स्वप्नदोष का उपचार लेना चाहिए या नहीं – Swapandosh Cure

6404

स्वप्नदोष  Swapanadosh  वो प्रक्रिया है जिसमे नींद की अवस्था में वीर्यपात हो जाता है। इसे Wet Dreams भी कहते हैं। अक्सर युवकों को यौवन काल में प्रवेश करने के बाद नींद की अवस्था में वीर्यपात हो जाता है ।

क्या ये कोई बीमारी है ?  क्या इसका इलाज करवाना चाहिये  ? ये होता क्यों है ? आइये जाने स्वप्नदोष क्यों होता है । इसे समझें और संशय को दूर करें।

स्वप्नदोष क्या है और क्यों होता है

Swapndosh hone ke karan

जब पुरुष किशोरावस्था से यौवन काल में प्रवेश करता है तो शरीर में पुरुष हार्मोन टेस्टोस्टेरोन बनने शुरू हो जाते है। इस हार्मोन के बनने के बाद यौनांग कार्यशील हो जाते है। पुरुष का लिंग उन्नत होना , उसमे तनाव आना शुरू हो जाता है और शुक्राणु सक्रिय हो जाते है। यानी संतान उत्पन्न करने की क्षमता पैदा हो जाती है।

यौवन काल में प्रवेश करने के बाद स्त्री के प्रति आकर्षित होना , कामुक विचार आना , लिंग में तनाव होना आदि शुरू हो जाते है। लिंग उन्नत होना कभी भी हो सकता है। नहाते हुए , स्कूल में , टी वी देखते समय या थोड़ा भी कामुक विचार आने पर।

swapndosh

नींद की अवस्था में भी लिंग उन्नत हो सकता है। जब यौनांग सक्रिय होता है तो वीर्य बनना शुरू हो जाता है। ये वीर्य जिसमे शुक्राणु भी होते है नींद में स्खलित हो जाता है। इसे ही स्वप्नदोष कहते है।

अधिकतर कामुक सपना आकर वीर्यपात या स्खलन होता  है। हो सकता है जागने पर वो  सपना याद भी ना रहे । इंग्लिश में इसे Nocturnal emission और Wet Dreams  कहते है। कुछ लोग इसे Night Fall  के नाम से भी जानते है।

क्या स्वप्नदोष सबको होता है

swapndosh kisko hota  he

अधिकांश पुरुषों को नींद में वीर्यपात होता है पर ये जरूरी नहीं है की हर पुरुष को नींद में वीर्यपात हो । कुछ पुरुषों को पूर्ण स्वस्थ होते हुए भी इसका कभी अनुभव नहीं होता और किसी को सप्ताह में एक बार , किसी को दो सप्ताह में और किसी को महीने में एक बार ये हो सकता है। किसी किसी को पूरी जिंदगी में एक या दो बार ये होता है।

कुछ पुरुष हस्त मैथुन द्वारा वीर्य स्खलित कर देतें है तब स्वप्नदोष ( swapna dosh ) होने की सम्भावना कम हो जाती है। जब शादी के बाद सहवास द्वारा वीर्य स्खलित होता रहता है तो स्वप्नदोष होना बंद हो जाता है ।

लेकिन लम्बे समय तक सहवास नहीं करने पर शादीशुदा लोगों को भी स्वप्नदोष हो सकता है। अतः स्वप्नदोष या शीघ्र पतन जैसे शब्दों से घबराने की जरूरत नहीं है लेकिन इनके बारे में जानकारी जरूर होनी चाहिये। 

कृपया ध्यान दें :किसी भी लाल रंग से लिखे शब्द पर क्लिक करके उसके बारे में विस्तार से जान सकते है। 

स्वप्नदोष का उपाय – Home remedies for Wet dreams

swapnadosh ke gharelu nuskhe

कभी कभार नींद में वीर्यपात ( veerypat ) हो जाए तो फिक्र की कोई बात नहीं होती। लेकिन अक्सर या रोज ऐसा होने लगे तो कुछ परेशानी और कमजोरी महसूस हो सकती है। स्वप्नदोष की इस समस्या का समाधान आसानी से हो सकता है। देखें ये स्वप्न दोष ठीक करने के घरेलु उपाय ( swapnadosh ka gharelu ilaj upay ) –

ये तो आप जानते ही है कि यदि हम हमारे पसंद के किसी व्यंजन के बारे में बात करते है या विचार करते है तो हमारे मुंह में पानी आ जाता है। ये शरीर की एक स्वाभाविक प्रक्रिया है।

इसी तरह से यदि हम कामुक बातें करते है  , कामुक दृश्य देखते है या कामुक विचार करते है तो यौनांग सक्रिय होना और वीर्य बनना शुरू हो जाता है। ये भी एक स्वाभाविक प्रक्रिया है। वीर्य बनेगा तो किसी तरह से स्खलित भी होगा।

कामुकता से दूर रहेंगे तो ना वीर्य बनेगा ना नींद में स्खलित होगा। इस तरह कामुकता से दूरी बनाने से ही आधी समस्या का समाधान हो जाता है।

यदि कब्ज रहती है तो इस कारण से भी स्वप्नदोष हो सकता है। अतः कब्ज नहीं हो इसका ध्यान रखना चाहिए। तेज मिर्च मसाले वाला और गरिष्ठ भोजन ना लें। सुबह नहाते समय शिश्न penis को ठंडे पानी से धोकर साफ करें।

सोने से पहले हाथ मुँह ठंडे पानी से धो लें। सोने से पहले शौच या पेशाब आदि भी करके सोएँ। इसके अलावा नीचे बताये स्वप्नदोष के उपचार ( swapandosh ka upchar ) अपनाएँ । अवश्य लाभ होगा ।

—  सफेद मूसली का चूर्ण – 50 ग्राम , बहमन सफेद का चूर्ण – 50 ग्राम और इसबगोल की भूसी  – 20 ग्राम इन तीनो को मिला लें। ये सभी पंसारी के यहां मिल जाते है।

इस मिश्रण में से एक चम्मच चूर्ण लें , उसमे एक चम्मच पिसी हुई मिश्री मिला लें। इसे दूध के साथ सुबह शाम लेने से स्वप्न दोष बंद हो जाता है। सफ़ेद मूसली के बारे में विस्तार से जानने के लिए यहाँ क्लिक करें

सफेद मूसली

—  शीतल चीनी ( कबाब चीनी ) का चूर्ण 3 ग्राम ( लगभग आधा चम्मच ) सुबह शाम दो सप्ताह तक ठंडे पानी के साथ लेने से स्वप्न दोष ठीक हो जाता है। शीतल चीनी पंसारी से ले आएँ।

कबाब चीनी

—  बबूल का गोंद पीस कर एक चम्मच रात को एक कप पानी में भिगो दें। सुबह इसमें दो चम्मच पिसी हुई मिश्री मिलाकर पी लें। दो सप्ताह तक इसे लेने से स्वप्नदोष होना ठीक हो जाता है। ये बहुत लाभप्रद उपाय है।

—  दो तीन सप्ताह तक दिन में एक बार बबूल की नई कोमल पत्तियाँ लगभग 10 ग्राम अच्छे से चबा कर खाएँ। ऊपर से ठंडा पानी पी लें। स्वप्न दोष swapndosh से छुटकारा मिलेगा।

—  खाना खाने के दो घंटे बाद दो चम्मच गुलकंद कुछ दिनो तक लगातार खाने से स्वप्नदोष होना बंद होता है। गुलकंद घर पर बनाने की विधि जानने के लिए यहाँ क्लिक करें

गुलकंद

—  भोजन कम मिर्च मसाले वाला लें। भोजन के साथ एक गिलास छाछ नमक व भुना पिसा जीरा डालकर घूंट घूंट करके पिएँ। खाना खाने के बाद एक पका हुआ केला खाएँ। इस तरह कब्ज से और स्वप्नदोष  swapan dosh दोनों से छुटकारा मिल सकता है।

—  तरबूज के बीज समान मात्रा में  पिसी हुई मिश्री मिलाकर पीस लें। ये मिश्रण दो चम्मच सुबह शाम कुछ दिन खाने से स्वप्न दोष बंद होकर शरीर पुष्ट होता है।

—  रात को समय से सो जाएँ । समय से नहीं सोने से बाद में नींद नहीं आती और कामुक विचार आने शुरू हो सकते है। जो स्वप्नदोष का कारण बन जाते है ।

—   चाय अधिक पीते हो तो चाय पीना कम कर दें। सुबह चाय पीने से पहले एक कप ठंडे दूध में एक कप पानी और दो चम्मच पिसी हुई मिश्री डालकर फेंट कर पिएं। चाय पीनी हो तो इसके एक घंटे बाद पिएं। रात के समय गर्म चाय या गर्म दूध ना लें।

इन्हें भी जानें और लाभ उठायें :

वैसी वाली फिल्मों की सच्चाई / लिंग का आकार संतुष्टि यौन शक्ति बढ़ाने के नुस्खे / कैल्शियम की कमी दूर पिस्ता के फायदे  / सोने का तरीका बदलें  / जोड़ों के दर्द का उपचार / गुर्दे की पथरी घरेलु नुस्खे / चुकन्दर से शारीरिक शक्ति / प्रोटीन की कमी से समस्या / खून की कमी कैसे दूर करें  /

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here