रामनवमी का पूजन घर पर इस प्रकार करें – Ramnavmi puja at home

91

रामनवमी Ram Navmi चैत्र शुक्ल पक्ष की नवमी का दिन होता है । इस दिन भगवान श्रीराम का जन्म राजा दशरथ और रानी कौशल्या के पुत्र के रूप मे हुआ था । त्रेता युग मे राक्षसों के अत्याचार समाप्त करने के लिए भगवान विष्णु ने श्रीराम के रूप मे सातवाँ अवतार लिया था ।

भगवान राम का जन्म दोपहर 12 बजे हुआ था । अतः इस दिन दोपहर 12 बजे तक व्रत रखा जाता है । व्रत का पारायण पंचामृत से किया जाता है ।

रामनवमी कैसे मनाते हैं

राम मंदिर मे यह त्यौहार धूमधाम से मनाया जाता है । घर पर भी भगवान राम की पूजा की जाती है तथा व्रत रखा जाता है । मंदिरों मे भगवान राम की मूर्ति को दूध , दही, घी, शहद, गंगाजल आदि से नहलाया जाता है । नए वस्त्र , सुंदर पुष्पमाला आदि से राम सीता को सजाया जाता है । विभिन्न प्रकार के व्यंजन तथा फल आदि का भोग लगाया जाता है । शंख और घंटा बजाकर हर्षोल्लास दर्शाया जाता है । गाजे और बाजे के साथ शोभा यात्रा निकाली जाती है ।

घर पर पूजा करने का तरीका इस प्रकार है –

रामनवमी पूजन सामग्री

पंचामृत , वस्त्र , लच्छा , रोली , अक्षत ( चावल ) , चन्दन , पुष्प माला , धूप , दीप , घी , तुलसी के पत्ते , कमल का फूल , फल , मिठाई (भोग के लिए ) ।

रामनवमी पूजन विधि

सुबह स्नान आदि करके पूजा स्थान को साफ करें ।

लकड़ी के पट्टे पर राम भगवान की मूर्ति या तस्वीर स्थापित करें ।

राम नवमी व्रत का संकल्प करें ।

भगवान को शुद्ध जल तथा पंचामृत से स्नान करवाये ।

नए वस्त्र आदि अर्पित करें ।

राम भगवान को रोली चावल व चन्दन लगाए ।

मोली अर्पित करें ।

पुष्प , फूल माला इत्यादि अर्पित करें ।

घी का दीपक व धूप (अगरबत्ती ) जलाएं ।

फल व मिठाई का भोग लगायें ।

श्रीराम के मंत्रों का जाप , रामायण का पाठ , राम चरित मानस का पाठ , राम रक्षा स्रोत का पाठ आदि जो आप कर सकें वो करें ।

भगवान राम की स्तुति और आरती गायें ।

आरती के लिए क्लिक करें –

श्रीराम भगवान की आरती 

आरती के बाद पंचामृत व भोग की मिठाई उपस्थित जन में भी बाँट दें ।

इन्हे भी पढ़ें और लाभ उठायें :

सुंदर कांड के पाठ से लाभ , तरीका और नियम अवश्य जान लें

सत्यनारायण भगवान का व्रत , पूजा विधि और सामग्री 

पूर्णिमा व्रत के लाभ तथा महत्वपूर्ण जानकारी

पीपल के पेड़ की पूजा विधि और इसका महत्व

करवा चौथ के व्रत का उद्यापन कैसे करें

वास्तु के अनुसार दिशा का महत्व और असर444

बिना ए सी घर को ठंडा कैसे रखें 

पत्नी को बिना पैसे खर्च किए खुश कैसे रखें

शरीर के सात चक्र और उन्हे जागृत करने का तरीका

बुरे सपने या अच्छे सपने का क्या अर्थ होता है