दीमक मिटाने और दूर करने के घरेलु उपाय – Termite control

590

दीमक लग जाना एक आम समस्या है। यह छोटा सा जीव Deemak बड़ा नुकसान कर सकता है। लकड़ी का फर्नीचर जैसे दरवाजे , अलमारी,

टेबल तथा कपड़े , कागज व गत्ते के सामान को नमी युक्त जगह में दीमक लगने का खतरा होता है। ध्यान नहीं रखें पर दीमक इन्हे नष्ट कर

सकती है पता चलने तक बहुत देर हो चुकी होती है। इनकी कोलोनी में लाखों की संख्या में दीमक हो सकती है जो एक सप्ताह में लगभग 4

-5  किलो लकड़ी या गत्ता आदि नष्ट कर सकती है। अतः जितना हो सके उतना जल्दी दीमक से छुटकारा पाने के तरीके अपनाकर दीमक दूर

कर देनी चाहिए।

दीमक

 

दीमक कई प्रकार की होती हैं। आमतौर से मिट्टी से लकड़ी में लगने वाली सब टेरेनियन दीमक subterranean termite अधिक पायी जाती

है। यह दीमक मिट्टी की एक पतली सुरंग बना देती है जो कई फ़ीट लम्बी हो सकती है। इस सुरंग का उपयोग खुद के घर या कॉलोनी से खाने

पीने के सामान तक आने जाने  के लिए करती हैं। मिट्टी की पतली सुरंग दीमक को बाहरी हमले से बचाती है और नमी बनाये रखने में मदद

करती है। मिट्टी से जुड़ी सतह के संपर्क में रखी हुई लकड़ी में दीमक का हमला होने की संभावना अत्यधिक होती है।

 

 

दीमक लकड़ी में क्यों लगती है

lakdi me deemak lagne ke karan

 

दीमक का आहार सेल्युलोस होता है जो पेड़ , पौधे , लकड़ी , घास आदि में प्रचुर मात्रा में होता है। दीमक के पाचन तंत्र में मौजूद अति

सूक्ष्मतत्व के कारण सेल्युलोस आसानी से पच जाता है और इससे दीमक को जीने लायक पोषक तत्व मिलते हैं। दीमक का मुँह लकड़ी और

उस जैसे सामान खाने के लिए अनुकूल होता है।

 

नमी और अँधेरे वाली जगह दीमक जल्दी लगती है। आपको घर में कहीं भी दीमक वाली मिट्टी दिखे तो तुरंत इसे मिटाने के प्रयास

शुरू कर देने चाहिए अन्यथा बहुत ज्यादा नुकसान हो सकता है। इनके आतंक से बचाने के लिए दीमक का ट्रीटमेंट करने वाली कई कंपनिया

बाजार में खुली हुई हैं। कुछ घरेलु उपाय करके भी दीमक की परेशानी से बचा जा सकता है। दीमक मिटाने के घरेलु उपाय यहाँ दिए गए है

इन्हे अपनाकर दीमक की परेशानी से मुक्ति पाई जा सकती है।

 

दीमक मिटाने के घरेलु उपाय – Termite home remedies

 

नारंगी का तेल – Orange oil

 

यह प्राकृतिक रूप से दीमक को कंट्रोल करने के काम लिया जा सकता है। इसमें मौजूद डी लिमनीन नामक तत्व कीड़े मकोड़ों के लिए विषैला

होता है विशेषकर दीमक के लिए। नींबू और संतरे नारंगी के छिलकों में इसी तत्व के कारण तेज गंध होती है।

नारंगी का तेल लकड़ी पर ब्रश या स्प्रे की मदद से लगाने पर दीमक नष्ट हो जाती हैं । नारंगी का तेल थोड़े थोड़े दिन के अंतराल से लगा देने

दीमक नहीं लगती ।

 

धूप – Sunlight

 

दीमक से धूप सहन नहीं होती। दीमक लगे किसी सामान को धूप में रखने पर या तो दीमक उस सामान को छोड़कर चली जाएगी या मर

जाएगी।

 

बोरेक्स ( सोडियम बोरेट ) – Borax

 

यह दीमक के नर्वस सिस्टम को बंद करके उनका पानी समाप्त कर देता है इससे दीमक मर जाती है। एक गिलास पानी में एक चम्मच बोरेक्स

पाउडर मिलाकर दीमक वाली जगह स्प्रे करने से दीमक को दूर किया जा सकता है। इससे सभी तरह की दीमक दूर होती है। इसे एक दिन

छोडकर एक दिन पांच छह बार स्प्रे कर देना चाहिए। इसे ब्रश से भी लगाया जा सकता है।

इसे सावधानी से काम में लेना चाहिए।

 

गत्ता – Cardboard

 

पानी में गत्ता भिगोकर दीमक आने वाली जगह के पास रखने से दीमक गत्ते में लग जाती है।

इस दीमक लगे गत्ते को सावधानी से उठाकर बाहर ले जाकर जला दें। तीन चार बार ऐसा करने से दीमक समाप्त हो सकती है।

 

खस का तेल – Vetiver oil

 

खस ( vetiver ) की जड़ से निकलने वाला खुशबूदार तेल दीमक को दूर रखता है। लकड़ी की दराज या आलमारी में में खस का इत्र रखा हो

तो दीमक नहीं लगती। इससे दूसरे कीड़े मकोड़े भी दूर रहते है। खस का तेल लकड़ी पर स्प्रे करने से दीमक चली जाती है। कुछ किसान कीड़े

दूर रखने के लिए खेतों में खस उगाते हैं।

 

नमक का घोल – Salt

 

नमक कीटनाशक होता है। नमक छिड़कने से दीमक चली जाती है। रुई को नमक के घोल में भिगोकर दीमक लगी हो वहाँ रखने से दीमक

उसे खाकर नष्ट हो जाती है।

 

नीम का तेल

 

नीम का तेल दीमक मिटाने के लिए एक सुरक्षित उपाय है। लकड़ी पर नीम का तेल नियमित अंतराल पर लगाने से दीमक समाप्त हो सकती

है। सीधे संपर्क में आने पर यह दीमक के खाने पीने की तथा अंडे देने की क्षमता नष्ट कर देता है जिसके काऱण धीरे धीरे दीमक समाप्त हो

जाती है।

 

डायटोमेशस अर्थ – DE

 

यह सफ़ेद रंग का पाउडर होता जिसे छिड़कने से दीमक मर जाती है। नियमित रूप से इसे छिड़कने से हर प्रकार  मकोड़े जैसे मकड़ी ,

कॉकरोच , चींटी , आदि दूर रहते हैं। यह दीमक की ऊपर सतह को छील देती है। जिससे वह सुखकर मर जाती है। जानवरों के बालों में पड़ने

वाले जीव भी इससे मिट जाते हैं। इसे काम में लेते समय मास्क पहन लेना चाहिए।

 

 

क्लिक करके इन्हे भी जानें और लाभ उठायें :

 

मच्छर से बचने के आसान घरेलु उपाय 

चूहे भगाने और रोकने के आसान उपाय 

खटमल से बचने के घरेलु उपाय 

मकड़ी के जाले होने से कैसे रोकें

कॉकरोच को रोकने के तरीके 

रद्दी पुराने अख़बार के शानदार उपयोग 

घर में ये औजार जरूर रखें कभी भी काम पड़ सकता है 

डस्ट माइट से एलर्जी की परेशानी से बचने के उपाय 

बिजली का बिल कम करने के आसान उपाय  

व्रत पूजन करने के तरीके और विधियां 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here