसे छान ले ताकि यदि कोई कचरा हो तो निकल जाए । अब इसे पकाएँ और एक तार की चाशनी बना ले। यह गुड़ की चाशनी तैयार है।

गुड़ की चाशनी मेथी वाले मिश्रण में डालकर अच्छे से मिक्स कर दें। अब बूरा मिला दें।

एक थाली पर या बर्फी वाली ट्रे घी लगाकर ग्रीस कर लें । मेथी की चक्की का मिश्रण इसमें फैला कर समतल कर लें । लगभग आधा घंटे बाद जब थोड़ा ठंडा हो जाये तो चौकोर या अपनी पसंद के शेप में कट लगा दें। दो तीन घंटे बाद जब अच्छे से सेट हो जाये तो निकाल कर किसी अन्य डब्बे में भर सकते हैं।

धनिये की मींजी बनाने का तरीका जानने के लिए यहाँ क्लिक करें

इन्हे भी जानें और लाभ उठायें :

पूरण पोली बनाने की विधि तुअर दाल और चने की दाल से 

गाजर गोभी शलगम का मिक्स अचार 

कच्ची हल्दी का अचार कैसे बनाते है 

टमाटर की सॉस घर पर बनाये बाजार जैसी 

चाट मसाला घर पर बनायें शुद्ध और स्वादिष्ट 

केर सांगरी सब्जी की रेसिपी पचकुटे वाली

गुलगुले मीठे पुए 

आलू की चिप्स सफ़ेद और क्रिस्पी 

मूंग दाल का हलवा

साबूदाना खिचड़ी

सिंघाड़े के आटे का हलवा

बादाम का हलवा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here