मक्के की रोटी और सरसों का साग – Makke ki Roti Sarso ka Sag

मक्के की रोटी Makka ki Roti और सरसों का साग Sarso ka Sag इस नाम से पंजाब का ख्याल आता है। पंजाब से शुरू होकर अब यह स्वाद और खुशबू पूरे भारत में अपनी जगह बना चूका है। उत्तर भारत में (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

नीम्बू के छिलकों का अचार – Lemon Peel Achar

नीम्बू के छिलकों का अचार ? जी हाँ ! आपने सही पढ़ा है। नीम्बू के छिलकों से अचार Nimbu ke chhilke ka achar बनाया जा सकता है। यह अचार स्वादिष्ट व फायदेमंद होता है। इसे मठरी , परांठा ,थेपला , खाखरा , चावल , (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

नीम्बू का रस फ्रिज में कैसे प्रिजर्व करें – Lemon Juice Preservation

नीम्बू का रस काम आता रहता है , इसलिए हमेशा घर में होना चाहिये । नीम्बू का रस प्रिजर्व करके लम्बे समय तक फ्रिज में रखा जा सकता है। दाल , सब्जी आदि में डालना हो या शिकंजी बनानी हो और घर में (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

गाजर मटर की सब्जी कैसे बनायें – Gajar matra Ki Sabji

गाजर मटर की सब्जी एक फायदेमंद सब्जी है , यह सभी को पसंद आती है। रंग बिरंगी दिखने के कारण बच्चे भी इसे बहुत पसंद करते है। सर्दी के मौसम में ताजा हरे मटर और गाजर आसानी से मिल जाते हैं (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

नींबू का मीठा अचार कैसे बनायें – Lemon sweet pickle

नींबू का मीठा अचार  Nimbu ka mitha achar स्वादिष्ट लगने के साथ ही बहुत फायदेमंद भी होता है। यह अचार हाजमे के लिए अच्छा रहता है तथा भोजन को रूचिवर्धक बनता है। नींबू में कई प्रकार के विटामिन और खनिज तत्व (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

बाजरे की खिचड़ी बनाने का तरीका – Bajre ki khichdi

बाजरे की खिचड़ी Bajre ki khichdi  सर्दियों में बनाकर खाई जाती है। बाजरा एक लाभदायक अनाज है जो राजस्थान में विशेष रूप से उगाया जाता है। बाजरे की तासीर Bajre ki tasir गर्म होती है। अंग्रेजी भाष में इसे पर्ल मिलेट Pearl Millet कहते (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

तड़का बघार छौंका के तरीके और फायदे – Tadka benefits

तड़का Tadka लगा कर दाल या सब्जी में स्वाद , सुगंध और गुणों को बढ़ाया जाता है। इसे छौंका , बघार या वगार लगाना भी कहते हैं। पूरे भारत भर में तड़का लगाने का चलन है। तड़के में अलग अलग स्थान पर (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

चाशनी कैसे और कितने तार की बनायें – Chashni kaise kitne tar ki

चाशनी Chashni  बनाने की जरुरत रसोई में पड़ती रहती है। चीनी में पानी मिलाकर गर्म करने से पूरी चीनी घुलने और उबलने पर जो घोल तैयार होता है , उसे ही चाशनी कहते हैं। कई प्रकार के व्यंजन और मिठाई बनाने (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

खजूर ड्राई फ्रूट रोल बना कर परिवार को फिट रखें – Khajoor Dry fruit Roll

खजूर ड्राई फ्रूट रोल पार्टी , किटी पार्टी , क्रिसमस , न्यू ईयर पार्टी या किसी भी अवसर पर बनाये जा सकते हैं। ये पौष्टिक भी हैं और स्वादिष्ट भी। बच्चों के स्कूल टिफिन में भी रख सकते हैं। इनसे खजूर (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

कुकर केक बिना अंडे का स्पंजी और टेस्टी – Cooker Cake Eggless Spongee

कुकर में केक अच्छा , स्वादिष्ट और स्पंजी आसानी से बन सकता है वो भी बिना अंडा का केक। केक सभी को पसंद आते हैं विशेषकर बच्चों को । घर पर केक बनाने की इच्छा भी सभी की होती है। माइक्रोवेव या (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

राबोड़ी की सब्जी कैसे बनती है – Rabodi Ki Sabji Recipe

राबोड़ी की सब्जी Rabodi ki sabji एक स्वादिष्ट और पौष्टिक सब्जी है क्योंकि यह गेहूं या मक्का के आटे से बनी होती है। इससे गेहूं और मक्का के लाभदायक तत्वों के फायदे मिल जाते हैं। यह राजस्थान की लोकप्रिय स्पेशल सब्जी में से एक है। (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

राबोड़ी पापड़ बनाने का तरीका – Rabodi Papad ki recipe

राबोड़ी पापड़ की सब्जी राजस्थान की पारम्परिक सब्जी हैं। यह तुरंत बनने वाली सब्जी हैं। आजकल समय की कमी सबको महसूस होती है। बाजार में मिलने वाले खाने की गुणवत्ता पर संदेह बना रहता है और यह पेट को नुकसान (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

मुरमुरे के लडडू व चिक्की कैसे बनायें – Murmure ke laddu chikki

मुरमुरे के लडडू व मुरमुरा चिक्की सर्दी के मौसम के लाभदायक स्नेक्स में से एक है। गुड़ से बनी होने के कारण यह आयरन का अच्छा सोत्र है। इसे सभी पसंद करते हैं खासकर छोटे बच्चों को यह मुरमुरा लडडू बहुत पसंद आते हैं। अलग अलग (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

ग्वारपाठे के लडडू बनाने की विधि – Aloe vera ke Laddu

एलोवेरा लड़डू सर्दियों में बनाये जाते है। यह लाभदायक और पौष्टिक नाश्ता हैं। जोड़ दर्द व गठिया की बीमारी में यह बहुत लाभदायक होते हैं। एलोवेरा का लड्डू महिलाओं के लिए  फायदेमंद है। ये महिलाओं की हर तरह की कमजोरी (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

तिल गुड़ के लडडू बनाने की विधि – Til gud ke laddu ki vidhi

तिल गुड़ के लडडू सर्दी के मौसम में खाये जाने वाली परंपरागत मिठाई है। मकर संक्रांति के त्यौहार के लिये इन्हे विशेष रूप बनाया जाता है । ये स्वादिष्ट और पौष्टिक होने के साथ ही शरीर को तेज सर्दी से बचाते हैं। तिल (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

हरे मटर के फायदे और नुकसान – Green Peas Benefits

हरे मटर सर्दी में मिलने वाली एक मुख्य सब्जी है। वैसे तो पूरे साल फ्रोजन मटर उपलब्ध हो जाते हैं लेकिन ताजे मटर सर्दी में ही आते हैं। मटर की खेती दुनिया भर में की जाती है। हरे या सूखे मटर (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

मक्का के ढ़ोकले बनाने के विधि – Makka ke Dhokle

मक्का के ढ़ोकले के नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है और जिसने कभी नहीं खाए है तो एक बार अवश्य बनाकर खाये और खिलाए। सर्दियों में सुपाच्य , स्वादिष्ट और पौष्टिक होता है। आइये जानते है इन्हे बनाने का तरीका (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

मक्का की घाट बनाने का तरीका – makka ki ghat

मक्का की घाट बहुत पौष्टिक होती है। यह मक्का के दलिये से बनाई जाती है। उत्तर भारत में यह बहुत पसंद की जाती है। यह राजस्थान का पारम्परिक व्यंजन हैं। इसे गर्म व ठंडा अपनी पसंद के अनुसार खाया जा सकता है। (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

पत्ता गोभी के ऐसे फायदे जो किसी सब्जी में नहीं – Cabbage benefits

पत्ता गोभी Patta Gobhi और फूलगोभी इन दोनों सब्जी की सर्दी के मौसम में बहार सी छा जाती है। सब्जी मंडी में मुख्य रुप से ये ही सब्जी नजर आती है। सब्जी वाले इन्हे बड़े ही करीने से सजाकर रखते हैं। मौसम की सब्जी वैसे (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

सरसों के पत्ते पोषक तत्व फायदे और नुकसान – Sarson leaf benefits

सरसों के पत्ते sarson ke patte  की सब्जी यानि सरसों का साग और मक्के की रोटी पंजाब में तो चाव से खाई ही जाती है। अब इसका स्वाद देश विदेश तक फ़ैल चुका है। सरसों के पीले खेत का नजारा मन मोह (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

फल सब्जी ख़राब होने से कैसे बचायें – Fruits and vegetables keeping

फल सब्जी ख़राब होने से बचाने के लिए हमें इनकी प्रकृति के बारे में थोड़ी जानकारी होनी चाहिए । टोकरी में एक ख़राब फल सारे फल ख़राब कर देता है। एक ख़राब केला , सेब , आम या अमरुद उसके आसपास (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

फूलगोभी के फायदे उठायें आई क्यू लेवल बढ़ायें – Cauliflower

फूलगोभी Cauliflower सर्दी में आने वाली एक लाभदायक पौष्टिक सब्जी है। दुनिया भर में इसे बड़े चाव से खाया जाता है। अधिकतर यह सफ़ेद रंग में दिखाई पड़ती है पर यह अन्य रंग जैसे बैगनी या ऑरेंज कलर में भी उपलब्ध हो (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

सिंघाड़े के आटे का हलवा – Singhare ke aate ka halwa

सिंघाड़े का हलवा Singhade ka halva सूखे सिंघाड़े को पीस कर उस आटे से बनाया जाता है। सिंघाड़े के आटे से अन्य कई व्यंजन बनाये जा सकते हैं। जैसे  सिंघाड़े के आटे हलवा singhade ke aate ka halwa , सिंघाड़ा कतली singhara Katli , सिंघाड़े (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

काले चने बनाने की विधि नवरात्री वाले – Kale Chane ki recipe

काले चने kale chane सब्जी या स्नेक्स की तरह खाये जा सकते हैं। नवरात्री में काले चने और सूजी का हलवा बना कर माता को भोग लगाया जाता है। ये बच्चों को भी बहुत पसंद आते हैं। प्रोटीन , विटामिन और खनिज (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

सूजी का हलवा स्वादिष्ट बनाने की विधि – Suji ka halwa

सूजी का हलवा  Suji ka halwa जल्दी बनने वाली एक अच्छी मिठाई है। इसे बनाना भी आसान है। नवरात्रि में दुर्गा माता को सूजी के हलवे का भोग लगाया जाता है। इसके अलावा  Suji ka halwa पूजा के कई अवसरों पर जैसे दशहरा (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

आलू का चिल्ला व्रत के लिए झटपट – Potato chilla instant

आलू का चिल्ला aaloo ka chilla  तुरन्त बनने वाला नाश्ता हैं। व्रत में खाये जा सकने वाले आहार में से एक स्वादिष्ट व्यंजन है। क्रिस्पी आलू का चिल्ला व्रत में दही , सागारी धनिया चटनी या टमाटर की चटनी के साथ खा सकते (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

साबूदाना खिचड़ी खिली खिली बनाने की विधि – Sabudana Khichdi Vidhi

साबूदाना खिचड़ी Sabudane ki khichdi व्रत के समय पसंद किये जाने वाले फलाहार में सबसे ज्यादा लोकप्रिय है। साबूदाना कार्बोहाइड्रेट से भरपूर होता है इसलिए इसे खाने से व्रत के समय कमजोरी महसूस नहीं होती साथ ही इसमें मूंगफली दाना होने (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

किशमिश रोजाना खाने से क्या लाभ होते हैं – Raisins Benefits

किशमिश Raisins का मेवों में एक महत्त्वपूर्ण स्थान होता है। बच्चे भी इन्हे बहुत पसंद करते है। कई प्रकार के भोजन में इनका उपयोग किया जाता है। विशेषकर मिठाई में इन्हे डाला जाता हैं। सूजी का हलवा , खीर तथा और (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

बेसन के लड्डू बनाने की विधि – Besan ke laddu

बेसन के लड्डू Besan ke laddu गणेश जी को भोग लगाने के लिए बनाये जाते हैं। गणेश जी को लाडू प्रिय होते हैं। गणेश चतुर्थी पर  विशेष रूप से बनाये हैं। अन्य त्यौहार जैसे दिवाली वगैरह पर भी इन्हे बनाया जा (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )

मशरूम खाने के फायदे और नुकसान – Mushroom Benefits and caution

मशरूम Mushroom सब्जी की तरह खाने में काम लिया जाता है। इसे कुम्भी Kumbhi भी कहा जाता है। बारिश के मौसम में ये अपने आप उग आते है। यह एक प्रकार की फंगी Fungi यानि कवक है। इसे कुकुरमुत्ता भी कहा (……यहाँ क्लीक करके पूरा पढें )