मुल्तानी मिट्टी कैसे लगायें स्किन और बालों पर – Multani mitti use for skin and hair

1561

मुल्तानी मिट्टी Multani mitti का उपयोग बहुत पुराने समय से स्किन को निखारने तथा सिर व बालों को धोने के लिए किया जाता रहा है। अभी भी कई कॉस्मेटिक उत्पाद बनाने वाली कम्पनियाँ अपने उत्पादों में इसका उपयोग करती है। इसे अंग्रेजी भाषा में fuller’s earth कहा जाता है।

मुल्तानी मिट्टी कई प्रकार के खनिज तत्वों से भरपूर होती है जिसमे मुख्य रूप से एल्युमिनियम सिलिकेट के कम्पोजिशन पाए जाते हैं। इसमें तेल , गन्दगी आदि को सोखने की जबरदस्त क्षमता होती है। पुराने समय में ऊन की सफाई के लिए मुल्तानी मिट्टी को काम में लिया जाता था।

मुल्तानी मिट्टी का उपयोग त्वचा से तेल , पसीना , गन्दगी आदि को साफ करने में किया जाता है। इस तरह यह मुहाँसे और त्वचा की अन्य परेशानी दूर करने में उपयोगी साबित होती है। बाल धोने के लिए भी यह अच्छी रहती है।

वर्तमान में कई कॉस्मेटिक प्रोडक्ट में मुल्तानी मिट्टी यूज़ की जाती है। जैसे – फेस मास्क , क्रीम , साबुन , शावर जेल , फाउंडेशन , पाउडर , कंसीलर तथा बालों के लिए शेम्पू , कंडीशनर , ड्राई शेम्पू आदि।

आप इसके साबुत टुकड़े खरीद कर पाउडर घर पर बना सकते हैं। इसे पीसना मुश्किल नहीं होता है। या किसी विश्वसनीय स्टोर से मुल्तानी मिट्टी का पाउडर लेकर भी काम में ले सकते हैं।

मुल्तानी मिट्टी के फायदे स्किन के लिए

Multani mitti ke fayde for skin

– स्किन से ऑइल , पसीना और गन्दगी सोख कर सफाई करती है।

– रक्त संचार बढ़ा कर त्वचा स्किन में निखार लाती है।

– तेल सोखने के गुण के कारण यह एक्नी Acne तथा पिम्पल्स होने से बचाती है।

– यह स्क्रब की तरह काम करके डेड स्किन सेल , ब्लैक हेड , व्हाइट हेड आदि निकाल कर प्राकृतिक ग्लो लाती है।

– त्वचा को एकसार करके रंग साफ करती है।

– धुप से जली त्वचा Sunburn और पिगमेंटेशन आदि ठीक करती है।

– रेशेज और संक्रमण Infection आदि को रोकती है।

झुर्रियां होने से बचाती है।

मुल्तानी मिट्टी के फायदे बालों के लिए

Multani mitti benefits for hair

– एक मृदु क्लीनर की तरह सिर का प्राकृतिक तेल कायम रख कर सफाई करती है।

– सिर की त्वचा से रुसी , एक्जीमा आदि मिटा कर बाल गिरने से रोकती है।

– यह कंडीशनर की तरह काम करके बालों को हुए नुकसान की भरपाई कर देती है।

– यह बालों की वृद्धि में सहायक होती है तथा सिर व बालों की बदबू मिटा देती है ।

मुल्तानी मिट्टी कैसे लगाएं स्किन पर

Multani mitti skin par lagane ka tarika

चमक लाने के लिए – glow

– दो चम्मच गुलाब जल में एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी मिला लें। जरुरत के हिसाब से और पानी मिलकर पेस्ट बना लें।  चेहरे और गर्दन पर लगा कर आधा घंटे बाद धो लें।

– एक कटोरी में दो चम्मच मुल्तानी मिट्टी लें। इसमें एक माध्यम आकार का लाल टमाटर पीस कर मिला दें। तीन चार बूँद नींबू का रस मिला दें। जरुरत लगे तो पानी मिलकर स्मूथ पेस्ट बना लें। इसे चेहरे और गर्दन पर आधा घंटे के लिए लगा लें। फिर पानी से धो लें।

मुहाँसे – Pimples

एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी में आधा चम्मच शहद , चौथाई चम्मच हल्दी पाउडर और पानी मिला कर पेस्ट बना लें। इसे 15 -20 मिनट लगा कर रखें फिर पानी से धो लें। सप्ताह में दो तीन बार नियमित रूप से लगायें।

मुल्तानी मिट्टी मे एलोवेरा का रस और पानी मिलाकर लगा ले। आधा घंटे के बाद धो लें।

संतरे के छिलके का पाउडर और मुल्तानी मिट्टी बराबर मात्रा में मिला लें जरुरत के अनुसार गुलाबजल मिला लें। इसे चेहरे पर लगा कर सूखने के बाद धो लें। सप्ताह में एक बार इस प्रयोग लाभ होता है।

धूप से काली हुई स्किन व डार्क स्पॉट – Sunburn

मुल्तानी मिट्टी और नारियल पानी बराबर मात्रा में लेकर पेस्ट बना लें हलके हाथ से मालिश करें। 10 – 15 मिनट लगा रहने दें फिर गुनगुने पानी से धो लें। हर सप्ताह करें। इससे सन बर्न मिटता है।

एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी , शहद , नीबू का रस , टमाटर का रस और दूध मिलाकर चेहरे पर लगायें। 15 मिनट बाद ठंडे पानी से धो लें। इससे डार्क स्पॉट कम होते हैं।

ड्राई स्किन – Dry skin

Multani Mitti  में दही और शहद मिलाकर दो तीन बूँद नीबू के रस की मिलाकर लगायें।

मुल्तानी मिट्टी , पका हुआ पपीता , शहद और पानी मिलकर पेस्ट बना लें। इसे लगायें।

मुल्तानी मिट्टी में दूध और खीरे का रस मिलाकर लगायें।

दाग धब्बे मिटाने के लिए – Pigmentation

मुल्तानी मिट्टी में ग्लिसरीन और बादाम का पेस्ट मिलाकर लगायें।

Multani Mitti में दूध मिलाकर लगायें।

मुल्तानी मिट्टी में पानी , कसा हुआ आलू , ताजा क्रीम और नीबू का रस मिलाकर लगायें । 20 मिनट बाद धो लें।

स्क्रब और एक्सफोलीएट – Scrub

संतरे के छिलके का पाउडर , चन्दन का पाउडर और मुल्तानी मिट्टी मिला लें। इसमें बेसन और तुलसी पीस का मिला लें।  यह डीप क्लीनिंग के लिए बहुत अच्छा है। सप्ताह में एक बार करें।

क्या मुल्तानी मिट्टी रोज लगा सकते हैं

multani mitti daily use kare ya nahi

इसे रोज नहीं लगाना चाहिए। क्योंकि इससे यह अधिक ड्राईनेस पैदा कर सकती है। इस वजह से ऑइल ग्लेंड्स ज्यादा आईल बनाने लगती हैं जो नुकसान देह हो सकता है। Multani Mitti face pack सप्ताह में दो बार ही लगायें। स्किन सेंसिटिव हो तो सप्ताह में एक बार ही लगायें।

बालों के लिए मुल्तानी मिट्टी – Hair

  • दो मुहे बालों के लिए दही में मिलाकर लगायें।
  • बालों की ग्रोथ के लिए इसमें एलोवेरा जेल और नीबू का रस मिलकर लगायें।
  • रूखे बालों के लिए मुल्तानी मिट्टी में दही और थोडा शहद मिलाकर लगायें , आधा घंटे बाद पानी से धो लें।
  • अधिक तैलीय बाल हों तो मुल्तानी मिट्टी में रीठा पाउडर बराबर मात्रा में मिलाकर पानी के साथ पेस्ट बनाकर लगायें।
  • रुसी के लिए एक चम्मच मेथी पानी में 12 घंटे भिगो कर पीस लें , पांच चम्मच मुल्तानी मिट्टी और एक चम्मच नीबू का रस उसमे मिला लें। जरुरत के अनुसार पानी मिला लें। सिर में लगा लें। आधा घंटे बाद धो लें।
  • तीन चम्मच मुल्तानी मिट्टी इसमें एक अंडा मिला लें। एक चम्मच नीबू का रस , एक चम्मच आँवले का रस और एक चम्मच बीयर मिला लें। इसे बालों में लगाकर 20 रखें फिर शेम्पू कर लें।

मुल्तानी मिटटी के नुकसान

Side effects of Multani mitti

मुल्तानी मिट्टी की ऑइल सोखने की क्षमता के कारण यह स्किन को ज्यादा रुखा बना सकती है। अतः इसका अधिक उपयोग नुकसान दायक हो सकता है।  यदि स्किन ड्राई है या सेंसिटिव है तब विशेष ध्यान रखना चाहिए। ऐसे में दूध , एलोवेरा जेल या शहद आदि मिलाकर ही इसे लगाना चाहिए।

वैसे तो मुल्तानी मिट्टी सुरक्षित होती है लेकिन यह मुंह में , पेट में या आँख में नहीं जानी चाहिए अन्यथा परेशानी हो सकती है।

स्किन सेंसिटिव हो तो एलर्जी टेस्ट करने के बाद ही उपयोग करना चाहिए। इसके लिए हाथ पर थोड़े से हिस्से में मुल्तानी मिट्टी लगा कर आधा घंटे बाद धो लें। 24 घंटे बाद तक यदि कोई नुकसान न दिखे तो उपयोग कर सकते हैं।

मुल्तानी मिट्टी खानी नहीं चाहिए अन्यथा यह आँतों को ब्लोक कर सकती है और किडनी में स्टोन बना सकती है।

इन्हे भी जानें और लाभ उठायें :

काजल या सुरमा आदि आँख में लगाने से पहले यह जरूर पढ़ लें 

कलौंजी के फायदे और यह प्याज के बीज से कैसे अलग 

बच्चों के नाम रखते समय इन बातों का ध्यान जरूर रखें

स्टील के बर्तन , सिंक आदि नए जैसे बनाये रखने के लिए क्या करें 

कौनसे कपड़े सिर्फ ड्राई क्लीन करवाने चाहिए और क्यों 

धन वृध्दि के लिए झाड़ू का वास्तु प्रभाव 

गहने आभूषण जूलरी की सफाई घर पर कैसे करें 

मच्छरों से बचने के आसान उपाय 

नींबू के छिलके फेंकिए मत , इस तरह उपयोग में लें  

बिना पैसे खर्च किये पत्नी को खुश कैसे रखें